पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • 9 Businessmen Who Sold The Vaccine Of Covid 19 Became Billionaires, Their Total Wealth Would Lead To Vaccination Of The Entire Population Of Poor Countries

महामारी में खूब हो रही कमाई:कोविड-19 की वैक्सीन बेचने वाले 9 बिजनेसमैन बने अरबपति, इनकी कुल संपत्ति से गरीब देशों की पूरी आबादी का हो जाएगा वैक्सीनेशन

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महामारी के इस बुरे दौर में वैक्सीन ही एकमात्र सबसे बेहतर ऑप्शन है। ऐसे में इसकी डिमांड भी तेजी से बढ़ी। वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों ने इसका भरपूर लाभ लिया। नतीजा यह रहा कि वैक्सीन से होने वाली कमाई से दुनिया को 9 नए अरबपति मिल गए।

कुल संपत्ति से गरीब देशों में रहने वाले करीबन सभी लोगों का वैक्सीनेशन संभव
खास बात यह है कि इनकी कुल संपत्ति से गरीब देशों में रहने वाले करीबन सभी लोगों को वैक्सीन लग सकता है। पिछले दिनों जारी एक रिपोर्ट में पीपल्स वैक्सीन अलायंस ने कहा कि इन नौ लोगों की संपत्ति 19.3 अरब डॉलर (1.41 लाख करोड़) बढ़ गई है। इस राशि से गरीब देशों को जरूरत से 1.3 गुना ज्यादा टीके मिल सकते हैं। अलायंस का यह बयान ऐसे समय में सामने आया है, जब भारत और दक्षिण अफ्रीका जैसे देश लगातार वैक्सीन से पेटेंट सुरक्षा हटाने की मांग कर रहे हैं।

मॉडर्ना और बायेएनटेक के कर्मचारियों की संपत्ति बढ़ी
नई लिस्ट में सबसे ऊपर दवा कंपनी मॉडर्ना के CEO स्टीफन बैंसेल हैं। जिनकी कुल संपत्ति 4.3 अरब डॉलर है। इसके बाद बायोएनटेक के उगुर साहीन हैं, जो कंपनी के CEO और को-फाउंडर हैं। फोर्ब्स के मुताबिक इनकी कुल संपत्ति 4 अरब डॉलर की है। साथ ही चीनी कंपनी कैनसिनो बायोलॉजिक्स के तीन को- फाउंडर भी नए अरबपतियों की लिस्ट में शामिल हैं।

भारत के पूनावाला एंड फैमली की संपत्ति भी बढ़ी
भारत में सीरम इंस्टिट्यूट के फाउंडर सायरस पूनावाला और उनके बेटे अदार पूनावाला की संपत्ति तेजी से बढ़ी। कंपनी कोरोना की वैक्सीन कोविशील्ड बनाती है। कंपनी ने राज्यों के लिए कोरोना वैक्सीन की प्रति डोज 300 रुपए और प्राइवेट हॉस्पिटल्स के लिए 600 रुपए तय किया है। एक इंटरव्यू में अदार पूनावाला ने कहा था कि प्रति डोज कंपनी को 150 रुपए का प्रॉफिट हो रहा है।

प्रति डोज की लागत 150 रुपए
इस लिहाज से 50 करोड़ डोज पर 15 हजार करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। यह फाइनेंशियल 2019-20 में कंपनी के रेवेन्यू से तीन गुना ज्यादा है। सायरस पूनावाला की संपत्ति 100% बढ़कर 16.2 अरब डॉलर हो गई है।

जी-20 देशों का वैश्विक स्वास्थ्य सम्मेलन को देखते हुए अलायंस का बयान महत्वपूर्ण है, क्योंकि इनमें से कई देश वैक्सीन को पेटेंट अधिकारों से मुक्त करने के विरोधी हैं। वहीं अमेरिका सहित अन्य देश और पोप फ्रांसिस जैसी महत्वपूर्ण हस्तियों ने भी पेटेंट हटाने की मांग का समर्थन किया है।

खबरें और भी हैं...