--Advertisement--

#MeToo :स्क्रिप्ट में कहीं नहीं था रेप सीन, डायरेक्टर ने अचानक शूटिंग के समय 19 साल की एक्ट्रेस से कहा - रेप सीन देना होगा, इसे देख फिल्मी दुनिया के लोगों ने भी कहा - ये तो रियल रेप था

44 साल बाद डायरेक्टर ने बताई असली बात तो लोगों ने कहा - इसे जेल में डालो

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 08:58 PM IST

लॉस एंजिलिस. बॉलीवुड में इन दिनों #MeToo कैंपेन चर्चा का विषय बना हुआ है। कई फीमेल सेलिब्रिटी इस मामले में अपने साथ हो चुके सेक्शुअल हैरेसमेंट की घटना का खुलासा कर चुकी हैं। क्या आप जानते हैं कि हॉलीवुड एक्ट्रेस मारिया श्नाइडर के साथ 46 साल पहले रिलीज हुई फिल्म 'लास्ट टैंगो इन पेरिस' के दौरान एक सीन के दौरान रेप जैसी ही घटना हुई थी। 1972 में रिलीज हुई यह फिल्म 2016 में अचानक से विवादों में आ गई थी। दरअसल, फिल्म के डायरेक्टर बर्नार्डो बेर्तोलुची ( Bernardo Bertolucc) ने एक इंटरव्यू के दौरान यह स्वीकार किया था कि उन्होंने फिल्म का रेप सीन लीड एक्ट्रेस मारिया श्नाइडर की मर्जी के बगैर शूट किया था। डायरेक्टर के मुताबिक, सीन को रीयलिस्टिक बनाने के लिए उन्होंने ऐसा किया। मारिया को लगा था, जैसे उनका सच में रेप हो गया...

बेर्तोलुची का कहना था कि रेप सीन उन्होंने एक्टर मार्लोन ब्रांडो के साथ डिस्कस किया था। हालांकि, यह प्लान उन्होंने मारिया के आगे रिवील नहीं किया। इतना ही नहीं, बेर्तोलुची के मुताबिक सीन का आइडिया भयानक था। लेकिन उन्हें इसका कोई पछतावा नहीं है। वहीं, 2007 में एक इंटरव्यू में मारिया ने स्वीकार किया था कि उनका रेप सच में नहीं हुआ था। लेकिन वे खुद को रेप विक्टिम की तरह फील कर रही थीं। मारिया ने बताया था, "सीन ओरिजिनल स्क्रिप्ट का हिस्सा नहीं था। सच्चाई यह है कि यह मार्लोन का आइडिया था। उन्होंने मुझे ऐन मौके पर तब बताया, जब हम सीन को शूट करने गए। मुझे गुस्सा भी आया था।

मारिया ने यह भी कहा था, "मुझे अपने एजेंट या लॉयर को बुलाना चाहिए था। क्योंकि जो चीज स्क्रिप्ट में नहीं है, उसे आप जबर्दस्ती नहीं करवा सकते। लेकिन उस वक्त मैं यह नहीं जानती थी। मैं खुद को अपमानित महसूस कर रही थी। ईमानदारी से कहूं तो मुझे लग रहा था, जैसे बेर्तोलुची और मार्लोन दोनों ने मिलकर मेरा रेप किया। सीन के बाद भी न तो मार्लोन ने मुझे तसल्ली दी और न ही माफ़ी मांगी। शुक्र है कि सीन एक टेक में ही हो गया।"

खुलासे के बाद गुस्से में थी ऑडियंस

बेर्तोलुची के खुलासे ने लोगों को गुस्से से भर दिया था। लोग ट्विटर पर उनके खिलाफ आक्रोश जाहिर कर रहे थे। tweets में लोगों ने साफतौर पर कहा था कि 'लास्ट टैंगो इन पेरिस' में एक्चुअल रेप को दिखाया गया था। वह कोई एक्टेड सीन नहीं था। इसे कभी नहीं देखना चाहिए था। कई हॉलीवुड सेलेब्स ने भी बेर्तोलुची के खुलासे पर विरोध जाहिर किया था। एक्ट्रेस जेसिका चास्तैन (Jessica Chastain) ने ट्विटर पर लिखा था, "इस फिल्म को पसंद करने वाले सभी लोगों के लिए। आप 48 साल के आदमी द्वारा 19 साल की लड़की का रेप देख रहे हैं। डायरेक्टर ने उसपर अटैक का प्लान बनाया था। मुझे घिन हो रही है।" इसी तरह एक्टर क्रिस इवान ने लिखा था, "मुझे समझ नहीं आ रहा, उन्हें छोड़ा क्यों गया। उन्हें तो जेल में होना चाहिए।"

2011 में हो चुका है मारिया का निधन

'लास्ट टैंगो इन पेरिस' एक ऐसे आदमी की कहानी है, जो पत्नी के सुसाइड के बाद फिर से अफेयर में पड़ जाता है। फिल्म दुनिया की सबसे विवादित फिल्मों में मानी जाती है। इसकी रिलीज ने लोगों को चौंका दिया था। क्योंकि फिल्म में सेक्स और रेप को मूल रूप से दिखाया गया था। बता दें कि इसमें मारिया ने फिल्म में जीन नाम की लड़की का किरदार प्ले किया था। उस वक्त उनकी उम्र 19 साल की थी। जबकि मार्लोन 48 साल के थे। 3 फरवरी 2011 को कैंसर के चलते 58 साल की उम्र में मारिया का निधन हो गया। वहीं, 2004 में मार्लोन भी दुनिया छोड़कर जा चुके हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended