कम दरों में लें लोन:होम लोन दरें बढ़ रही हैं, पर इन 5 तरीकों से आप अब भी सस्ता लोन पा सकते हैं

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रिजर्व बैंक ने बीते दो महीनों में रेपो रेट 0.90% बढ़ा दिया है, जिससे लोन दरें बढ़ने लगी हैं। होम लोन, जो दो महीने पहले तक 6.40-6.80% की दर से मिल रहे थे, अब 7.30-7.70% पर पहुंच गए हैं। ऐसे में लोन पहले से चल रहा हो या आप नया लोन लेने वाले हों, दोनों स्थितियों में ब्याज बढ़ जाएगा। ऐसे में कम दरों के लिए क्या किया जा सकता है? बैंकबाजार के CEO आदिल शेट्टी समझा रहे हैं....

1.अपने बैंक से पूछें
अगर आपका लोन चल रहा हो तो अपने बैंक या कर्जदाता संस्थान से जानें कि बढ़ती दर पर कैसे लगाम लगाई जा सकती है। कई गैर-बैंकिंग संस्थान छोटी सी प्रोसेसिंग फीस ले कर आपकी दर घटा देते हैं, जिससे आपका ब्याज घटता है। अगर आपका बैंक से लोन है और आप एमसीएलआर या बेस रेट बेंचमार्क पर हैं, तो जान लें कि सबसे कम दरें अब भी रेपो लोन पर ही हैं।

बैंक प्रोसेसिंग फीस ले कर आपको रेपो लोन दे सकता है। अगर आप नया लोन ले रहे हैं, तो पहले अपने प्री-अप्रूव्ड ऑफर जरूर देखें जो आपके बैंक ने आपके लिए तैयार किए होंगे। हर बैंक अपने सबसे अच्छे ग्राहकों के लिए आकर्षक लोन ऑफर बनाता है। इन पर आपको थोड़ी छूट मिल सकती है।

2. डिस्काउंट चेक करें
रिफाइनेंसिंग के मामले में कई बैंक अपनी सबसे कम विज्ञापित दर से भी कम दर पर लोन ऑफर कर सकते हैं। छूट पाने के लिए आपको उसका पात्र होना पड़ेगा। अक्सर रिफाइनेंस या बैलेंस ट्रांसफर वाले मामलों में बैंक नए ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए दरों पर डिस्काउंट देते हैं।
अगर आप अपनी लोन पर बहुत ऊंची दर दे रहे हैं तो रिफाइनेंस के ज़रिये उसे कम कर सकते हैं। उदाहरण के लिए एक प्राइवेट बैंक अपनी सबसे निचली दर 7.60% बता रहा है पर रिफाइनेंस केस में वह 7.45% पर भी लोन दे रहे हैं। ऐसा कई बैंकों में होता है। अपने आस पास के बैंकों से बात करें, जानें कि क्या छूट मिल सकती है।

3. क्रेडिट स्कोर सुधारें
सस्ता लोन पाने के लिए अच्छा क्रेडिट स्कोर जरूरी है। क्रेडिट स्कोर के लिए क्रेडिट हिस्ट्री जरूरी है। यदि कोई हिस्ट्री नहीं है तो आपका स्कोर नहीं होगा और पहली बार लोन ले रहे हैं तो थोड़ा ज्यादा ब्याज देना पड़ेगा। इससे बचने के लिए होम लोन लेने से पहले क्रेडिट कार्ड, पर्सनल लोन या बीएनपीएल लेकर क्रेडिट स्कोर विकसित कर सकते हैं। स्कोर 750 से ऊपर ले जाएं। अगर आपका लोन चल रहा हो तो स्कोर बढ़ाएं।

4. महिला को लोन से जोड़ें
कई कर्जदाता अपनी सबसे निचली दर महिलाओं को देते हैं। महिलाएं तो इसका फायदा ले ही सकती हैं। पुरुष भी अपनी परिवार की महिलाओं के साथ जॉइंट लोन ले सकते हैं। आम तौर पर इस तरह के लोन पर पति-पत्नी सह-उधारकर्ता होते हैं। लेकिन मां-बेटा या बाप-बेटी भी साथ लोन ले सकते हैं। इससे लोन चुकाने की जिम्मेदारी भी बंट जाती है और ब्याज भी कम हो जाता है।

5. लोन राशि को छोटा करें
होम लोन की राशि जितनी छोटी होगी, उसकी ब्याज दर उतनी कम हो सकती है। उदाहरण के लिए एक प्राइवेट बैंक 30 लाख रुपए तक के लोन पर सबसे कम दर लगता है, उससे थोड़ी ऊंची दर 30 से 75 लाख रुपए तक के लोन पर और सबसे ऊंची दर 75 लाख से बड़े लोन पर। ज्यादा लोन मिलने से घर खरीद आसान हो जाती है। लेकिन इस मामले में ध्यान रखें कि लोन बड़ा होगा तो ब्याज भी ज्यादा चुकाना पड़ता है। अगर आप रिफाइनेंस कर रहे हैं तो छोटे लोन पर आपको बेहतर ब्याज दर मिल सकती है।