• Hindi News
  • Business
  • Consumer
  • PM Vay Vandana Yojana ; Pension Scheme ; You will be able to invest in PM Vay Vandana Yojana till 31 March 2023, you can get a monthly pension of up to 10 thousand rupees by paying lump sum in it.

पर्सनल फाइनेंस / पीएम वय वंदना योजना में 31 मार्च 2023 तक कर सकेंगे निवेश, इसमें एकमुश्त पैसा देकर पा सकते हैं 10 हजार रुपए तक की मासिक पेंशन

इस योजना को एलआईसी के साथ मिलकर अमल में लाया गया है। इसमें अधिकतम 15 लाख रुपए निवेश किए जा सकते हैं इस योजना को एलआईसी के साथ मिलकर अमल में लाया गया है। इसमें अधिकतम 15 लाख रुपए निवेश किए जा सकते हैं
X
इस योजना को एलआईसी के साथ मिलकर अमल में लाया गया है। इसमें अधिकतम 15 लाख रुपए निवेश किए जा सकते हैंइस योजना को एलआईसी के साथ मिलकर अमल में लाया गया है। इसमें अधिकतम 15 लाख रुपए निवेश किए जा सकते हैं

  • इस योजना के तहत 10 साल तक पेंशन दी जाती है
  • 10 साल बाद एकमुश्त जमा की गई राशि वापस मिल जाती है

दैनिक भास्कर

May 20, 2020, 04:24 PM IST

नई दिल्ली. केंद्र सरकार द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की गई प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पीएमवीवीवाय)  में अब 31 मार्च 2023 तक निवेश किया जा सकेगा। यह 60 साल और उससे अधिक उम्र के नागरिकों के लिए एक पेंशन योजना है। इस योजना का लाभ एकमुश्त राशि का भुगतान करके लिया जा सकता है। इससे पहले इसमें निवेश करने की आखिरी तारीख 31 मार्च 2020 थी।

योजना से जुड़ी खास बातें

वरिष्ठों को ज्यादा भटकना न पड़े, वे आसानी से प्रक्रिया समझ सकें, इसलिए इस योजना को एलआईसी के साथ मिलकर अमल में लाया गया है। इसमें अधिकतम 15 लाख रुपए निवेश किए जा सकते हैं। 15 लाख पर आपको हर महीने 10 हजार रुपए पेंशन मिलेगी।

  • आयकर: आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80-सी के तहत इस योजना में जमा की गई राशि पूरी तरह करमुक्त है। लेकिन, जमा की गई राशि से मिलने वाले ब्याज पर पॉलिसी धारक को आयकर देना पड़ेगा।
  • ब्याज का फंडा: प्रति माह पेंशन उठाना चाहते हैं तो 8 प्रतिशत ब्याज मिलेगा। यदि पेंशन की पूरी राशि एक वर्ष में एक बार उठाना चाहते हैं तो यही ब्याज बढ़कर 8.3 प्रतिशत तक हो जाएगा।
  • पति-पत्नी दोनों कर सकते हैं निवेश: योजना में निवेश की सीमा प्रति वरिष्ठ नागरिक है न कि प्रति परिवार। पति-पत्नी चाहें तो दोनों मिलाकर 30 लाख रुपए निवेश कर सकते हैं।
  • भुगतान विकल्प: पालिसी की अवधि 10 साल है। आपके पास विकल्प रहता है कि आप हर महीने पेंशन चाहते हैं, तिमाही, छमाही या वार्षिक भुगतान चाहते हैं।
  • मेडिकल परीक्षण जरूरी नहीं: इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए किसी भी पॉलिसी होल्डर को मेडिकल परीक्षण की जरूरत नहीं है।
  • इस उदाहरण से समझें कितना ब्याज मिलेगा : आपने 1 लाख 50 हजार रुपए इस योजना में निवेश किए और आप चाहते हैं कि आपको हर महीने पेंशन राशि मिले। ऐसे में आपको 1,000 रुपए महीना मिलेगा। यानी साल में 12 हजार रुपए। लेकिन, आप वार्षिक पेंशन चाहते हैं तो आपको हर वर्ष 12,450 रुपए मिलेंगे।
  • जमा राशि कब मिलेगी: योजना में निवेश करने के 10 साल बाद पेंशन के अंतिम भुगतान के साथ ही जमा राशि भी वापस लौटा दी जाती है। अगर पेंशन पाने वाले व्‍यक्ति की मृत्‍यु योजना खरीदने के 10 साल के भीतर हो जाता है तो खरीद की कीमत (जमा राशि) नामित व्‍यक्ति को रिफंड कर दी जाती है।

इसमें निवेश के लिए जरूरी डॉक्युमेंट

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में निवेश के लिए आपको फॉर्म के साथ निम्‍नलिखित दस्‍तावेज जमा करवाने होंगे। पैन कार्ड की कॉपी, एड्रेस प्रूफ की कॉपी (आधार, पासपोर्ट आदि), चेक की कॉपी या बैंक पासबुक के पहले पेज की कॉपी ताकि आपके इस अकाउंट में पेंशन के पैसे आ सकें।

कहाँ से वले सकते हैं स्कीम का लाभ?

सरकार ने इस योजना के लिए एलआईसी से साथ मिलाया है, इसलिए इस योजना में निवेश करने के लिए एलआईसी ऑफिस या एलआईसी एजेंट से मिल सकते हैं। योजना से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए फोन नंबर पर 022-67819281 या 022-67819290 पर कॉल कर सकते हैं। एलआईसी ने इसके लिए एक टोल फ्री नंबर भी जारी किया है। 1800-227-717 नंबर  पर फोन करके इस योजना से जुड़ी जानकारी ले सकते हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना