--Advertisement--

बिग बी का बर्थडे: फिल्म सेट पर मिलने आए अमिताभ का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकी थी गर्लफ्रेंड, राजेश खन्ना को दे दिया था मुंहतोड़ जवाब

राजेश खन्ना पर उनकी गलतियां ही पड़ी थीं भारी, अमिताभ फायदा उठाकर बन गए महानायक

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2018, 01:19 PM IST
When Jaya Bachchan Retort To Rajesh Khanna After Insult of Amitabh Bachchan

मुंबई. अमिताभ बच्चन 76 साल के हो गए हैं।बॉलीवुड में बिग बी के कई कॉम्पिटीटर रहे हैं और उनमें से एक थे राजेश खन्ना। खन्ना उस वक्त सुपरस्टार थे, जब अमिताभ ने फिल्मों में एंट्री ली थी। लेकिन बिग को तेजी से आगे बढ़ते देख राजेश खन्ना को उनसे जलन होती थी। यह जलन इस कदर थी कि उन्होंने एक बार बिग बी को मनहूस तक कह दिया था। इस बात का जिक्र फिल्म जर्नलिस्ट अली पीटर जॉन ने अपनी एक रिपोर्ट में किया था। जॉन ने यह भी बताया था कि उस वक्त अमिताभ की गर्लफ्रेंड (बाद में पत्नी) जया ने खन्ना का ताना सुन लिया था और करारा जवाब भी दिया था। जॉन की रिपोर्ट में कुछ ऐसा था पूरा वाकया...

- पीटर अली जॉन की मानें तो उन्होंने अपनी आंखों से देखा था कि राजेश खन्ना कैसे अक्सर बिग बी इंसल्ट किया करते थे। 2014 में एक रिपोर्ट में जॉन ने लिखा था कि फिल्म 'बावर्ची' (1972) के सेट पर अमिताभ बच्चन अक्सर अपनी गर्लफ्रेंड जया बच्चन, और असरानी सहित दूसरे फ्रेंड्स से मिलने पहुंच जाया करते थे। तब राजेश खन्ना अक्सर उनकी बेइज्जती किया करते थे। जॉन की मानें तो एक बार जब अमिताभ सेट पर पहुंचे तो उन्होंने राजेश खन्ना को क्लियर शब्दों में उन्हें मनहूस कहते सुना। जया भादुड़ी (अब बच्चन) ने भी यह सुना और वे गुस्से में लाल हो गईं। जया ने राजेश खन्ना के पास से गुजरते हुए तंज कसा- एक दिन ज़माना देखेगा कि यह इंसान (अमिताभ) एक दिन कितना बड़ा स्टार बनेगा। बाद में जया की बात सही साबित हुई। दुनिया ने देखा भी कि कैसे अमिताभ स्टार से सुपरस्टार बनते गए और राजेश खन्ना का करियर ढलता चला गया।


इस वजह से अमिताभ से जलते थे राजेश खन्ना

- राजेश खन्ना अमिताभ बच्चन से इसलिए जलते थे, क्योंकि बॉलीवुड में नए-नए आए अमिताभ बहुत तेजी से सफलता की सीढ़ियां चढ़ते हुए स्टारडम का रुतबा हासिल कर रहे थे। अमिताभ बच्चन ने जब हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा था, उस वक्त राजेश खन्ना बड़े स्टार थे। राजेश ने बॉलीवुड में सुपरस्टार का दर्जा हासिल कर लिया था। वह राजेश खन्ना का सबसे बेहतरीन दौर था। वे स्टारडम एन्जॉय कर रहे थे और सुर्खियों में रहते थे।सभी फिल्म निर्माता-निर्देशक उन्हें अपनी फिल्म में लेना चाहते थे। उनकी डिमांड बहुत ज्यादा थी। निर्माता उन्हें किसी भी कीमत पर साइन करने को तैयार रहते थे। दरअसल, यह राजेश खन्ना उस वक्त इंडस्ट्री में सफलता की गारंटी माने जाते थे।

दोनों के बीच कॉमन थी एक बात

राजेश और अमिताभ बच्चन के बीच एक बात बहुत कॉमन है, जो इन दोनों के महानायक बनने से जुड़ती है। राजेश खन्ना को सुपरस्टार बनाने में सिंगर किशोर कुमार का अहम योगदान रहा है। उन्होंने अपनी आवाज देकर राजेश खन्ना को महानायक बनाया। उस वक्त किशोर कुमार प्लेबैक सिंगिग में टॉप पर थे और वे राजेश खन्ना को काफी पसंद करते थे। दरअसल, राजेश खन्ना और किशोर कुमार एक-दूसरे के पूरक थे। इसमें कोई शक नहीं कि राजेश खन्ना किशोर की जादुई आवाज के कारण ही सुपर स्टार बने। अमिताभ भी किशोर की आवाज के कारण ही स्टारडम की ओर आगे बढ़े। असल में पूरी फिल्म इंडस्ट्री उस वक्त गायकों के ऊपर निर्भर थी। किशोर फिल्म में किसी नायक को अपनी आवाज देने से पहले उसे अपने घर या किसी और जगह बुलाते थे और उस स्टार की स्टाइल और आवाज को समझते थे। इसी वजह से किशोर की आवाज एक्टर्स के ऊपर बिल्कुल फिट बैठती थी। किशोर द्वारा पर्दे पर अमिताभ बच्चन के लिए गाना राजेश खन्ना की जलन का कारण माना जा सकता है।


महानायक के लिए जाने-अनजाने रास्ता बनाते गए राजेश खन्ना

- बॉलीवुड के अपने शुरुआती दिनों में अमिताभ बच्चन ने राजेश खन्ना के साथ कुछ फिल्मों में काम किया। इन फिल्मों में 'नमक हराम' और 'आनंद' शामिल हैं। उस दौर में ये फ़िल्में बड़ी हिट साबित हुईं और खूब सराही भी गईं। लेकिन प्रतिस्पर्धा की शुरुआत तब हुई, जब अमिताभ बच्चन के काम को फ़िल्मी दुनिया और उससे बाहर ज्यादा नोटिस किया जाने लगा। फिल्म इंडस्ट्री द्वारा अमिताभ को हाथों-हाथ लेने की ख़ास वजह भी थी, जिसके जिम्मेदार राजेश खन्ना स्वयं थे। गौरतलब है कि उस वक्त राजेश खन्ना के सहयोगियों से लेकर निर्माता-निर्देशक तक उनकी लेट-लतीफी से काफी परेशान थे।
- राजेश खन्ना की फिल्मों के शेड्यूल पर इसका काफी असर पड़ रहा था। अक्सर सुबह की शूटिंग शेड्यूल के लिए राजेश खन्ना दोपहर में पहुंचते थे और दोपहर के शॉट्स के लिए रात में। ऐसा भी होता था कि वे शूटिंग पर आते ही नहीं थे और मजबूरन निर्देशक को पैकअप करना पड़ता था। उस दौर में इन हालात के बावजूद सुपरस्टार राजेश खन्ना निर्माता-निर्देशकों की मजबूरी थे, क्योंकि यह उनका समय था और फ़िल्में उनके नाम भर से बिक जाया करती थीं। यही वह समय था जब फिल्म इंडस्ट्री राजेश खन्ना का एक विकल्प तलाश रही थी और सौभाग्य से अमिताभ बच्चन के लिए यह वक्त बहुत मुफीद साबित हुआ।

- अमिताभ ने इस मौके को हाथों-हाथ लिया। उस समय अमिताभ बच्चन की समय की पाबंदी, काम के प्रति पैशन और संकल्प की चर्चा इंडस्ट्री में हर कोई करने लगा था। यह चर्चा राजेश खन्ना तक भी पहुंची। एक नए अभिनेता को लेकर इंडस्ट्री का यह मिजाज राजेश खन्ना की जलन का कारण बन गया। हालांकि, शुरुआत में यह जलन अंदरूनी थी, लेकिन जैसे-जैसे अमिताभ की प्रसिद्धि बढ़ती जा रही थी, यह जगजाहिर होने लगी। एक इंटरव्यू में अमिताभ के साथ अपनी तुलना से भड़के राजेश खन्ना ने बिग बी को क्लर्क तक कह दिया। उस इंटरव्यू में अमिताभ से तुलना पर राजेश खन्ना ने भड़कते हुए कहा था, "क्लर्क समय के पाबंद होते हैं। मैं कोई क्लर्क नहीं एक कलाकार हूं। मेरा मन किसी का गुलाम नहीं। मैं अपनी मर्जी का मालिक हूं।"

X
When Jaya Bachchan Retort To Rajesh Khanna After Insult of Amitabh Bachchan
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..