--Advertisement--

सुई धागा /फिल्म के लिए वरुण और अनुष्का ने ली कई लहजों में डायलॉग बोलने की ट्रेनिंग



Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 12:13 PM IST

खेल डेस्क.  चेक गणराज्य की पूर्व टेनिस स्टार मार्टिना नवरातिलोवा का मानना है कि यूएस ओपन के फाइनल में सेरेना विलियम्स ने गलती की। हालांकि, नवरातिलोवा माना की टेनिस में लैंगिक भेदभाव होता है। उन्होंने कहा कि सभी खेलों में यह होना आम बात है।

  • दोनों ने ली डायलेक्ट की ट्रेनिंग

    दोनों ने ली डायलेक्ट की ट्रेनिंग

    दोनों ने सबसे पहले दिल्ली बॉर्डर इलाके के लहजे को कैच किया। डायलेक्ट ट्रेनर और फिल्म में मौजी के पड़ोसी बने महेश शर्मा ने इस बात की जानकारी दी है। महेश इससे पहले ‘दम लगाके हईशा’ में आयुष्मान खुराना के दोस्त बने थे। यशराज की उस फिल्म में भी आयुष्मान खुराना से ऋषिकेश के प्रचलित लहजे में डायलॉग बुलवाए गए थे।

     

     

    फिल्म की अधिकतर शूटिंग तो वैसे मध्य प्रदेश के चंदेरी में हुई है। लेकिन कहानी दिल्ली बॉर्डर के लोकेशन पर सेट है। चंदेरी में हैंडीक्राफ्ट इंडस्ट्री है इसलिए फिल्म वहां शूट हुई। डायरेक्टर शरत कटारिया ‘दम लगाके हईशा’ की पुरानी कास्ट को रिपीट नहीं करना चाहते थे इसलिए महेश का ऑडिशन उन्होंने सबसे बाद में लिया। वे कौन सा कैरेक्टर करना चाहते हैं इसका चुनाव उन पर ही छोड़ा गया। 

  • डायलॉग सुपरवाइजर के साथ बने पडोसी भी

    डायलॉग सुपरवाइजर के साथ बने पडोसी भी

    महेश शर्मा बताते हैं..., मैं मौजी का पड़ोसी बना हूं। इसके साथ ही फिल्म का डायलॉग सुपरवाइजर भी हूं। इसमें दिल्ली बॉर्डर पर जिस लहजे में हिंदी बोली जाती है, वह टोन रखा गया है। खास तौर पर दिल्ली के ईस्टर्न बॉर्डर इलाके मसलन, गाजियाबाद, नोएडा में बोली जाने वाली हिंदी का लहजा।

     

     

    थोड़ा से मेरठिया और हरियाणवी टच के साथ। यह लहजा सीखने के लिए वरुण और अनुष्का जनवरी से ही बोर्ड पर आ गए थे। शूट से पहले भी और डबिंग के दौरान भी दोनों ने इस लहजे को बारीकी से कैच किया। कई बार तो वरुण मुझे घर पर भी बुला लिया करते थे।\'