पर्सनल फाइनेंस / आयकर विभाग ने 16.84 लाख टैक्सपेयर्स को जारी किया टैक्स रिफंड, अगर आपको नहीं मिला है रिफंड तो ऑनलाइन चेक करें स्टेटस

कॉरपोरेट कर रिफंड के रूप में 1,02,392 करदाताओं को 11,610 करोड़ रुपए जारी किए गए हैं कॉरपोरेट कर रिफंड के रूप में 1,02,392 करदाताओं को 11,610 करोड़ रुपए जारी किए गए हैं
X
कॉरपोरेट कर रिफंड के रूप में 1,02,392 करदाताओं को 11,610 करोड़ रुपए जारी किए गए हैंकॉरपोरेट कर रिफंड के रूप में 1,02,392 करदाताओं को 11,610 करोड़ रुपए जारी किए गए हैं

  • देशभर में फैले लॉकडाउन के बीच हाल ही में वित्त मंत्री ने आईटी डिपार्टमेंट को रिफंड जारी करने का आदेश दिया था
  • 21 मई को खत्म सप्ताह यानी 17 मई से 21 मई के दौरान 1,22,764 टैक्सपेयर्स को 2,672.97 करोड़ रुपए का रिफंड जारी किया गया

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 09:29 AM IST

नई दिल्ली. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने अब तक 16.84 लाख करदाताओं को 26,424 करोड़ रुपए के टैक्स रिफंड जारी किए हैं। कोरोनावायरस के कारण देश में जारी लॉकडाउन के चलते लोगों को पैसों की किल्लत का सामना सकना पड़ रहा है। इसी को देखते हुए वित्त मंत्री ने इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को रिफंड जारी करने का आदेश दिया था।

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने चालू वित्त वर्ष में 1 अप्रैल से 21 मई, तक 16,84,298 करदाताओं को 26,242 करोड़ रुपए के टैक्स रिफंड जारी कर दिए हैं। इस अवधि के दौरान रिफंड के रूप में 15,81,906 करदाताओं को 14,632 करोड़ रुपए तथा कॉरपोरेट कर रिफंड के रूप में 1,02,392 करदाताओं को 11,610 करोड़ रुपए जारी किए गए हैं।

एक हफ्ते में 37,531 टैक्सपेयर्स को दिया रिफंड
सीबीडीटी ने 16 मई को खत्म सप्ताह के दौरान 37,531 करदाताओं को 2,050.61 करोड़ रुपए का रिफंड जारी किया था। इसी तरह कॉरपोरेट करदाताओं को 867.62 करोड़ रुपयए का रिफंड जारी किया गया। वहीं 21 मई को खत्म सप्ताह यानी 17 मई से 21 मई के दौरान 1,22,764 करदाताओं को 2,672.97  करोड़ रुपए का रिफंड जारी किया गया। वहीं, 33,774 कॉरपोरेट करदाताओं को 6,714.34 करोड़ रुपए का रिफंड जारी किया गया।

इस तरह चेक कर सकते हैं अपने रिफंड का स्टेटस 

  • करदाता https://tin.tin.nsdl.com/oltas/refundstatuslogin.html पर जा सकते हैं।
  • रिफंड स्टेटस पता लगाने के लिए यह दो जानकारी भरने की जरूरत है – पैन नंबर, जिस साल का रिफंड बाकी है वह साल भरिए।
  • अब आपको नीचे दिए गए कैप्चा कोड को भरना होगा।
  • इसके बाद Proceed पर क्लिक करते ही स्टेटस आ जाएगा।
  • इसके अलावा टैक्सपेयर इनकम टैक्स पोर्टल में अपने इनकम टैक्स खाते में लॉग इन करें।
  • लॉग इन करने के बाद माय अकाउंट्स> रिफंड/डिमांड स्टेटस पर क्लिक करें। 
  • इसके बाद वह असेसमेंट ईयर भरें जिसका आपको रिफंड स्टेट चेक करना है। 

क्या होता है रिफंड?

कंपनी अपने कर्मचारियों को सालभर वेतन देने के दौरान उसके वेतन में से टैक्स का अनुमानित हिस्सा काटकर पहले ही सरकार के खाते में जमा कर देती है। कर्मचारी साल के आखिर में इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करते हैं, जिसमें वे बताते हैं कि टैक्स के रूप में उनकी तरफ से कितनी देनदारी है। यदि वास्तविक देनदारी पहले काट लिए गए टैक्स की रकम से कम है, तो शेष राशि रिफंड के रूप में कर्मचारी को मिलती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना