--Advertisement--

किस्सा-ए-संजू: नासिक में शूटिंग के दौरान भीड़ ने किए कमेंट, तो बिना शर्ट तलवार लेकर लड़ने चले गए थे संजय

भीड़ में मौजूद कुछ लोगों ने संजय पर पर्सनल कमेंट किए, जिससे उन्हें गुस्सा आ गया।

Danik Bhaskar | Jun 22, 2018, 01:02 PM IST

  • 90 के दशक में फिल्म 'जीने दो' की शूटिंग के दौरान का है ये किस्सा।
  • लोगों ने उनके अलावा फिल्म की एक्ट्रेसेस पर भी कमेंट किए थे।

बॉलीवुड डेस्क। संजय दत्त के जीवन पर बनी फिल्म 'संजू' बॉक्स ऑफिस पर 29 जून को रिलीज होने जा रही है। इस फिल्म में संजय के 'ड्रग एडिक्शन' और 'मुंबई बम ब्लास्ट केस' से जुड़े किस्से देखने को मिलेंगे। ऐसा ही एक किस्सा 90 के दशक का है, जब नासिक में 'जीने दो' की शूटिंग चल रही थी। शूटिंग के दौरान भीड़ में मौजूद कुछ लोगों ने संजय दत्त पर पर्सनल कमेंट किए और इससे संजय इतने गुस्से में आ गए कि उन्होंने तलवार निकाल ली थी।

दरअसल, नासिक में फिल्म 'जीने दो' के कुछ सीन भीड़भाड़ वाले इलाकों में शूट होने थे और जैसे ही संजय दत्त का शॉट आता, तो वहां शूटिंग देख रही भीड़ में मौजूद कुछ लोग उन्हें कमेंट कर चिढ़ाने लगते थे। कुछ लोगों ने न सिर्फ संजय दत्त पर बल्कि उनकी फैमिली को लेकर भी कमेंट किए। यहां तक कि फिल्म की एक्ट्रेसेस फरहा और सोनम को लेकर भी गंदे-गंदे कमेंट करने लगे।

तीन दिन तक किया नजरअंदाज: शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके में हो रही शूटिंग के दौरान जब लोगों ने संजय दत्त पर कमेंट किए, तो उन्होंने पहले तो नजरअंदाज किए। भीड़ में मौजूद कुछ शरारती लोगों के एक ग्रुप ने संजय दत्त को लड़ने की चुनौती दे डाली। उन्होंने कहा कि अगर तुममें हिम्मत हैं तो शूटिंग के बाद बाहर आओ फिर बताते हैं कि असली हीरो कौन है।
- भीड़ के बार-बार डिस्टर्ब करने की वजह से संजय दत्त अपने शॉट पर कंसंट्रेट नहीं कर पा रहे थे। इसके बाद जैसे-तैसे उस दिन की शूटिंग खत्म कर वो अपने होटल चले गए।
- अगले दिन जब संजय दत्त शूटिंग पर पहुंचे तो देखा कि गुंडों का वही ग्रुप उनका पहले से ही इंतजार कर रहा था। इस बार इस ग्रुप में पहले से भी ज्यादा गुंडे थे।
- ऐसे में संजय दत्त के लिए खुद पर काबू रखना और पूरे कंसंट्रेशन से शूटिंग कर पाना काफी मुश्किल हो रहा था। हालांकि किस्मत से इस दिन फिल्म का ज्यादा पार्ट शूट नहीं होना था और दोपहर तक शूटिंग खत्म हो गई और संजय अपने होटल लौट गए, लेकिन उन्हें बार-बार लोगों के कमेंट याद आ रहे थे।

उकसाने पर संजय दत्त ने निकाल ली तलवार: अगले दिन जब शूटिंग शुरू हुई, तो दोबारा से वो लड़के लोकेशन पर पहुंच गए और कमेंट करने लगे। वो लड़के संजय दत्त को बार-बार लड़ने के लिए उकसा रहे थे, तभी संजय ने चुनौती स्वीकारते हुए कहा कि यहां से थोड़ा दूर चलो।
- इसके बाद संजय दत्त ने अपनी चमचमाती तलवार निकालकर लहरानी शुरू कर दी और शर्ट उतारकर जोर से चिल्लाए। संजय ने कहा- हिम्मत है तो आओ मेरे सामने! कसम भगवान की एक को भी नहीं छोडूंगा। उनके हाथ में तलवार और उनके गुस्से को देखते हुए फिल्ममेकर और टीम के बाकी लोग दौड़े।
- करीब 10 मिनट बाद ही वहां सन्नाटा पसर गया और भीड़ में मौजूद गुंडों समेत सभी लोग चंपत हो गए। इसके बाद संजय ने फिर शूटिंग शुरू की। इसके बाद से शूटिंग के दौरान जब भी कोई उल्टा-सीधा कमेंट करता तो संजय तलवार निकाल लेते थे। इसके बाद पूरा शॉट बड़े आराम से हो जाता था।

31 साल बाद संजय ने निकाली थी अपनी समुराई तलवार: संजय दत्त 2012 में फिल्म 'शेर' की शूटिंग कर रहे थे। इस फिल्म में संजय ने अपनी समुराई तलवार निकाली थी। इस तलवार को संजय 31 साल पहले जापान से लेकर आए थे। दरअसल, संजय फिल्मों में आने से पहले जापान गए थे, जहां उन्होंने मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिंग की थी। सोहम शाह के निर्देशन में बनी ये फिल्म 70 के दशक के गुजराती डॉन सरमन मुंजा के जीवन पर आधारित थी।

कभी अफेयर तो कभी एके 56 की वजह से विवादों में रहे हैं संजय, फिल्म में नहीं देखने को मिलेंगे ये 4 किस्से

मुंबई ब्लास्ट: 23 साल तक चला था संजय दत्त पर केस, ठाकरे की मदद से मिली थी जमानत

संजय दत्त की 'शेर' फिल्म का सीन संजय दत्त की 'शेर' फिल्म का सीन