• Hindi News
  • Entertainment
  • Tv
  • Anu Malik out of 'Indian Idol', now Sona Mahapatra circles the channel, says Apologize for the delay in the decision

#मीटू /  'इंडियन आइडल' से अनु मलिक बाहर, अब सोना महापात्रा ने चैनल को घेरा, कहा- फैसले में देरी के लिए माफी मांगिए

Anu Malik out of 'Indian Idol', now Sona Mahapatra circles the channel, says- Apologize for the delay in the decision
X
Anu Malik out of 'Indian Idol', now Sona Mahapatra circles the channel, says- Apologize for the delay in the decision

दैनिक भास्कर

Nov 23, 2019, 03:07 PM IST
टीवी डेस्क (किरण जैन).   #मीटू के आरोपी अनु मलिक ने सिनिंग रियलिटी शो 'इंडियन आइडल' छोड़ दिया है। सोनी टीवी ने गुरुवार को इस बात की पुष्टि की। लेकिन मलिक के खिलाफ मोर्चा खोले सिंगर सोना महापात्रा ने दैनिक भास्कर से एक्सक्लुसिव बातचीत में कहा है कि चैनल को इस बात के लिए सार्वजानिक माफी मांगनी चाहिए कि उन्हें निकालने का फैसला लेने में इतना वक्त क्यों लगा?

सोना की पूरी प्रतिक्रिया

मुझे अब तक ऑफिशियली जानकारी नहीं मिली है कि अनु को शो से निकाल दिया गया है। लेकिन अगर ऐसा हुआ है तो ये जश्न मनाने का वक्त है। उसके खिलाफ बोलने के लिए अब तक कुछ ही औरतें सामने आई थीं। लेकिन यकीन मानिए ऐसी कई औरतें हैं, जो पहले तो आगे आना नहीं चाहती थी लेकिन अब मेरे साथ इस जंग में लड़ने के लिए तैयार हो गई हैं। हम सब मिलकर पिछले एक साल से यह जंग लड़ रहे हैं। 

मुझे कोई अबला नारी बनकर इस कैंपेन के लिए लड़ना नहीं है, बल्कि एक मजबूत औरत बनकर इस गंदगी को हटाना है। यह जंग किसी के लिए आसान नहीं है। आप सोचिए, एक आदमी जो इतनी गंदी हरकत करता है वो आज नेशनल चैनल पर सीना तानकर खड़ा है और अपने अचीवमेंट्स की बात कर रहा है। मेरे हिसाब से तो सबसे पहले चैनल को सार्वजनिक माफी मांगकर जाहिर करना चाहिए कि उन्होंने ये फैसला लेने में इतना वक्त क्यों लगाया। 

सबसे पहले तो चैनल के लोगों को शर्म आना चाहिए की उन्होंने सिर्फ टीआरपी के खातिर अनु को फिर से शो में लिया। उन्हें लगा कि मीटू कैंपेन ठंडा हो गया हैं। इस कैंपेन से किसी का कुछ नहीं बिगड़ा और अब वे इसका फायदा उठा सकेंगे। उन्हें लगा जिन महिलाओं ने अपनी आवाज उठाई थी, वे अब शांत हो जाएंगी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

इससे पहले सोना ने महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी को ओपन लेटर लिखकर उनसे अनु मलिक के मामले दखल देने की अपील की थी। इस बारे में उन्होंने कहा, "ये जरूरी था। स्मृति जी उम्दा काम कर रही हैं। मैं उनका शुक्रिया अदा करना चाहती हूं। क्योंकि उन्होंने सरकार की ओर से यौन अपराधियों का डेटाबेस बनाने की बात रखी है। जो सेक्शुअल हैरेसमेंट के आरोपियों को काम दे रहे हैं, ऐसे संस्थानों पर भी पाबंदी लगनी चाहिए ताकि लोगों को बढ़ावा न मिले। आज अनु यंगस्टर्स का जज बना फिर रहा है, वह भी इतने आरोप लगने के बावजूद। हम हमारी जनरेशन को क्या सिखा रहे हैं। मेरे ओपन लेटर लिखने की बस यही वजह थी।"

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना