15 लाख करोड़ का हो सकता है नुकसान:दोबारा हो सकती है फ्रैंकलिन टेंपल्टन जैसी घटना, घाटे में चल रही 10 म्यूचुअल फंड की स्कीम हो सकती हैं बंद

मुंबई10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फ्रैंकलिन की तरह यह म्यूचुअल फंड भी अपनी इस स्कीम को बंद कर सकते हैं। हाल में प्रिंसिपल म्यूचुअल फंड ने अपना बिजनेस सुंदरम म्यूचुअल फंड हाउस को बेच दिया है - Dainik Bhaskar
फ्रैंकलिन की तरह यह म्यूचुअल फंड भी अपनी इस स्कीम को बंद कर सकते हैं। हाल में प्रिंसिपल म्यूचुअल फंड ने अपना बिजनेस सुंदरम म्यूचुअल फंड हाउस को बेच दिया है
  • पिछले साल फ्रैंकलिन टेंपल्टन की डेट की 6 स्कीम्स बंद हो गई थी
  • इस स्कीम में कुल 28 हजार करोड़ रुपए निवेशकों के फंसे थे

म्यूचुअल फंड में एक जबरदस्त झटका निवेशकों को लगने वाला है। 10 म्यूचुअल फंड की कई स्कीम बंद हो सकती हैं। यह ठीक उसी तरह है जैसे पिछले साल फ्रैंकलिन टेंपल्टन की डेट की 6 स्कीम्स बंद हो गई थी। इससे निवेशकों को घाटा हुआ था।

CFMA ने दी जानकारी

चेन्नई फाइनेंशियल मार्केट्स एंड अकाउंटबिलिटी (CFMA) ने एक प्रेस बयान जारी कर इस तरह की आशंका जताई है। इसने कहा है कि म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में फ्रैंकलिन टेंपल्टन जैसी कई घटनाएं हो सकती हैं। इससे निवेशकों का नुकसान होगा। इसने कहा कि देश में 3 करोड़ म्यूचुअल फंड निवेशकों के लिए केवल कोर्ट से ही एकमात्र उम्मीद बची है। इसमें वे भी निवेशक हैं जो फ्रैंकलिन टेंपल्टन में फंसे हुए हैँ। इस एसोसिएशन ने कहा है कि अगर ऐसा होता है तो इससे फंड इंडस्ट्री को 15 लाख करोड़ रुपए का नुकसान होगा।

CFMA ने कोई सोर्स नहीं बताया

हालांकि CFMA ने इस आरोप का कोई सोर्स नहीं बताया और न ही किसी म्यूचुअल फंड हाउस का नाम बताया। इसने कहा कि उसे ऐसा पता चला है कि करीबन 10 म्यूचुअल फंड हाउस की स्कीम्स बंद हो सकती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि वे अपना घाटा निवेशकों की जेब पर डालना चाहती हैं। यह सभी केवल सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रही हैँ।

कर्नाटक हाई कोर्ट मे गया था मामला

बता दें कि हाल में सुप्रीम कोर्ट ने फ्रैंकलिन टेंपल्टन पर आए कर्नाटक हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुनवाई की थी। इसमें फ्रैंकलन टेंपल्टन द्वारा बंद की गई स्कीम के खिलाफ याचिका दायर की गई थी। फ्रैंकलन टेंपल्टन ने अपनी 6 डेट स्कीम को पिछले साल 23 अप्रैल को बंद कर दी थी। सेबी ने हालांकि इस मामले में निवेशकों को जल्द से जल्द पैसा लौटाने का आदेश दिया था। इस स्कीम में निवेशकों के 28 हजार करोड़ रुपए फंसे थे।

ढेर सारे निवेशकों ने की थी केस

स्कीम को बंद करने के बाद ढेर सारे निवेशकों ने फंड हाउस के खिलाफ केस फाइल की थी। इसमें कुल 3 लाख निवेशक फंसे थे। उनके निवेश का करीबन 50 पर्सेंट हिस्सा यानी 14 हजार करोड़ रुपए का इसमें नुकसान हो गया था। एसोसिएशन ने इससे पहले कहा था कि वह फ्रैंकलिन के खिलाफ पैसे की रिकवरी और अन्य मामलों में सूट फाइल करेगा।

हाल के सालों में कई स्कीम हुई डिफॉल्ट

बता दें कि म्यूचुअल फंड की कई स्कीम हाल के सालों में डिफॉल्ट कर गई हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि DHFL, IL&FS जैसी कंपनियां डिफॉल्ट हो गईं। इनके पेपर्स में काफी सारे म्यूचुअल फंड का निवेश था। खबर है कि इस समय कई स्कीम में निवेशकों को घाटा है। ऐसे में फ्रैंकलिन की तरह यह म्यूचुअल फंड भी अपनी इस स्कीम को बंद कर सकते हैं। हाल में प्रिंसिपल म्यूचुअल फंड ने अपना बिजनेस सुंदरम म्यूचुअल फंड हाउस को बेच दिया है।