• Home
  • Entertainment News
  • Gossip
  • सजंय दत्त, टीना मुनीम, फिल्म संजू, रणबीर कपूर, When Sanjay Dutt Drunk Midnight And Fire Due To Breakup Tina Munim
--Advertisement--

जब आधी रात को नशे धुत संजय दत्त ने चलाई गोलियां, पड़ोसियों को बुलानी पड़ी थी पुलिस

संजय दत्त और टीना मुनीम के अफेयर के किस्से चर्चा में रहे। जब टीन उन्हें छोड़कर गई तो वे ये बर्दाश्त नहीं कर पाए थे।

Danik Bhaskar | Jun 17, 2018, 10:04 AM IST

- संजय दत्त की बायोपिक पर बनी फिल्म 'संजू' 29 जून को रिलीज होगी
- फिल्म में संजय की पर्सनल लाइफ से जुड़े कई सुने-अनसुने किस्से देखने और सुनने को मिलेंगे
- फिल्म में रणबीर कपूर निभा रहे हैं संजय का किरदार

एंटरटेनमेंट डेस्क. संजय दत्त की बायोपिक पर बन रही फिल्म 'संजू' 29 जून को रिलीज होगी। फिल्म में संजय का किरदार रणबीर कपूर निभा रहे हैं। रणबीर के लुक और एक्टिंग की जमकर सराहना हो रही है। फिल्म में संजय दत्त की पर्सनल लाइफ से जुड़े कई सुने-अनसुने किस्से देखने और सुनने को मिलेंगे। इन्हीं में से एक किस्सा 80 के दशक का है, जब संजय नशे में धुत आधी रात को घर से बाहर निकले और गोलियां चलाने लगे थे। और बाद में संजय सड़क पर बैठकर फूट-फूट कर रोने लगे थे। यासिर उस्मान की किताब 'द क्रेजी अनटोल्ड स्टोरी ऑफ बॉलीवुड्स बैड ब्वॉय संजय दत्त' में इस बात का जिक्र है। टीना मुनीम के जाने का गम बर्दाश्त नहीं कर पाए थे संजय...


- स्कूल पढ़ाई पूरी करने के बाद संजय को पिता सुनील दत्त के कहने पर मुंबई के एक कॉलेज में एडमिशन लेना पड़ा था। संजय को पढ़ाई में जरा भी रुचि नहीं थी।
- कॉलेज में बुरी संगत की वजह से उन्होंने ड्रग्स लेना शुरू कर दिया था।
- एक दिन उन्हें लगा कि वे पढ़ाई के लिए नहीं बल्कि एक्टिंग के लिए बने हैं। उन्होंने पिता से जाकर कहा कि वे एक्टिंग फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं।
- सुनील दत्त ने बेटे को लॉन्च करने के लिए फिल्म 'रॉकी' बनाने की घोषणा की। इस फिल्म के डायरेक्टर और प्रोड्यूसर सुनील ही थे।
- 1981 में आई फिल्म 'रॉकी' में संजय की एक्ट्रेस टीना मुनीम थी। फिल्म की शूटिंग के दौरान दोनों करीब आए और उनका प्यार परवान चढ़ा।
- फिल्म की शूटिंग खत्म होने के बाद भी दोनों डेट करते रहे। लेकिन संजय की नशे और ड्रग्स की लत के कारण टीना ने उनसे दूरी बनानी शुरू कर दी। टीना अपनी फिल्मों की शूटिंग में बिजी हो गई थीं।
- 'रॉकी' के बाद उन्होंने 'ये वादा रहा', 'राजपूत', 'दीदार-ए-यार', 'सौतन', 'बड़े दिलवाले', 'पुकार' जैसी फिल्मों में काम किया। फिल्म 'सौतन' की शूटिंग के दौरान टीना का नाम राजेश खन्ना के साथ जोड़ा गया। ये बात संजय के कानों तक भी पहुंची थी।
- टीना की जुदाई संजय बर्दाश्त नहीं कर पा रहे थे।


22 मई, 1982 की वो रात
किताब के मुताबिक 22 मई, 1982 की आधी रात को संजय दत्त बेहद नशे में थे। और वे अपनी 22 बोर की बंदूक लेकर घर से बाहर सड़क पर निकले और गोलियां चलाने लगे। गोलियों की आवाज सुन पड़ोसी बाहर आ गए। वे सड़क पर बैठकर फूट-फूट कर हो रहे थे और कह रहे थे 'आप सब मुझसे डरे हुए क्यों हैं। मैं ड्रग का आदि नहीं हूं। मैंने ड्रग छोड़ दिया है'। ये सब संजय, टीना के जाने के गम में बोल रहे थे। इसी दौरान संजय के पड़ोस में रहने वाले एक वकील ने पुलिस को फोन कर दिया। संजय दौड़कर अपने घर में गए और रूम में खुद को लॉक कर लिया। जब पुलिस संजय को लेने आई तो वे घर पर नहीं थे। संजय ने खुद एक इंटरव्यू में बताया था कि पुलिस के आने से पहले उनके एक दोस्त ने उन्हें वहां से निकाल लिया था।

घर पर अकेले थे संजय
ये वो वक्त था जब संजय घर पर अकेले थे। पिता सुनील दत्त यूएस में थे। दोनों बेटियां नम्रता-प्रिया भी उनके साथ थी। दोस्त कुमार गौरव भी सिटी में नहीं थे। टीना फिल्म 'सौतन' की शूटिंग सिगांपुर में कर रही थी। फैमिली जब लौटी तो उन्हें घटना का पता चला। सभी ने संजय से बात की लेकिन टीना का कोई कॉल नहीं आया। संजय इस बात को लेकर बेहद परेशान हुए और बोले- 'मैं उसके बिना नहीं रह सकता'। दूसरे दिन संजय को अरेस्ट किया गया और वे बेल पर रिहा हो गए। सभी न्यूजपेपर में संजय के बारे में खबर छपी। संजय ने मीडिया को बताया कि वे अपनी बंदूक की सफाई कर रहे थे और फिर फायर करके देखा था। हालांकि, बांद्रा पुलिस स्टेशन के एक इंस्पेक्टर ने इंटरव्यू में कहा था कि संजय ने ये हंगामा गर्लफ्रेंड के छोड़कर चले जाने के कारण किया था।