पीएमसी घोटाला / बैंक पर बैन से आर्थिक संकट में एक्ट्रेस नूपुर अलंकार, गुजारे के लिए बेचनी पड़ रही ज्वैलरी



नूपुर अलंकार। नूपुर अलंकार।
X
नूपुर अलंकार।नूपुर अलंकार।

Dainik Bhaskar

Oct 09, 2019, 04:07 PM IST

टीवी डेस्क. 'अगले जनम मोहे बिटिया ही कीजो' और 'घर की लक्ष्मी बेटियां' जैसे सीरियल्स में काम कर चुकीं एक्ट्रेस नूपुर अलंकार इन दिनों आर्थिक तंगी से जूझ रही हैं। स्थिति इस कदर बिगड़ गई है कि उन्हें घर चलाने के लिए अपने गहने तक बेचने पड़ रहे हैं। उनकी यह हालत सितंबर में तब से हुई, पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक पर 6 महीने के लिए लेनदेन समेत कई तरह के प्रतिबंध लगाए। नूपुर के अकाउंट इसी बैंक में हैं।

कुछ साल पहले ही ट्रांसफर कराए थे बैंक अकाउंट्स

  1. एक इंटरव्यू में नूपुर ने बताया, "मैं बेहद आर्थिक तंगी से गुजर रही हूं। दूसरे बैंकों में मेरे अकाउंट्स थे, जिन्हें मैंने कुछ साल पहले ही पीएमसी में ट्रांसफर करा लिया था। मुझे जरा भी अंदाजा नहीं था कि मेरे फैमिली मेंबर्स मां, बहन, पति, ननद, ससुरजी और मेरी पूरी जमापूंजी इस तरह फ्रीज हो जाएगी। आरबीआई ने पहले हर अकाउंट होल्डर को धन निकासी की सीमा 1000 रुपए की, फिर 10 हजार रुपए और फिर 25 हजार रुपए कर दी। लेकिन यह अमाउंट 6 महीने में एक बार ही निकाला जा सकता है।"

  2. 'क्या अब मैं अपना घर गिरवी रखूं'

    एक्ट्रेस ने आगे कहा, "पैसे के बगैर मैं कैसे सरवाइव करूं? क्या अब अपना घर गिरवी रखूं? मेरी अपनी कमाई पर रोक क्यों? मैं इनकम टैक्स भी भरती हूं, फिर क्यों आज मुझे परेशान होना पड़ रहा है? हाल ही में एक सर्कुलर आया कि बच्चे की पढ़ाई या मेडिकल इमरजेंसी में 50 हजार से एक लाख रुपए तक निकाल सकते हैं। हमारी एक फैमिली मेंबर हाल ही में गंभीर रूप से बीमार पड़ीं, लेकिन हम उनके अस्पताल का खर्च नहीं उठा सकते थे। हमने घर पर ही एक नर्स हायर की, जो उनकी देखभाल कर रही है।"

  3. 'न डेबिट-क्रेडिट कार्ड चल रहे, न लोन मिल रहा'

    बकौल नूपुर, "हमारे डेबिट और क्रेडिट कार्ड भी काम नहीं कर रहे हैं। सबसे बुरा यह है कि हम लोन भी नहीं ले पा रहे हैं। जैसे ही मैं कहती हूं कि मेरे खाते पीएमसी बैंक में हैं तो वहां के टेलीकॉलर्स भी फोन काट देते हैं।"

  4. 'दोस्तों से 50 हजार की उधार ले चुकी'

    नूपुर ने बातचीत में बताया, "घर में पैसे न होने और बैंक अकाउंट्स फ्रीज होने की वजह से मेरे पास ज्वैलरी बेचने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा है। यहां तक कि मैंने अपने एक साथी एक्टर से 3000 हजार रुपए लिए। एक अन्य ने मेरे आवागमन के लिए 500 रुपए ट्रांसफर किए। अब तक दोस्तों से 50 हजार रुपए उधार ले चुकी हूं। इसकी कोई जानकारी नहीं कि समस्या का हल कब मिलेगा? हमें डर है कि कहीं हमारा पैसा डूब न जाए।"

  5. बैंक पर इसलिए प्रतिबंध

    24 सितंबर को रिजर्व बैंक ने पीएमसी को नोटिस जारी कर 6 महीने का प्रतिबंध लगा दिया। इस अवधि में किसी तरह का लेनदेन नहीं किया जा सकता। यहां तक कि बैंक नए लोन भी जारी नहीं कर सकती। यह प्रतिबंध बैंक में 4,355 करोड़ रुपए से अधिक की वित्तीय अनियमितता को देखते हुए लगाया गया। मामले में बैंक के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हो चुकी है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना