पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रिलायंस इंडस्ट्रीज:रिलायंस जियो को 2,331 करोड़ रुपए का मुनाफा, आरआईएल पहली तिमाही तक जुटाएगी 104,000 करोड़ रुपए

मुंबईएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रिलायंस इंडस्ट्रीज ने वित्तीय वर्ष 2020-21की पहली तिमाही तक 104,000 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। इसमें फेसबुक का निवेश, बीपी का निवेश और राइट्स इश्यू का समावेश होगा - Dainik Bhaskar
रिलायंस इंडस्ट्रीज ने वित्तीय वर्ष 2020-21की पहली तिमाही तक 104,000 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। इसमें फेसबुक का निवेश, बीपी का निवेश और राइट्स इश्यू का समावेश होगा
  • रिलायंस जियो की कुल आय 14,385 करोड़ रुपए रही
  • सउदी अरामको की डील ट्रैक पर, ड्यू डिलिजेंस जारी

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने गुरुवार को जारी फाइनेंशियल रिजल्ट के दौरान बताया कि 2020 के जनवरी-मार्च तिमाही में कंपनी को 6,348 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है। जबकि पिछली तिमाही में कंपनी को 11,640 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। वहीं पिछले साल की चौथी तिमाही में कंपनी को 10,362 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। मार्च तिमाही में कंपनी की आय 136,000 करोड़ रुपये रही जो पिछली तिमाही में 152,939 करोड़ रुपये रही थी। वहीं, रिलायंस इंडस्ट्रीज की टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो को चौथी तिमाही में 2,331 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। इसी अवधि में जियो की आय 14,385 करोड़ रुपए रही है।

रिलायंस पेट्रोकेमिकल्स कारोबार की आय घटी

तिमाही आधार पर कंपनी की पेट्रोकेमिकल्स कारोबार से होनेवाली आय 36,909 करोड़ रुपये से घटकर 32,206 करोड़ रुपये पर आ गई है। चौथी तिमाही में कंपनी की रिफाइनिंग कारोबार से होनेवाली आय पिछली तिमाही के 1.03 लाख करोड़ रुपये से घटकर 84,854 करोड़ रुपये रही है।

रिटेल एबिट मार्जिन बढ़ा

इसी अवधि में रिफाइनिंग एबिट 6,808 करोड़ रुपये से घटकर 6,614 करोड़ रुपये और रिफाइनिंग एबिट मार्जिन 6.6 फीसदी से बढ़कर 7.8 फीसदी रही है। चौथी तिमाही में कंपनी की रिटेल कारोबार से होनेवाली आय पिछली साल की चौथी तिमाही के 36,663 करोड़ रुपये से बढ़कर 38,211 करोड़ रुपये रही है। तिमाही में कंपनी की रिटेल एबिट 1923 करोड़ रुपये से बढ़कर 2556 करोड़ रुपये रहा है। वहीं रिटेल एबिट मार्जिन पिछले साल के 5.2 फीसदी से बढ़कर 7 फीसदी रही है।

104,000 करोड़ रुपए की जुटाएगी पूंजी

रिलायंस इंडस्ट्रीज की प्रति शेयर आय यानी ईपीएस में 42.8 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। यह 17.5 रुपए प्रति शेयर से घटकर 10 रुपए पर आ गया है। कंपनी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21की पहली तिमाही तक राइट इश्यू, फेसबुक के निवेश और बीपी द्वारा किए गिए निवेश को कुल मिलाकर 104,000 करोड़ रुपए की पूंजी जुटाने की योजना को पूरा कर लिया जाएगा। साथ ही सउदी अरामको के साथ डील को लेकर ड्यू डिलिजेंस ट्रैक पर है।

खबरें और भी हैं...