--Advertisement--

Sanjay Baru Kept Away From Film The Accidental Prime Minister : 'द एक्‍स‍ीडेंटल प्राइम मिनिस्‍टर' के राइटर को मेकर्स ने अभी तक नहीं दिखाई फिल्म, फैक्‍चुअल मिस्‍टेक्‍स पर संजय बारू ने दिया टालमटोल जवाब : Exclusive

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 10:54 AM IST

फिल्म में कई चीजों के संजय बारू की बुक से अलग होने के किए जा रहे दावे

The Accidental Prime Minister Film, Sanjay Baru Kept Away From Film

एंटरटेनमेंट डेस्क. डायरेक्टर विजय गुट्टे की फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' (The Accidental Prime Minister) रिलीज से पहले ही विवादों में आ गई थी। ये फिल्म पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार रहे संजय बारू (Sanjay Baru) की बुक पर बेस्ड है। मेकर्स ने संजय से मेकिंग के राइट्स लिए लेकिन रिलीज के बाद भी उन्हें अभी तक फिल्म नहीं दिखाई है। इस बात की पुष्‍टि खुद संजय ने की है। वैसे, फिल्‍म में कई फैक्‍चुअल मिस्‍टेक्‍स हैं। इस बारे में जब DainikBhaskar.com ने संजय से पूछा तो उन्‍होंने कहा- 'मैंने अब तक फिल्‍म नहीं देखी है, देखने के बाद कमेंट करूंगा'। उनसे जब ये पूछा गया कि क्‍या उन्‍हें फिल्‍म की ट्रेड स्‍क्रीनिंग के लिए इन्वाइट नहीं किया गया था तो उस पर उन्‍होंने कोई कमेंट्स नहीं किया। इससे साफ जाहिर है कि फिल्‍म में क्रिएटिव लिबर्टी ली गई पर संजय को इस बारे में नहीं बताया गया। बता दें कि फिल्म में अनुपम खेर (Anupam Kher) ने मनमोहन सिंह का किरदार निभाया है। संजय की किताब से अलग है फिल्म...


- कई ट्रेड एनालिस्ट का दावा है कि फिल्‍म साफ तौर पर संजय बारू की किताब से अलग है। पहली फैक्‍चुअल गलती अटल बिहारी वाजपेयी को लेकर है। फिल्‍म में दिखाया गया कि वे शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मनमोहन सिंह को प्रेज करते नजर आ रहे थे। उस पल वे लालकृष्‍ण आडवाणी की तरफ मुड़कर कहते हैं मास्‍टरस्‍ट्रोक। हकीकत ये है कि किताब में इसका कहीं जिक्र ही नहीं है।


- दूसरी गलती संजय बारू को ही लेकर है। फिल्म में उनका रोल अक्षय खन्ना निभा रहे हैं। अक्षय कहते हैं कि 2009 का इलेक्‍शन राहुल गांधी के बस की बात नहीं है। किताब में इस बात का भी कहीं जिक्र नहीं है।


- तीसरी गलती अहमद पटेल को लेकर है। उन्‍हें फिल्‍म में निगेटिव रोल में दिखाया गया है। फिल्‍म में ये किरदार विपिन शर्मा निभा रहे हैं। फिल्‍म में वे बारू से कहते हैं- साइकिल का हैंडल पकड़ने नहीं आता, मीडिया क्‍या हैंडल करेंगे? सच्‍चाई ये है कि किताब में ये भी कहीं नहीं लिखा है।

फिल्म में मिस लीडिंग
फिल्‍म में ये भी दिखाया गया कि मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी के सामने शिकायत करते हुए कहते हैं कि उन्‍हें दूसरों की गलतियों का जिम्‍मा लेना पड़ रहा है। ये भी मिस लीडिंग है। किताब में ऐसा कुछ नहीं है।


- ट्रेड एनालिस्ट और फिल्‍म समीक्षकों का कहना है कि जब एक प्रोपेगेंडा फिल्‍म ही बनानी थी तो झूठे दावे क्‍यों हो रहे थे? साथ ही मनमोहन सिंह को निगेटिव दिखाने की वजह क्‍या रही? फिल्‍म में ये भुला दिया गया कि मनमोहन सिंह विनम्र थे।

इनपुट- अमित कर्ण

X
The Accidental Prime Minister Film, Sanjay Baru Kept Away From Film
Astrology

Recommended

Click to listen..