पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Business
  • Economy
  • ESIC May Be Allowed To Invest In MF And Shares, Increased Returns Will Help To Provide Better Facilities

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इक्विटी इनवेस्टमेंट बढ़ाएगा रिटर्न:ESIC को मिलेगी MF और शेयरों में निवेश की इजाजत, बढ़े एनुअल रिटर्न से दे सकेगी बेहतर सुविधाएं

3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ESIC के पास 90,000 करोड़ रुपये से ज्यादा का फंड है, इसमें से 23,000 करोड़ रुपये का रिजर्व बनाया गया है
  • 1 अप्रैल से ESIC अपने सर्विस के दायरे में बाकी 161 जिलों को भी ला रही है, इससे नेटवर्क देशव्यापी हो जाएगा

कर्मचारियों के प्रोविडेंट फंड की तरह ही उनके इंश्योरेंस का पैसा भी अब म्यूचुअल फंडों और शेयरों में लगाया जा सकेगा। सरकार एंप्लॉयी स्टेट इंश्योरेंस कॉरपोरेशन (ESIC) को 15% फंड इन विकल्पों में लगाने की इजाजत दे सकती है। वह 1 अप्रैल से ESIC के दायरे में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के गिग वर्कर्स को भी ले आई है। इसलिए सरकार चाहती है कि ESIC अपने फंड पर ज्यादा रिटर्न कमाए और स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर बनाए।

90,000 करोड़ रुपये से ज्यादा का फंड

ESIC के पास अभी 90,000 करोड़ रुपये से ज्यादा का फंड है, जिसमें से 23,000 करोड़ रुपये का रिजर्व बनाया गया है। सूत्रों के मुताबिक, ESIC को अपने पूरे फंड का 15 पर्सेंट हिस्सा इक्विटी में लगाने की इजाजत होगी या वह हर साल जमा होने वाली रकम से निकाला जाएगा, यह फिलहाल तय नहीं है। ESIC के निवेश वाली रकम का 45-65% हिस्सा सरकारी सिक्योरिटीज, 20-45% डेट इंस्ट्रूमेंट और 5-10% FD सहित शॉर्ट टर्म डेट में लगाया गया है। यही इसका निवेश का पारंपरिक तरीका रहा है।

15% फंड इक्विटी में लगा सकता है EPFO

प्रोविडेंट फंड को मैनेज करने वाला EPFO जिस इनवेस्टमेंट पैटर्न पर चल रहा है उसको 2015 में नोटिफाई किया गया था। उस पैटर्न के मुताबिक, EPFO के फंड का 45-50% हिस्सा सरकारी सिक्योरिटीज में लगाया जा सकता है। EPFO अपने कॉरपस का 35% से 45% हिस्सा डेट और इसके जैसी दूसरी सिक्योरिटी में लगा सकता है। 5-15% रकम इक्विटी, 5-5% की रकम शॉर्ट टर्म डेट सिक्योरिटीज और उसके जैसे दूसरे तरह के निवेश में लगाई जा सकती है।

ESIC के दायरे में लाए गए हैं गिग वर्कर्स

ESIC के फंड कॉरपस में आने वाले समय में तेज उछाल आ सकती है क्योंकि सरकार इसके दायरे में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के गिग वर्कर्स को ले आई है। पहले साल में ESIC के दायरे में 10 लाख से ज्यादा ऐसे वर्कर्स को लाया जाएगा। इससे ESIC के फंड में अमेजन, उबर, ओला, स्विगी और जोमैटो जैसी कंपनियों के रेवेन्यू का 1 से 2% या गिग वर्कर्स के वेतन का 5% योगदान, जो भी कम होगा, आएगा। इसमें थोड़ा बहुत योगदान उनके गिग वर्कर्स का भी होगा।

1 अप्रैल से देशव्यापी हो जाएगा ESIC का नेटवर्क

सबसे बड़ी बात यह है कि ESIC अब नए अस्पतालों को राज्य सरकारों के हवाले करने के बजाय खुद चलाएगी, जिससे उसकी सुविधाएं बेहतर हो सकेंगी। 1 अप्रैल से ESIC अपने सर्विस के दायरे में बाकी 161 जिलों को भी ले आएगी जिससे इसका नेटवर्क देशव्यापी हो जाएगा। यह 2022 तक ESIC के दायरे में 10 करोड़ से ज्यादा वर्कर्स को लाने के सरकार के विजन का हिस्सा है। फिलहाल, लगभग 3 करोड़ वर्कर्स को ESIC की सर्विसेज मिल रही हैं।

इक्विटी निवेश से बढ़ी नहीं है EPFO की ब्याज दर

जब से EPFO को अपने फंड का 5-15% हिस्सा इक्विटी मार्केट में लगाने की इजाजत दी गई उसके बाद से इसकी ब्याज दरें बढ़ी तो नहीं, घटी ही हैं। वित्त मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2015-16 में EPF सब्सक्राइबर्स के लिए 8.8% ब्याज दर फिक्स किया था जो उसके बाद से घटती हुई वित्त वर्ष 2019-20 में 8.5% पर आ गई। ऐसे में ESIC का फंड मार्केट में लगाने की इजाजत दिए जाने के बाद उसके सब्सक्राइबर्स को स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में कितना फायदा मिलेगा यह देखने वाली बात होगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser