क्रिस्टल अवॉर्ड्स / दीपिका मेंटल हेल्थ अवेयरनेस के लिए सम्मानित, कहा- कभी खुद डिप्रेशन से घिरी थी, फिर सोचा कुछ करना चाहिए

स्विटजरलैंड के दावोस में 26वें क्रिस्टल अवॉर्ड्स सेरेमनी का आयोजन हुआ।
दीपिका पादुकोण को मेंटल हेल्थ अवेयरनेस के लिए सम्मानित किया गया। दीपिका पादुकोण को मेंटल हेल्थ अवेयरनेस के लिए सम्मानित किया गया।
दीपिका ने अपने एनजीओ लिव, लव एंड लाफ फाउंडेशन के बारे में बताया। दीपिका ने अपने एनजीओ लिव, लव एंड लाफ फाउंडेशन के बारे में बताया।
रणवीर ने दीपिका की इस उपलब्धि पर लिखा- अद्भुत, तुमने मुझे गौरवांवित किया। रणवीर ने दीपिका की इस उपलब्धि पर लिखा- अद्भुत, तुमने मुझे गौरवांवित किया।
X
दीपिका पादुकोण को मेंटल हेल्थ अवेयरनेस के लिए सम्मानित किया गया।दीपिका पादुकोण को मेंटल हेल्थ अवेयरनेस के लिए सम्मानित किया गया।
दीपिका ने अपने एनजीओ लिव, लव एंड लाफ फाउंडेशन के बारे में बताया।दीपिका ने अपने एनजीओ लिव, लव एंड लाफ फाउंडेशन के बारे में बताया।
रणवीर ने दीपिका की इस उपलब्धि पर लिखा- अद्भुत, तुमने मुझे गौरवांवित किया।रणवीर ने दीपिका की इस उपलब्धि पर लिखा- अद्भुत, तुमने मुझे गौरवांवित किया।

  • स्विटजरलैंड के दावोस में 26वीं क्रिस्टल अवॉर्ड सेरेमनी हुई, सम्मान पाने वाली दीपिका अकेली भारतीय अभिनेत्री
  • हर 40 सेकंड में दुनिया के किसी न किसी कोने में अवसाद से किसी व्यक्ति की जान जाती है- दीपिका

दैनिक भास्कर

Jan 21, 2020, 03:13 PM IST

बॉलीवुड डेस्क. वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम द्वारा 26वें क्रिस्टल अवॉर्ड्स में दीपिका पादुकोण को सम्मानित किया गया। यह अवॉर्ड उन्हें मेंटल हेल्थ अवेयरनेस के लिए दिया गया। स्विटजरलैंड के दावोस में हुए समारोह के दौरान इस अवॉर्ड को पाने वाली दीपिका एकमात्र भारतीय अभिनेत्री रहीं। उन्होंने कहा कि मैं भी कभी अवसाद से घिरी थी, फिर सोचा कि किसी की जान बचाने के लिए कुछ करना चाहिए।

हर 40 सेकंड में डिप्रेशन से जाती है जान- दीपिका

दीपिका ने कहा, "यह अवॉर्ड मेरे लिए बहुत बड़ा है। जब मैं यह सम्मान ले रही हूं, उस दौरान भी किसी का पिता, भाई, सहयोगी, मां या दोस्त सुसाइड से अपनी जान गंवा चुका होगा। हर 40 सेकंड में दुनिया के किसी कोने में कोई न कोई इंसान अवसाद के कारण सुसाइड करता है। 15 फरवरी 2014 को मैंने खुद को अवसाद से घिरा पाया। मैं लगातार रोती जा रही थी। हर सुबह यही सोचती थी कि मैं खत्म हो गई हूं। एन्जाइटी और डिप्रेशन दूसरी बीमारियों की तरह ही हैं। जागरुकता की कमी के कारण ही मेरी यह हालत हुई थी, जिसके बाद मैंने सोचा कि कुछ ऐसा करूं जिससे कम से कम एक जान बचा सकूं।"

दीपिका ने बताया, "लिव, लव एंड लॉफ फाउंडेशन के जरिए दूसरे लोगों को इन परेशानियों से निजात दिलाई जाती है। 11 शहरों के स्कूलों में इसके जरिए अवेयरनेस प्रोग्राम भी चलाए गए। मानसिक स्वास्थ्य के लिए देशभर में इसके कैम्पेन चलाए जा रहे हैं।" दीपिका ने अपनी स्पीच के आखिर में मार्टिन लूथर किंग का विचार साझा किया और कहा- इस दुनिया में जो कुछ भी होता है, वह उम्मीद के चलते ही संभव है।

रणवीर ने कहा- तुमने मुझे गौरवान्वित किया

दीपिका ने अवॉर्ड के साथ अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की थी। रणवीर सिंह ने इस पर कमेंट किया, "अद्भुत, तुमने मुझे गौरवांवित किया।" रणवीर और दीपिका इंडियन क्रिकेट टीम की 1983 वर्ल्ड कप जीत पर बन रही फिल्म '83' में नजर आएंगे।

छपाक में नजर आई थीं दीपिका

दीपिका की फिल्म छपाक जनवरी में ही रिलीज हुई है। एसिड अटैक सर्वाइवर्स पर बनी फिल्म में लक्ष्मी अग्रवाल की लाइफ स्टोरी बताई गई है। फिल्म का डायरेक्शन मेघना गुलजार ने किया है। यह दीपिका के प्रोडक्शन में बनी पहली फिल्म है, जिसने 11 दिनों में 32 करोड़ का बिजनेस किया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना