--Advertisement--

जब कास्टिंग काउच में फंसा दोस्त और सलमान बोले- मैं पूरी रात सो नहीं सका

कास्टिंग काउच का मामला इन दिनों बॉलीवुड में छाया हुआ है।

Danik Bhaskar | May 01, 2018, 05:34 PM IST
2005 में सलमान खान, अमन वर्मा, गोविंदा और अरबाज खान प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान। 2005 में सलमान खान, अमन वर्मा, गोविंदा और अरबाज खान प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान।

मुंबई. कास्टिंग काउच का मामला इन दिनों बॉलीवुड में छाया हुआ है। इस मामले को और हवा दी है एक्ट्रेस और डांसर राखी सावंत ने। राखी सावंत का कहना है कि बॉलीवुड में कोई किसी का रेप नहीं करता, यह सबकुछ मर्जी से होता है। राखी के इस बयान 2005 की एक घटना याद आती है, जिसमें कई बॉलीवुड स्टार्स ने कास्टिंग काउच में फंसे अमन वर्मा का सपोर्ट किया था। इन स्टार्स में अमन के दोस्तों में शामिल सलमान खान भी थे। सवाल यह था कि क्या अमन वर्मा पर लगा कास्टिंग काउच का आरोप सही था? जवाब में सलमान ने उस लड़की पर सवाल उठाया था, जिसने अमन पर आरोप लगाया था। 'सो जा वरना रुचि आ जाएगी...'

- कास्टिंग काउच पर अमन वर्मा को सपोर्ट करते हुए सलमान ने कहा था, "पिछली रात मैं सो नहीं सका। मां ने आकर कहा- बेटा सोजा नहीं तो रुचि आ जाएगी।" गुस्साए सलमान ने आगे कहा था, "यह रुचि है कौन? वह क्या करती है? वह कहां से आई है? वह कैसी दिखती है?क्या किसी ने उसका चेहरा देखा? क्या उसके पेरेंट्स जानते हैं कि वह काम क्या करती है? मैं आपको कसाई का उदाहरण देता हूं। अगर एक कसाई मांस चाहता है तो वह किसी और कसाई के पास नहीं जाएगा। बल्कि अपनी ही मटन शॉप से लेगा। इसी तरह अगर एक एक्ट्रेस को एक्टिंग के लिए ब्रेक चाहिए तो उसे एक्टर या एक्ट्रेस को अप्रोच नहीं करना चाहिए। बल्कि प्रोड्यूसर या डायरेक्टर के पास जाना चाहिए।"

- सलमान ने इस दौरान अमन को निर्दोष बताया था। सलमान ने कहा था, "अमन ने क्या किया? क्या उसने अपने पैंट की जिप खोली? क्या उसने अपनी शर्ट की बटन ओपन की? उसने ऐसा कुछ नहीं किया। फिर वह आरोपी कैसे हो गया? सलमान ने उस वक्त यह भी कहा था कि उन्होंने अपने करियर में कभी कास्टिंग काउच जैसी किसी चीज के बारे में नहीं सुना।

2005 में सलमान खान, अमन वर्मा और गोविंदा प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान। 2005 में सलमान खान, अमन वर्मा और गोविंदा प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान।

क्या था मामला 

 

- 2005 में एक न्यूज चैनल ने अमन वर्मा का स्टिंग ऑपरेशन किया था। चैनल की ओर से एक अंडरकवर एजेंट इसके लिए भेजी गई, जिसे रुचि नाम दिया गया। रुचि और अमन की एक ऑडियो और वीडियो क्लिप भी चैनल की ओर से जारी की गई थी। इसमें रुचि टीवी सीरियल्स में काम करने के बहाने से अमन से बात करती हैं और अमन उनसे मिलने के लिए इतने बेताब हो जाते हैं कि वे उनके हवाई टिकट तक कैंसिल करवा देते हैं और रात उनके साथ बिताने पर जोर देते हैं। जब रुचि अमन के पास पहुंचती हैं तो वे उनकी एक-एक हरकत कैमरे में कैद कर लेती हैं। जब यह स्टिंग ऑपरेशन चैनल पर टेलीकास्ट किया गया तो अमन की खूब आलोचना हुई थी। हालांकि, बाद में अमन को इस मामले में क्लीन चिट मिल गई थी।