--Advertisement--

कंट्रोवर्सी / चार सदस्यीय समिति ने लिया फैसला, उत्तराखंड के 7 जिलों में फिल्म केदारनाथ बैन



movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
X
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand
movie Kedarnath banned in seven districts of Uttarakhand

  • फिल्म केदारनाथ देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल, उधम सिंह नगर, पौड़ी, टहरी और अल्मोड़ा में रिलीज नहीं हुई है
  • अभिषेक कपूर के डायरेक्शन में बनीं फिल्म केदारनाथ, 2013 में अाई त्रासदी के बैकड्राॅप पर बनी है

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 02:03 PM IST

बॉलीवुड डेस्क.  शूटिंग के समय से ही विवादों में घिरी चल रही फिल्म केदारनाथ शुक्रवार को उत्तराखंड के 7 जिलों में रिलीज ही नहीं हुई। लॉ एंड ऑर्डर एडीजी उत्तराखंड, अशोक कुमार ने इस बात की पुष्टि की है। पीटीआई की खबर के अनुसार नैनीताल के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट विनोद केआर सुमन ने भी हरिद्वार, उधम सिंह नगर और देहरादून में फिल्म केदारनाथ पर बैन लगाने की घोषणा की। 

टूरिज्म मिनिस्टर ने लिया फैसला

  1. उत्तराखंड सरकार के टूरिज्म मिनिस्टर आैर फिल्म से जुड़ी शिकायतों को हल करने बनाई गई चार सदस्यीय कमेटी के प्रमुख सतपाल महाराज ने एजेंसी को दिए इंटरव्यू में कहा-  हमने हर जिला मजिस्ट्रेट से शांति बनाए रखने के लिए कहा और हर किसी ने फैसला किया है कि केदारनाथ फिल्म पर प्रतिबंध लगा दिया जाना चाहिए।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने खारिज की याचिका

  1. रिलीज से एक दिन पहले ही बॉम्बे हाईकोर्ट ने रमेश चंद्र मिश्रा और प्रभाकर त्रिपाठी द्वारा दायर की गई याचिका को खारिज कर दिया। याचिका में मांग की गई थी कि सीबीएफसी फिर से फिल्म की समीक्षा करे, क्योंकि यह फिल्म धार्मिक भावनाओं को आहत करती है और लवजिहाद को बढ़ावा देती है। 

बीजेपी कार्यकर्ता ने भी किया था विरोध

  1. उत्तराखंड की बीजेपी मीडिया रिलेशन टीम के सदस्य अजेन्द्र अजय ने सीबीएफसी को पत्र लिख कर फिल्म को बैन करने की मांग की थी। अजय ने कहा था कि सबसे दुर्भाग्य पूर्ण मानव त्रासदी के बैकड्रॉप में डायरेक्टर अभिषेक कपूर ने लव स्टोरी बनाकर हिन्दू भावनाओं का मजाक उड़ाया है।  

पहले पुजारियों ने किया विरोध

  1. अजय की शिकायत से पहले फिल्म केदारनाथ के टीजर लॉन्च के बाद केदारनाथ तीर्थ के पुरोहितों ने इस फिल्म को लेकर कड़ी आपत्ति जताई थी। पंडितों का कहना है कि यह फिल्म हिंदू धर्म की भावनाओं को ठेस पहुंचाती है इसलिए इस पर बैन लगाया जाना चाहिए।

शूटिंग के वक्त भी हुआ था विरोध

  1. केदारनाथ में पुजारियों के संगठन केदार सभा के चेयरमैन विनोद शुक्ला भी विरोध कर चुके हैं। उनका कहना था यह फिल्म लव जिहाद को बढ़ावा देती है और इससे हिंदू भावनाएं आहत हो रही हैं। अगर फिल्म को बैन नहीं किया गया तो वे आंदोलन करेंगे। शुक्ला ने कहा कि पुजारियों ने उस वक्त भी कड़ा विरोध किया था, जब केदारनाथ के पास इस फिल्म के अश्लील गाने की शूटिंग की गई थी।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..