विज्ञापन

जब शूटिंग के दौरान अचानक बिगड़ी अमिताभ बच्चन की हालत तो शशि कपूर ने बचाई थी उनकी जान, इसके बाद बिग बी ने लिया था एक बड़ा फैसला

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 07:51 AM IST

शशि कपूर के आखिरी दिनों में बिग बी ने छोड़ दिया था उनसे मिलना, खुद बताई थी इसकी वजह

Shashi Kapoor Saved  Amitabh Bachchan During Do Aur Do Paanch Shooting
  • comment

मुंबई. अमिताभ बच्चन ने शशि कपूर के साथ करीब 12 फिल्मों में काम किया था। दोनों पहली बार फिल्म 'रोटी कपड़ा और मकान' (1974) में साथ नजर आए थे। लेकिन कुछ सालों बाद एक फिल्म ऐसी भी आई थी, जिसके बाद अमिताभ ने अपने कॉन्ट्रैक्ट में एक क्लॉज जोड़ दिया था कि वे डबल हीरो फिल्म में शशि कपूर के साथ ही काम करेंगे। यहां हम बात कर रहे हैं डायरेक्टर राकेश कुमार की फिल्म 'दो और दो पांच' की, जो 1980 में रिलीज हुई थी। फिल्म के सेट पर शशि कपूर ने बचाई थी अमिताभ की जान...

- फिल्म का एक सीन मुंबई के सी रॉक होटल में फिल्माया जाना था। उस वक्त अमिताभ अस्थमा से जूझ रहे थे। शूटिंग के दौरान अचानक अमिताभ को अस्थमा का अटैक आया, जिसे वे सहन नहीं कर पा रहे थे। कहा जाता है कि उस वक्त अगर शशि कपूर मदद के लिए आगे न आते तो कुछ भी हो सकता था। इस घटना के बाद अमिताभ बच्चन ने यह तय कर लिया कि हर दो हीरो वाली फिल्म में उनके साथ शशि कपूर होंगे। खास बात यह है कि मेकर्स ने भी उनकी इस डिमांड को माना। कथिततौर पर अमिताभ इसके लिए एक लेटर फिल्ममेकर्स से साइन कराया करते थे। 'दो और दो पांच' के बाद अमिताभ और शशि ने 'शान' (1980), 'सिलसिला' (1981) और 'नमक हलाल' (1982) जैसी फिल्मों में साथ काम किया। शशि कपूर अमिताभ बच्चन से 4 साल बड़े थे। लेकिन उनकी कद काठी की वजह से डायरेक्टर्स उन्हें शशि के बड़े भाई का रोल देते थे।

आखिरी वक्त में शशि कपूर से मिलने नहीं जाते थे अमिताभ

- अमिताभ शशि कपूर के बहुत अच्छे दोस्त थे। लेकिन उनके आखिरी वक्त में वे उनसे मिलने नहीं जाते थे। इस बात का खुलासा खुद अमिताभ ने अपने ब्लॉग में शशि कपूर के निधन के बाद किया था। बिग बी के ब्लॉग की मानें तो जब शशि का निधन (दिसंबर 2017 में) हुआ, तो उससे 6 साल पहले बिग बी की उनसे मुलाकात हुई थी। इसके बाद वे उन्हें एक बार अस्पताल में देखने गए थे। लेकिन फिर कभी उन्होंने शशि कपूर के यहां विजिट नहीं की।
- बिग बी ने लिखा था, "मैं दोबारा उन्हें देखने नहीं गया। मैं ऐसा नहीं कर सकता था। मैं अपने सबसे अच्छे दोस्त और समधी को दोबारा उस हालत में नहीं देख सकता था, जिसमें मैंने उन्हें अस्पताल में देखा था। बता दें कि अमिताभ की बेटी श्वेता की शादी शशि कपूर की भतीजी ऋतू नंदा के बेटे निखिल नंदा से हुई है। इस रिश्ते से शशि उनके समधी लगते थे।

अमिताभ ने माना था करियर में शशि का बड़ा योगदान

- अमिताभ बच्चन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि सात फिल्में फ्लॉप होने के बाद वे मुंबई से वापस लौटना चाहते थे। तभी मनोज कुमार ने उन्हें फिल्म 'रोटी कपड़ा और मकान' में रोल ऑफर किया। यही वह वक्त था, जब उनकी मुलाकात शशि कपूर से हुई और उनके जीवन में एक नया मोड़ आ गया। अमिताभ अपने एक ब्लॉग में में यह खुलासा का चुके हैं कि 1975 में 'दीवार' की रिलीज के बाद से वे हर जन्मदिन पर शशि कपूर को फोन कर बधाई देते थे। जब 1984 में शशि की पत्नी जेनिफर की मौत हुई तो उन्होंने लोगों से घुलना-मिलना बिल्कुल बंद कर दिया था। लेकिन तब भी वे अमिताभ से बात जरूर करते थे।

X
Shashi Kapoor Saved  Amitabh Bachchan During Do Aur Do Paanch Shooting
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन