फीचर आर्टिकल:आखिर ये क्रिप्टोकरेंसी है क्या?

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हम यहां आपको क्रिप्टोकरेंसी से संबंधित ऐसी कोई जानकारी देकर बोर नहीं करेंगे जो आप पहले से जानते हैं, बल्कि बड़े ही रोचक तरीके से वह बातें बताने जा रहे हैं जिन्हें जानकर आप भी डिजिटल युग की मुद्रा के बारे में जागरूक बन सकते हैं।

क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल संपत्ति है जो अब दुनियाभर में लाखों लोगों के जीवन का अहम हिस्सा बन चुकी है। इससे जुड़ी ढेरों कहानियां हैं बताने के लिए, इसमें से एक दिलचस्प कहानी बिटकॉइन पिज्जा डे के बारे में है।

ये बात है 22 मई 2010 की जब एक व्यक्ति ने पिज्जा के लिए संभवतः दुनिया में सबसे महंगा भुगतान किया था। उस व्यक्ति ने दो पेपरोनी पिज्जा के लिए 10,000 बिटकॉइन का भुगतान किया था। उस समय उन 10,000 बिटकॉइन की कीमत 25 डॉलर (2010 के हिसाब से भारतीय मुद्रा में 1173 रुपए) थी, लेकिन जानते हैं आज 10,000 बिटकॉइन की कीमत है 600 मिलियन डॉलर, यानी रुपए में तुलना करें तो 4429 करोड़ रुपए से भी अधिक। इतने में तो कोई व्यक्ति खुद की पिज्जा फैक्ट्री डाल सकता है।

उन पिज्जा का स्वाद तो वह व्यक्ति भूल गया होगा, लेकिन उससे मिला सबक उसे जिंदगी भर याद रहेगा। तो इस कहानी से हमें भी एक बात तो समझ लेनी चाहिए कि क्रिप्टोकरेंसी से भारी-भरकम रिटर्न मिलता है, लेकिन यह मुद्रा उतनी ही अस्थिर प्रवृत्ति की भी है। इसलिए यदि समझदारी से निवेश करते हैं तो आपके लिए यह बेहतरीन निवेश साधन बन सकती है।

क्रिप्टोकरेंसी के पीछे एक शक्तिशाली ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी होती है जो पूरी तरह डीसेंट्रलाइज है। हालांकि आपको इसमें ट्रेडिंग करने के लिए कोई तकनीकी एक्सपर्ट बनने की जरूरत नहीं है। बस आप एक सरल एप के जरिए क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेडिंग कर सकते हैं।

कॉइनस्विच कुबेर भारत का सबसे पसंदीदा क्रिप्टो एप है, इसके 1 करोड़ से भी अधिक यूजर्स हैं। इसमें बहुत ही आसान इंटरफेस, फटाफट होने वाली केवायसी प्रक्रिया तो है ही, आप इसमें 100 रुपए जैसी छोटी रकम से भी क्रिप्टोकरेंसी खरीद सकते हैं। नए निवेशकों के लिए क्रिप्टो में ट्रेडिंग करने का यह शानदार प्लेटफार्म है।

इस समय मार्केट में 10 हजार से भी ज्यादा क्रिप्टोकरेंसी प्रचलन में हैं। सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी में बिटकॉइन, ईथीरियम कार्डेनो, डोजकॉइन, टीथर, लाइटकॉइन और रिपल शामिल हैं।

कई क्रिप्टोकरेंसी अपनी आरंभिक अवस्था में हैं, जबकि अधिकांश क्रिप्टोकरेंसी उपयोग के लिहाज से काफी अच्छी स्थिति में हैं।

कितनी सुरक्षित और वैधानिक हैं क्रिप्टोकरेंसी?

अधिकांश क्रिप्टोकरेंसी ब्लॉकचेन आधारित होती हैं। हर लेनदेन पर समय की मुहर लगती है। ये ब्लॉकचेन इतने जटिल होते हैं कि किसी भी हैकर के लिए इन्हें तोड़ना लगभग नामुमकिन है। आप क्रिप्टोकरेंसी के बारे में जानकारी रखने वाले किसी भी व्यक्ति से पूछेंगे तो सभी यही कहेंगे कि यह पूरी तरह वैधानिक है। कोई भी इसको खरीद या बेच सकता है। भारत सरकार भी इसके नियम कानून बनाने के लिए विचार-विमर्श कर रही है। फिलहाल इसको लेकर कोई ठोस कानून या नियम नहीं हैं।

नियम कानून के बंधन में न होने का मतलब गैरकानूनी होना नहीं है। भारत के लोग क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र हैं।

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश आपकी जिंदगी बदल सकता है। कॉइनस्विच कुबेर आपको न केवल सीधे अपने स्मार्टफोन के माध्यम से क्रिप्टो खरीदने-बेचने की सुविधा प्रदान करता है, बल्कि उन्होंने इसके प्रति जागरूकता बढ़ाने की मुहिम भी शुरू की है।

Kuberverse एक कॉइनस्विच ब्लॉग है जिसमें आपको क्रिप्टोकरेंसी की दुनिया से जुड़ी हर जानकारी मिल सकती है। इसके साथ ही कॉइनस्विच का एक सक्रिय यू-ट्यूब चैनल है जिसमें नए निवेशकों को जानकारी देने वाले ढेरों वीडियो मौजूद हैं।

आपको अपनी खुद की रिसर्च करके निवेश की शुरुआत करने से भी कोई नहीं रोक रहा। हम बस इतना ही कह सकते हैं, तो इंतजार किस बात का? बस एप डाउनलोड कीजिए और क्रिप्टो में निवेश की शुरुआत कीजिए।

खबरें और भी हैं...