• Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Kalia Sholay: English Taye Taye Phis, Film New Year 2020 Released Announcement Updates; Kalia Sholay Hindi film "English Taaye Taaye fisss" will be released on New Year 2020

अपकमिंग / ‘शोले’ के कालिया की आखिरी हिंदी फिल्म ‘इंग्लिश की टांय टांय फिस्स’ नए साल पर होगी रिलीज

Kalia Sholay: English Taye Taye Phis, Film New Year 2020 Released Announcement Updates; Kalia Sholay Hindi film
X
Kalia Sholay: English Taye Taye Phis, Film New Year 2020 Released Announcement Updates; Kalia Sholay Hindi film

दैनिक भास्कर

Dec 31, 2019, 08:00 AM IST

बॉलीवुड डेस्क. ‘शोले’ के कालिया मतलब विजू खोटे की आखिरी हिंदी फिल्म ‘इंग्लिश की टांय टांय फिस्स’ नए साल पर रिलीज होने जा रही है। बीमारी के चलते विजू खोटे का मुंबई में 30 सितंबर, 2019 को 77वर्ष की उम्र में निधन हो गया था। फिल्म ‘शोले’ के संवाद ‘सरदार मैंने आपका नमक खाया है’ से लोकप्रिय हुए विजू ने टीवी धारावाहिक ‘जुबान संभाल के’ से भी प्रसिद्धि पाई। बहरहाल, उनकी आखिरी फिल्म ‘इंग्लिश की टांय टांय फिस्स’ आने वाली है। यह नए साल के पहले सप्ताह में 3 जनवरी, 2020 को रिलीज होगी।

फिल्म का डायरेक्शन शैलेंद्र सिंह राजपूत और निर्माण संजीत कुमार ठाकुर और शिव प्रसाद शर्मा ने किया है, जबकि फिल्म में अभिनय रोहित कुमार, लेसन करिमोवा, डेविड जोन्स और ऐश्वर्या तापड़िया, चंदन गुप्ता ने किया है। फिल्म में विजू खोटे के साथ ही गोविंद नामदेव, मनोज जोशी, मुश्ताक खान, राजपाल यादव, सुनील पाल भी महत्वपूर्ण भूमिका में नजर आएंगे।


फिल्म की कहानी गांव सुंदरपुर की है, जिसके सरपंच सज्जन सिंह हमेशा अपने गांव को एक आदर्श गांव बनाने का सपना देखा था। लेकिन कुछ परिस्थितियों के कारण वह अपने सपनों को पूरा नहीं कर पाता है। मुख्य कारण हुकुमसिंह था, जिसका एक अवैध शराब का धंधा था और वह सरपंच बनना चाहता था। एक दिन, सज्जन सिंह का बेटा शिवम अपनी पढ़ाई पूरी करके विदेश से अपने गांव लौट रहा था, तब उसे अपने पिता के सपनों के बारे में पता चला। उस सपने को पूरा करने के लिए उन्होंने अपने दोस्त हैरी को विदेश से बुलाया। हैरी अपनी बहन एमिली के साथ सुंदरपुर पहुंचे। गांव में हर कोई उनका स्वागत करता है। हुकुम सिंह के बेटे विक्रम को एमिली पर क्रश हो गया। शिवम ने सभी को बताया, हैरी अपनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म के लिए वहां आया है। यह सुनकर गांव का हर एक व्यक्ति सज्जन सिंह के स्थान पर एकत्रित हो गया। इसके बाद शिवम ने स्वच्छ और आदर्श गांव की ओर अपना रास्ता बनाया। इस प्रयास में, शिवम सफल होते हैं और उनके गांव को आदर्श और स्वच्छ गांव के रूप में सम्मानित किया जाता है। फिलहाल फिल्म काफी समय से बनकर तैयार है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना