--Advertisement--

मुश्किल / नीना गुप्ता ने बताया-1998 के हिट शो सांस के एक्सटेंशन को नहीं मिल रहा ग्रीन सिग्नल



hit serial Saans sequel not getting extension approval
X
hit serial Saans sequel not getting extension approval

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 01:02 PM IST

टीवी डेस्क. आमतौर पर फिल्मों की रिलीज में जितनी दिक्कतें आती हैं, उतनी ही दिक्कतें टीवी शोज के कॉन्सेप्ट पास कराने में आती हैं। फिर भले ही उस शो से कोई नामी कलाकार ही क्यों न जुड़ा हो। मिसाल के तौर पर हालिया रिलीज बधाई हो से खासी सुर्खियां बटोर रहीं नीना गुप्ता का एक शो है, जिसे स्टार प्लस ने हरी झंडी नहीं दी।

 

इस बारे में नीना ने बताया-

हमारे पास 1998 के पॉपुलर शो सांस के एक्सटेंशन का कॉन्सेप्ट था। यह सीरियल उस जमाने में खासा पॉपुलर और प्रगतिवादी था। इसके जरिए हमने उस दौर में एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर की बात कही थी। एक बार फिर से हम एक हार्ड हिटिंग कॉन्सेप्ट के साथ इसे लेकर आना चाहते हैं पर यह कॉन्सेप्ट स्टार प्लस को नहीं भाया। अब हम बाकी चैनल्स को यह कॉन्सेप्ट पिच कर रहे हैं। खास बात यह है कि इस शो में वे सभी कलाकार हैं, जो 1998 में थे। इसका नाम हमने सांस अभी बाकी है रखा है।

 

नीना कहती हैंं-

मैं हमेशा से ही महिलाओं के विषय पर ही कहानी बनाना चाहती थी। मेरे पास इस बारे में कहने के लिए बहुत कुछ है। औरतें जिन मुश्किलों से गुजरती हैं वह मुझे बहुत दुखी करता है। आज भी ऐसे कई विषय हैं जिन्हे मैं बताना चाहती हूं। हालांकि, इन दिनों टीवी सीरियल्स की हालत पतली लग रही है। मैंने हाल ही में सुना था कि अलग-अलग चैनलों पर छह सीरियल एक साथ बंद किए जा रहे हैं। आज भी टीवी पर रियलिस्टिक स्टोरीज पर शो नहीं बनने दिए जा रहे हैं।

फिल्मों में हो रही प्रोग्रेस: नीना का मानना है कि फिल्मों के फ्रंट पर बहुत अच्छा काम हो रहा है। इस इंडस्ट्री में टैबू (जिन मुद्दों पर समाज में बात नहीं की जाती) सब्जेक्ट्स काफी एक्सप्लोर किए जा रहे हैं। उनकी उम्र के कलाकारों के लिए खास तौर पर नए कैरेक्टर गढ़े जा रहे हैं। संयोग से यह लोगों को पसंद भी आ रहे हैं।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..