• Hindi News
  • Business
  • Economy
  • Defense Related Imports Will Be Reduced By 20 25% To Create 1.25 Lakh Highly Skilled Jobs, 500 Crores For Innovation In Defense And Aerospace Sector

आत्मनिर्भर इंडस्ट्री तैयार करने पर जोर:रक्षा संबंधी आयात 20-25% घटने पर पैदा होंगे सवा लाख हाईली स्किल्ड जॉब, डिफेंस और एयरोस्पेस सेक्टर में इनोवेशन के लिए 500 करोड़

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आधुनिक, मजबूत और सुसज्जित सेना के साथ ही उतनी ही मजबूत, सक्षम और पूरी तरह आत्मनिर्भर डिफेंस इंडस्ट्री भी तैयार करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया की सिक्योरिटी और जियोपॉलिटिकल सिचुएशन अभी जिस तेजी से बदल रही है उससे राष्ट्रीय सुरक्षा की चुनौतियां और जटिलताएं बढ़ रही हैं, इसलिए यह जरूरी हो गया है। उन्होंने रक्षा के क्षेत्र में प्राइवेट सेक्टर को भागीदारी बढ़ाने के लिए कहा है।

डिफेंस और एयरोस्पेस सेक्टर में इनोवेशन को बढ़ावा

राजनाथ सिंह ने डिफेंस स्टार्टअप इंडिया चैलेंज (DSIC-5) का उद्घाटन करते हुए कहा कि डिफेंस और एयरोस्पेस सेक्टर में इनोवेशन को बढ़ावा देने और 300 से ज्यादा स्टार्टअप को सपोर्ट करने के लिए अगले पांच वर्षों में लगभग 500 करोड़ रुपए के बजट का अनुमोदन किया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि देशभर के एक्सपर्ट्स और इनोवेटर्स के टैलेंट का फायदा उठाने के लिए आइडेक्स अगले पांच वर्षों में आज के मुकाबले पांच गुना स्टार्टअप को सपोर्ट करेगा।

एक लाख से ज्यादा हाईली स्किल्ड जॉब बन सकते हैं

रक्षा मंत्री ने कहा कि DSIC-5 रक्षा क्षेत्र में इनोवेशन, डिजाइन डेवलपमेंट को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा। स्टार्टअप हमारी युवा क्षमताओं को प्लेटफॉर्म देते हैं और वे रोजगार की संभावनाओं को स्वाभाविक रूप से बढ़ाते हैं। सरकार अनुमान है कि अगर रक्षा संबंधी आयातों में अगर 20-25% की भी कमी लाई जाती है, तो उससे हमारे यहां एक से सवा लाख हाईली स्किल्ड जॉब पैदा हो सकते हैं।

गवर्नमेंट, सर्विसेज, स्टार्टअप, इनोवेटर का साझा मंच

राजनाथ सिंह ने कहा कि इनोवेशन फॉर डिफेंस एक्सिलेंस (आइडेक्स) गवर्नमेंट, सर्विसेज, थिंक टैंक, इंडस्ट्री, स्टार्टअप और इनोवेटर को मिलकर काम करने के लिए मजबूत प्लेटफॉर्म देता है। इसका मकसद रक्षा क्षेत्र में प्रगति की गति बढ़ाना, लागत घटाना और प्रोक्योरमेंट को समयबद्ध तरीके से पूरा करना है। इसके लिए 5i आइडेंटिफाई, इनक्यूबेट, इनोवेट, इंटीग्रेट और इंडिजनाइज की मूल धारणा को अपनाना होगा।

DSIC के 4 एडिशन के 80 से भी ज्यादा उद्यम जुड़े

रक्षा मंत्री ने कहा कि DAP 2020 के अंतर्गत होने वाली खरीदारियों में आईडेक्स को शामिल किया गया है। इन खरीदारियों के लिए एक हजार करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है। उन्होंने कहा कि अब तक हुए DSIC के 4 एडिशन में 40 से भी ज्यादा टेक्नोलॉजिकल एरिया में 80 से भी ज्यादा स्टार्टअप, MSME और इंडिविजुअल इनोवेटर विनर के रूप में सरकार से जुड़ चुके हैं। रक्षा मंत्री ने कहा कि इनकी क्षमताओं का सरकार ने कितना फायदा उठाया है उसका मूल्यांकन करने का वक्त आ गया है।

डिस्क 5 में 35 चैलेंज, अब तक के एडिशन में सबसे ज्यादा

राजनाथ सिंह ने कहा कि DSIC 5 में चैलेंज की संख्या 35 है, जो अब तक के सभी एडिशन में सबसे ज्यादा हैं! उन्होंने कहा कि यह आंकड़ा सरकार की इस पहल में वैज्ञानिकों और उद्यमियों के विश्वास को प्रदर्शित करता है। इन चैलेंजेज में ऑगमेंटेड रियलिटी, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, एयरक्राफ्ट ट्रेनर, 5जी नेटवर्क, ड्रोन, डेटा कैप्चरिंग जैसे एरिया से महत्वपूर्ण और भविष्योन्मुख प्रॉब्लम स्टेटमेंट शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...