• Hindi News
  • Business
  • Consumer
  • SIP ; Mutual Fund ; Do Not Stop Investing In Mutual Funds Due To Financial Constraints, Take Advantage Of 'pause' Facility

पर्सनल फाइनेंस:पैसों की तंगी के कारण बंद न करें म्यूचुअल फंड में निवेश, 'पॉज' सुविधा का लाभ उठाकर 6 महीनों के लिए रोक सकते हैं इंस्टॉलमेंट

मुंबई3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अगर आप भी एसआईपी ‘पॉज’ की सुविधा लेना चाहते हैं तो एसेट मैनेजमेंट कंपनी को मेल या फोन के जरिए इसकी जानकारी देनी होगी। - Dainik Bhaskar
अगर आप भी एसआईपी ‘पॉज’ की सुविधा लेना चाहते हैं तो एसेट मैनेजमेंट कंपनी को मेल या फोन के जरिए इसकी जानकारी देनी होगी।
  • इस सुविधा के तहत आपको 1 से 6 महीने तक एसआईपी में पैसे जमा नहीं करने पड़ेंगे।
  • ‘पॉज’ पीरियड खत्म होने के बाद फिर से आपकी क़िस्त कटने लगेगी।

देश में कोरोना के कारण जारी लॉकडाउन के कारण लोगों की आर्थिक स्थिति बिगड़ी हुई है। इसके चलते म्यूचुअल फंड निवेशक एसआईपी रोकने की सोच रहे हैं। अगर आप भी यही सोच रहे हैं तो इसे रोकने की बजाए इसे ‘पॉज’ कर सकते हैं। इससे आपको 1 से 6 महीने तक एसआईपी में पैसे जमा नहीं करने पड़ेंगे। यह सु​विधा ज्यादातर म्यूचुअल फंड हाउस दे रहे हैं।

क्या है 'पॉज' की सुविधा?
इस सुविधा के तहत आप कुछ समय के लिए निवेश को रोक सकते हैं। पहले यह सुविधा 1 से 3 महीने की थी, लेकिन अब कुछ फंड हाउस ने इसे 1 से 6 महीने किया है। इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि अगर आप 6 महीने के लिए एसआईपी ‘पॉज’ करते हैं तो 6 महीने बाद एसआईपी अपने आप खुद कटने लगेगी। इस पर कोई अतिरिक्त ब्याज नहीं देना होगा।

इसका लाभ कैसे ले सकते हैं?
अगर आप भी एसआईपी ‘पॉज’ की सुविधा लेना चाहते हैं तो एसेट मैनेजमेंट कंपनी को मेल या फोन के जरिए इसकी जानकारी देनी होगी। अगर कंपनी 1 से 6 महीने के लिए यह सुविधा दे रही है तो आप कम से कम 1 महीने और ज्यादा से ज्यादा 6 महीने के लिए ही एसआईपी पॉज कर सकते हैं। मेल में आपको अपने फोलियो नंबर की जानकारी देनी होगी। जिसके  बाद कंपनी आपको यह सुविधा देगी। ‘पॉज’ पीरियड खत्म होने के बाद फिर से आपकी क़िस्त कटने लगेगी। कोई भी व्यक्ति इसका फायदा ले सकता है। 

कौन- कौन से फंड हाउस दे रहे सुविधा 

निवेश को बंद करना सही नहीं
एसआईपी बंद नहीं करना चाहिए क्योंकि आने वाले दिनों में बाजार में रिकवरी आने की उम्मीद है। अभी इस सुविधा का लाभ लेते हैं तो 3 से 6 महीने तक एसआईपी में पैसा नहीं डालनाहोगा। अगर आपको लगे कि ‘पॉज’ पीरियड के बाद बाजार के सेंटीमेंट सुधर रहे हैं तो उसके बाद एसआईपी जारी रख सकते हैं। अगर बाजार में सब कुछ ठीक न लग रहा हो तो इसे बंद कर सकते हैं।