पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

श्रीराम राघवन अब कभी नहीं बनाएंगे सीरियल किलर पर फिल्म, वॉर आधारित प्रोजेक्ट पर कर रहे हैं काम

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड डेस्क.  श्रीराम राघवन थ्रिलर जोनर के महारथी समझे जाते हैं। उनकी पिछली फिल्म अंधाधुन जबरदस्त सफल रही थी। इस फिल्म को रिलीज हुए एक साल से ज्यादा हो चुका है लेकिन आज भी इसकी चर्चा देश-विदेश के ट्रेड और फेस्टिवल सर्किट में है। वह आगे भी और थ्रिलर बनाने वाले हैं, लेकिन उन्होंने कसम खा ली है कि अब वो कभी भी सीरियल किलर पर आधारित साइकोलॉजिकल थ्रिलर नहीं बनाएंगे। जैसी इन्टेंस अनुराग कश्यप वाली रमन राघव 2.0 हो या हाल में आई जजमेंटल है क्या। हालांकि संयोग यह भी है कि उनका दोनों ही फिल्मों से किसी भी तरह का नाता नहीं है। जजमेंटल है क्या में वो क्रिएटिव कंसलटेंट थे, जबकि अनुराग कश्यप से कई सालों पहले उन्होंने सीरियल किलर रमन राघव पर एक डॉक्यूमेंट्री बनाई थी।अपने अपकमिंग फिल्म और अंधाधुन फिल्म के बारे में उनसे खास बातचीत हुई...

1) सीरियल किलर की घिनौनी करतूतों को नहीं दिखाना चाहिए

इसके पीछे की वजह बताते हुए वो बताते हैं-  'सीरियल किलर काफी घिनौनी चीजें करते हैं। मेरा मानना है कि उनकी घिनौनी करतूतों को क्यों ग्लोरीफाई किया जाए? मेरी अगली फिल्म वॉर जोनर पर है।  उसकी स्क्रिप्ट का काम खत्म हो चुका है और जल्द ही हम कास्ट को लेकर आधिकारिक घोषणा करेंगे। वहीं फिल्म की शूटिंग साल के आखिर से शुरू हो जाएगी। फिल्म 1971 के दौर पर एक अलग एंगल से बनाई जा रही है। टाइटल अभी तय होने वाला है। लीड एक्टर के तौर पर हमारी पहली फिल्म में वरुण धवन है। लेकिन वो फिल्म का हिस्सा होंगे या नहीं ये भी जल्द पता चल जाएगा।'

अंधाधुन का सलेक्शन मेलबर्न के मशहूर फिल्म फेस्टिवल में हुआ है। श्रीराम राघवन फेस्टिवल में शिरकत करेंगे। वे कहते हैं- 'फिल्म रिलीज हुए 8 महीने से ज्यादा का वक्त हो गया है। इसके बावजूद इस फिल्म को पूरी दुनिया में बेइंतहा मोहब्बत मिल रही है। मैं खुश हूं। इससे ज्यादा क्या बोल सकता हूं। यह कह सकता हूं कि मेरी अब तक की फिल्मों में दर्शकों ने इसे सबसे ज्यादा पसंद किया है।'

ये फिल्म जब चाइना में रिलीज हुई थी तब भी इसने कमाई के कई रिकॉर्ड तोड़े थे। इस पर श्रीराम कहते हैं- 'कभी सोचा नहीं था कि फिल्म चाइना जाएगी। वहां रिलीज होगी। मैं वहां पर्सनली तो नहीं गया, पर सुना है कि लोग फिल्म को स्टैंडिंग ओवेशन दे रहे थे। यह सुनकर बड़ा अचरज हुआ। इंडियन सेंसिबलिटी की फिल्म को चाइना में कैसे इतना प्यार मिल रहा है।'

खबरें और भी हैं...