विज्ञापन

जब तरुण सागर महाराज से संगीतकार विशाल ददलानी को कान पकड़कर मांगनी पड़ी थी मांफी

Dainik Bhaskar

Sep 01, 2018, 05:56 PM IST

यह मामला आज से ठीक दो साल पहले अगस्त 2016 का है।

vishal dadlani had to apologize to jain monk tarun sagar for commenting on him
  • comment

बॉलीवुड डेस्क. जैन मुनि और राष्ट्र संत तरुण सागर जी महाराज नहीं रहे। म्यूजिक डायरेक्ट विशाल ददलानी का संत से जुड़ा एक वाकया वायरल हो रहा है। जैन मुनि तरुण सागर पर ट्विटर पर टिप्पणी के बाद विशाल ददलानी का देशभर में विरोध हुआ था। हालांकि घटना के बाद तरुण सागर ने भी एक बयान दिया था कि वे विशाल से नाराज नहीं हैं, क्योंकि वे दिगम्बर परम्परा के बारे में जानते नहीं हैं, इसलिए उन्होंने ऐसा बयान दिया।

यह लिखा था विशाल ने : ये किस्स तब का है जब जैन मुनि तरुण सागर महाराज के प्रवचन हरियाणा विधानसभा में हुए थे। इसके बाद विशाल ने ट्वीट कर कहा था कि 'जो लोग खुद कपड़े नहीं पहनते वे बता रहे हैं कि महिलाओं को कैसे कपड़े पहनने चाहिए।' विशाल ने ये भी कहा कि 'यदि आप ऐसे लोगों को वोट देते हैं तो ऐसी ही बेहूदा बकवास को बढ़ावा देते हैं। ये अच्छे दिन नहीं नो कच्छे दिन की शुरुआत है और कुछ नहीं।'

- इस कमेंट के बाद सोशल मीडिया पर विशाल की जमकर आलोचना हुई। धार्मिक भावना आहत करने का केस भी दर्ज हुआ। पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने विशाल को तुरंत अम्बाला पुलिस के समक्ष पेश होने का आदेश दिया था। तब विशाल के पास दो ही ऑप्शन थे या तो कानूनी लड़ाई लड़ें या माफी मांग कर निपटारा करें।

आखिर मांगनी पड़ी माफी : इसके बाद 21 सितंबर 2016 को विशाल सुबह जैन मुनि के पास चंडीगढ़ पहुंचे और उनके सामने हाथ जोड़कर, सर झुकाकर और कान पकड़कर माफी मांगी। जैन मुनि तरुण सागर ने भी विशाल ददलानी को माफ कर दिया और जैन समुदाय से मामले को खत्म करने की अपील की।

- इस घटना के बाद विशाल ने राजनीति से पूरी तरह किनारा कर लिया था। आप पार्टी के अरविंद केजरीवाल, सत्येन्द्र जैन ने भी उनके इस बयान को गलत करार दिया थ

X
vishal dadlani had to apologize to jain monk tarun sagar for commenting on him
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन