• Hindi News
  • Business
  • Consumer
  • Investment ; FD ; Banking ; These 5 Schemes Of Post Office Including Time Deposit, Sukanya Samriddhi Yojana And PPF Get The Benefit Of Tax Rebate With Good Interest

पर्सनल फाइनेंस:टाइम डिपॉजिट, सुकन्या समृद्धि योजना और पीपीएफ सहित पोस्ट ऑफिस की इन 5 स्कीम्स पर अच्छे ब्याज के साथ मिलता है टैक्स छूट का लाभ

नई दिल्ली3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इनकम टैक्स कानून के सेक्शन 80C में बहुत से ऐसे विकल्प हैं जिसमें निवेश के जरिए आप 1.5 लाख रुपए तक की रकम पर टैक्स बचा सकते हैं। - Dainik Bhaskar
इनकम टैक्स कानून के सेक्शन 80C में बहुत से ऐसे विकल्प हैं जिसमें निवेश के जरिए आप 1.5 लाख रुपए तक की रकम पर टैक्स बचा सकते हैं।
  • टाइम डिपॉजिट अकाउंट में 5.5 से 6.7 फीसदी तक ब्याज मिलता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना के तहत जमा पर 7.6 फीसदी ब्याज दिया जा रहा है।

पोस्ट ऑफिस आपको कई तरह की सेविंग्स स्कीम संचालित करता है। इनमें 5 स्कीम ऐसी भी हैं जिनमे आपको बेहतर ब्याज के साथ सेक्शन 80C के तहत इनकम टैक्स छूट का भी लाभ मिलेगा। इनकम टैक्स कानून के सेक्शन 80C में बहुत से ऐसे विकल्प हैं जिसमें निवेश के जरिए आप 1.5 लाख रुपए तक की रकम पर टैक्स बचा सकते हैं। आज हम आपको पोस्ट ऑफिस द्वारा संचालित कुछ ऐसी ही स्कीम्स के बारे में बता रहे हैं जिनमें आपको सेक्शन 80C का फायदा मिलेगा।

पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रॉविडेंट फंड
इस योजना में खाता खोलने पर आपको 7.1 प्रतिशत सालाना ब्याज दर से रिटर्न मिलेगा। पीपीएफ कर की छूट, छूट, छूट (ईईई) कैटेगरी के अंतर्गत आता है। इसका मतलब यह है कि रिटर्न, मेच्योरिटी राशि और ब्याज से इनकम पर आयकर छूट मिलती है। यह खाता 15 साल के लिए खोल सकते हैं, जिसे आगे 5 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है। पीपीएफ में मिनिमम 500 रुपए से अकाउंट खुलवाया जा सकता है। इसमें एक फाइनेंशियल में  कम से कम 500 रुपए निवेश करना जरूरी है, वहीं आप एक साल में अकाउंट में अधिकतम 1.5 लाख रुपए निवेश कर सकते हैं। 

सुकन्या समृद्धि योजना
इस योजना के तहत एकाउंट किसी बच्ची के जन्म लेने के बाद 10 साल की उम्र से पहले ही खोला जा सकता है। आप केवल 250 रुपए में ये खाता खुलवा सकते हैं। इसमें सालाना 7.6 फीसदी की दर से ब्याज दिया जा रहा है जो फिक्स्ड डिपॉजिट से काफी ज्यादा है। चालू वित्त वर्ष में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अधिकतम 1.5 लाख रुपए जमा कराए जा सकते हैं। इस योजना में निवेश करने पर 80सी के तहत टैक्स छूट का भी फायदा उठा सकते हैं। यह एकाउंट किसी पोस्ट ऑफिस या बैंक की अधिकृत शाखा में खोला जा सकता है।

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम
इस योजना में फिलहाल सालाना 7.4 प्रतिशत की ब्याज दर मिल रही है। 60 साल या उससे अधिक आयु के बाद अकाउंट खोला जा सकता है। वहीं VRS लेने वाला व्यक्ति जो 55 वर्ष से अधिक लेकिन 60 वर्ष से कम है वो भी इस अकाउंट को खोल सकता है। इस स्कीम के तहत 5 साल के लिए पैसा निवेश किया जा सकता है। मैच्योरिटी के बाद इस स्कीम को 3 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है। इस योजना के तहत आप अधिकतम 15 लाख रुपए तक का निवेश कर सकते हैं। योजना  निवेश से मिलाने वाला ब्याज सालाना 10000 रुपए से अधिक है, तो टीडीएस काटी जाती है। इस योजना के तहत निवेश करने पर आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत टैक्स लाभ प्राप्त होता है। 

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट स्कीम
इसमें निवेश पर फिलहाल सालाना आधार पर 6.8 प्रतिशत की ब्याज दर मिल रही है। इसमें ब्याज की गणना सालाना आधार पर होती है, लेकिन ब्याज की राशि निवेश की अवधि होने पर ही दी जाती है। नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट में जमा राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कर छूट मिलती है। एनएससी अकाउंट खुलवाने के लिए आपको न्यूनतम 100 रुपए निवेश करना होगा। आप एनएससी में कितनी भी रकम निवेश कर सकते हैं। इसमें निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। 

टाइम डिपॉजिट योजना
यह एक तरह की फिक्स डिपॉजिट (एफडी) है जिसमें एक तय समय के लिए एकमुश्त पैसा निवेश करके आप निश्चित रिटर्न और ब्याज भुगतान का फायदा ले सकते हैं। पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट अकाउंट 1 से 5 साल तक की अवधि के लिए 5.5 से 6.7 फीसदी तक ब्याज दर की पेशकश करता है। 5 साल की सावधि जमा के तहत निवेश करने पर आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत टैक्स छूट का फायदा ले सकते हैं। इसमें 1000 रुपए का मिनिमम निवेश करना होता है। वहीं अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है। इन स्कीम्स से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें