पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फाइनेंशियल रिजल्ट:एचडीएफसी लिमिटेड का लाभ 21.97 प्रतिशत गिरा, मार्च तिमाही में 2,233 करोड़ रुपए रहा मुनाफा

मुंबई9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
31 मार्च 2020 तक कंपनी का कुल लोन बुक 4,50,903 लाख करोड़ रुपए रहा है - Dainik Bhaskar
31 मार्च 2020 तक कंपनी का कुल लोन बुक 4,50,903 लाख करोड़ रुपए रहा है
  • एक साल पहले मार्च तिमाही में शुद्ध लाभ 2,862 करोड़ रुपए था
  • ग्रॉस एनपीए 1.99 प्रतिशत रहा, रुपए में 8,908 करोड़ रहा

अग्रणी एनबीएफसी एचडीएफसी लिमिटेड को मार्च तिमाही में 2,233 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ है। एक साल पहले समान तिमाही में हुए 2,862 करोड़ रुपए के मुनाफे की तुलना में यह 21.97 प्रतिशत कम है। लाभ में यह गिरावट इसलिए आई है क्योंकि कंपनी तिमाही के दौरान केवल 2 करोड़ रुपए डिविडेंट इनकम हासिल की, जबकि एक साल पहले समान तिमाही में यह 537 करोड़ रुपए था। यह जानकारी कंपनी ने सोमवार को जारी अपने फाइनेंशियल रिजल्ट में दी है।

आर्थिक रूप से कमजोर और कम आय सेगमेंट अच्छी वृद्धि

कंपनी के मुताबिक मार्च तिमाही में निवेश की बिक्री पर लाभ 2 करोड़ रुपए रहा है। इसके पहले के साल की समान तिमाही में यह लाभ 321 करोड़ रुपए था। कंपनी ने वित्तीय वर्ष 2020 के लिए 21 रुपए प्रति शेयर का लाभांश घोषित किया है। कंपनी के वाइस चेयरमैन केकी मिस्त्री ने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर और कम आय वाले समूहों के लिए वोल्युम टर्म के लिहाज से वित्तीय वर्ष 2020 में 36 प्रतिशत होम लोन मंजूर किए गए। जबकि वैल्यू के टर्म में यह 18 प्रतिशत रहा है।

तिमाही के दौरान शुद्ध ब्याज आय 17 प्रतिशत बढ़ी

इस दौरान शुद्ध ब्याज आय (एनआईआई) तिमाही के लिए 17 प्रतिशत बढ़कर 3,780 करोड़ रुपए रही है। एक साल पहले समान तिमाही में यह राशि 3,238 करोड़ रुपए थी। शुद्ध ब्याज मार्जिन (एनआईएम) इस दौरान 3.3 प्रतिशत की तुलना में 3.4 प्रतिशत रहा है। कंपनी ने कहा कि मार्च के अंतिम पखवाड़े में रिकवरी पर असर होने से एनपीए पर इसका असर दिखा है। इसका ग्रॉस एनपीए 1.99 प्रतिशत रहा है जो रुपए में 8,908 करोड़ रुपए रहा है।  

कंपनी ने 1,274 करोड़ रुपए का किया प्रोविजन

कंपनी ने इस दौरान कोविड-19 के लिए 1,274 करोड़ रुपए का प्रोविजन किया है जो कि पिछले साल 398 करोड़ रुपए था। कंपनी ने हालांकि कहा कि इस वित्तीय परिणाम की पिछले साल की मार्च तिमाही से सीधे तुलना नहीं की जा सकती है। क्योंकि ढेर सारे फैक्टर ऐसे थे जिनकी तुलना नहीं की जा सकती है। अगर इन सभी को हटा दिया जाए तो कंपनी का लाभ 15 प्रतिशत बढ़ा है।

इंडिविजुअल लोन में 21 प्रतिशत की वृद्धि

वैसे पूरे वित्त वर्ष के दौरान कंपनी का लाभ 17,770 करोड़ रुपए रहा है। इस दौरान इंडिविजुअल लोन में 21 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है। जबकि कंसोलिडेटेड आधार पर लाभ 22,826 करोड़ रुपए पूरे साल के दौरान रहा है। एक साल पहले की तुलना में यह 30 प्रतिशत ज्यादा है। 31 मार्च 2020 तक कंपनी का कुल लोन बुक 4,50,903 लाख करोड़ रुपए रहा है। वोल्युम टर्म में यह 12 प्रतिशत बढ़ा है। व्यक्तिगत लोन का औसत साइज 27 लाख रुपए रहा है। कुल एयूएम में इंडिविजुअल लोन का हिस्सा 76 प्रतिशत रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें