--Advertisement--

MeToo अपडेट / नाना को समन देने से पहले गवाह के बयान होंगे रिकॉर्ड, कंगना ने ऋतिक को भी घसीटा

MeToo कैम्पेन के चलते बॉलीवुड, टेलीविजन, क्रिकेट सहित अब तक 10 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।

special committee has instituted by producers guild to make workplace safe
special committee has instituted by producers guild to make workplace safe
special committee has instituted by producers guild to make workplace safe
X
special committee has instituted by producers guild to make workplace safe
special committee has instituted by producers guild to make workplace safe
special committee has instituted by producers guild to make workplace safe

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2018, 07:01 PM IST

बॉलीवुड डेस्क.  Metoo कैम्पेन ने असर दिखाना शुरू कर दिया है। जहां कंगना ने दोबारा ऋतिक पर निशाना लगाया तो वहीं तनुश्री दत्ता के नाना पाटेकर के खिलाफ एफआईआर करने के बाद बुधवार रात ओशिवारा पुलिस थाने में 45 मिनट तक उनके बयान दर्ज किए गए। पुलिस के अनुसार नाना एफआईआर के बाद नाना के खिलाफ सम्मन जारी किया जाएगा, लेकिन उसके पहले चश्मदीद गवाहों के बयान भी दर्ज किए जाएंगे। 

 

10 साल पुराना मामला : पुलिस का कहना है कि यह मामला 2008 का है। तनुश्री और नाना उस वक्त हॉर्न ओके प्लीज की शूटिंग कर रहे थे। तनुश्री ने इस मामले में गणेश अाचार्य, समी सिद्दीकी और राकेश सारंग का नाम भी शामिल किया है। इन पर आईपीसी की धारा 354 और 509 के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। हालांकि खबरें हैं कि पुलिस डेजी शाह का बयान ले सकती है। 

 

कंगना ने कहा बायकाट करो : एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कंगना ने कहा- इंडस्ट्री में ऐसे भी लोग हैं जो को झूठे वादे करके, शादी और काम का लालच देकर रिलेशन बनाते हैं। यह भी हैरसमेंट ही है। ये लोग अपनी बीवियों को ट्रॉफी की तरह रखते हैं और नई लड़की से रिश्ता बनाते हैं,  उससे शादी का झूठा वादा करते हैं। कंगना ने ऋतिक रोशन का नाम लेते हुए कहा- "हां, मैं उनके बारे में ही बात कर रही हूं। किसी को भी उनके साथ काम नहीं करना चाहिए। बल्कि एेसे लोगों को इंडस्ट्री से बायकाट कर देना चाहिए। "

 

 

आमिर नहीं करेंगे आरोपी संग काम : MeToo कैम्पेन ने गुलशन कुमार की बायोपिक को भी प्रभावित कर दिया है। इस फिल्म को आमिर खान प्रोड्यूस करने वाले थे लेकिन, हाल ही में उनके द्वारा जारी किए स्टेटमेंट के बाद फिल्म का भविष्य खतरे में दिख रहा है। आमिर ने लिखा है कि वे सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोपों में घिरे किसी भी व्यक्ति के साथ काम नहीं करेंगे।

 

इशारा था मोगुल की तरफ :  आमिर ने अपने स्टेटमेंट में न तो किसी फिल्म का नाम लिया था ना ही किसी डायरेक्टर का। लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि उनका इशारा कूपर की तरफ है जो कि मोगुल को डायरेक्ट करने वाले थे। 6 साल पहले डायरेक्टर सुभाष पर गीतिका व्यास ने हैरेसमेंट के अाराेप लगाए थे। 


प्रोड्यूसर्स ने हटाया सुभाष को : मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रोड्यूसर भूषण कुमार ने सुभाष से फिल्म छोड़ने के लिए कहा है। अब सुभाष का मोगुल में काम करना मुश्किल दिखता है। टी-सीरीज जल्द ही मोगुल के डायरेक्टर का रिप्लेसमेंट बताएगी क्योंकि वे आमिर को नहीं खोना चाहते हैं।सुभाष ने कहा-' मैं आमिर और किरण राव के निर्णय का सम्मान करता हूं। यह मामला अदालत में चल रहा है, मैं अपनी बेगुनाही वहीं साबित करुंगा। 

 

यह था सुभाष का केस : 2012 में एक्ट्रेस गीतिका त्यागी ने सुभाष कपूर पर सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोप लगाए थे। इस घटना से जुड़ा एक वीडियो भी वायरल हुआ था। वीडियो में गीतिका सुभाष कपूर को थप्पड़ मारते हुए नजर आ रहीं थीं। गीतिका की शिकायत के बाद सुभाष कपूर अरेस्ट हो गए थे। हालांकि उन्हें बाद में जमानत मिल गई थी।

 

 

 

कमेटी करेगी निगरानी : प्रोड्यूसर्स गिल्ड ने महिला उत्पीड़न मामलों की सुनवाई के लिए 12 सदस्यों की कमेटी बनाई है। इस कमेटी में आमिर की पत्नी किरण राव, अपूर्वा मेहता, एकता कपूर, फाजिला अलाना, ज्योति देशपांडे, कुलमीत मक्कड़, मधु भोजवानी, प्रीति शाहानी, रोहन सिप्पी, विजय सिंह और सिद्धार्थ राय कपूर शामिल हैं। प्रोड्यूसर स्नेहा राजानी को इस कमेटी हेड बनाया गया है।

--Advertisement--
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..