--Advertisement--

बारात से पहले पहुंची पुलिस नहीं हुई मिथुन के बेटे मिमोह की शादी, होटल छोड़कर गया दुल्हन का परिवार

मुहूर्त से पहले तक मदालसा के परिवार ने खुलासा नहीं किया कि शादी होगी या नहीं। हालांकि मिमोह काे अग्रिम जमानत मिल गई है।

Danik Bhaskar | Jul 08, 2018, 11:38 AM IST

बॉलीवुड डेस्क. भोजपुरी एक्ट्रेस से दुष्कर्म और बिना सहमति गर्भपात कराने के मामले में फंसे मिमोह की शादी पुलिस टीम के पहुंचने से टल गई। शनिवार 7 जुलाई को मिथुन चक्रवर्ती के बेटे मिमोह और साउथ एक्ट्रेस मदालसा शर्मा की शादी की रस्में ऊटी में होनी थीं। लेकिन ऐन मौके पर पुलिस ने होटल जाकर कि मिमोह और उनकी मां योगिता बाली से आरोपों को लेकर पूछताछ की। शादी से पहले पुलिस के पहुंचने के चलते दुल्हन मदालसा का परिवार होटल छोड़कर चला गया।

यह था मामला : भोजपुरी फिल्मों की एक्ट्रेस की अर्जी पर दिल्ली के रोहिणी कोर्ट ने सोमवार को मिमोह पर दुष्कर्म, गर्भपात कराने और धोखाधड़ी और योगिता बाली के खिलाफ धमकी के मामले में एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया था। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

- शनिवार को दिल्ली की अदालत से दोनों आरोपियों को अग्रिम जमानत दे दी थी। इससे पहले आरोपियों ने गिरफ्तारी पर रोक के लिए बॉम्बे हाईकोर्ट में अर्जी लगाई थी, पर कोर्ट ने राहत देने से इनकार कर दिया।

मिमोह ने दिया था शादी का झांसा : एक्ट्रेस का आरोप है कि मिमोह से उसकी पहली मुलाकात 2015 में हुई थी। इसके बाद उनके बीच फोन पर बात होने लगी। एक दिन मिमोह ने उसे फिल्म में रोल दिलाने की बात कहते हुए फ्लैट पर बुलाया। यहां धोखे से ड्रिंक्स में नशीला पदार्थ पिलाने के बाद दुष्कर्म किया। विरोध करने पर उसने शादी करने का वादा किया। इसके बाद 3 साल में कई बार शारीरिक संबंध बनाए। गर्भवती होने पर कुछ टेबलेट भी खिलाईं। कुंडली मिलाने के नाम पर मिमोह ने कई बार गुमराह किया।

- जून में पता चला कि मिमोह की शादी दूसरी लड़की से हो रही है। उससे संपर्क करने की कोशिश की, पर उसने नंबर ब्लॉक कर दिया।

- पीड़ित ने कई बार मिथुन से शिकायत करने की कोशिश की, लेकिन उनकी पत्नी ने धमकियां देकर चुप करा दिया।

मिमोह के वकील ने कहा- लिव-इन रिलेशन खत्म होने के बाद का मामला : मिमोह को शनिवार शाम दिल्ली के रोहिणी कोर्ट से एंटीसिपेटरी बेल मिली थी। इस दौरान उनकी वकील प्रियंका कृपाशंकर दुबे ने कहा था कि शिकायतकर्ता एक्ट्रेस को अपनी दलीलें ही उलटी पड़ गईं। बकौल प्रियंका, "दरअसल पूरा मामला सिंपल लिव इन रिलेशनशिप का था। शादी नहीं हुई तो रिलेशनशिप खत्‍म होने के दो साल बाद मेरे क्‍लाइंट को परेशान किया जाने लगा। WhatsApp मैसेज में दोनों मूव ऑन होने के मैसेज कर चुके थे। उसके दो साल बाद जून में शिकायतकर्ता ने मेरे क्‍लाइंट पर धोखाधड़ी का आरोप मढ़ दिया।"

- प्रियंका के मुताबिक, शिकायतकर्ता ने धारा 313 का हवाला देते हुए कहा कि उनका अबॉर्शन करवाया गया था। वह भी दो-तीन साल पहले। तो उन्‍होंने उसकी शिकायत उस वक्‍त क्यों नहीं की। दूसरी चीज यह कि अगर मिमोह ने उनका रेप किया तो वे उनके साथ तीन साल रहीं क्यों? इतना सब होने के बाद भी शिकायतकर्ता मिमोह के साथ शादी क्यों करना चाहती हैं?

- प्रियंका की मानें तो शिकायतकर्ता वॉट्सऐप मैसेज कर शादी न करने के लिए धमकियां भी दे रही थी।

पीड़िता के वकील ने कहा- दिल्ली हाई कोर्ट में करेंगे अपील: पीड़िता के वकील नीरज गुप्‍ता ने कहा कि वे फैसले की कॉपी पढ़ रहे हैं। उसके बाद सोमवार को दिल्ली हाई कोर्ट में अपील की जाएगी। तब