• Hindi News
  • Business
  • Anand Mahindra Agneepath Scheme | Mahindra Group CEO On Agneepath Yojana Violence

आनंद महिंद्रा ने अग्निवीरों को दिया नौकरी का ऑफर:कहा-अनुशासन उन्हें रोजगार के काबिल बना देगा, अग्निपथ योजना की हिंसा पर दुख भी जताया

नई दिल्ली15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महिंद्रा ग्रुप के CEO आनंद महिंद्रा ने आज सुबह ट्वीट कर कहा कि अग्निपथ योजना को लेकर हुई हिंसा से मैं दुखी हूं। जब पिछले साल इस योजना पर विचार किया गया था, तो मैंने कहा था कि अग्निवीरों का हासिल किया गया अनुशासन और कौशल उन्हें रोजगार के काबिल बना देगा। महिंद्रा अपनी कंपनी में अग्निवीरों को मौका देंगे।

एक व्यक्ति ने उनके ट्वीट पर सवाल किया कि अग्निवीरों को कौनसी पोस्ट दी जाएगी। इस पर उन्होंने कहा कि कॉर्पोरेट क्षेत्र में अग्निवीरों के रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। लीडरशिप, टीम वर्क और फिजिकल ट्रेनिंग के साथ, अग्निवीर इंडस्ट्री को मार्केट रेडी सॉल्यूशन देंगे। इसमें ऑपरेशन्स से लेकर एडमिनिस्ट्रेशन और सप्लाई चेन मैनेजमेंट तक का पूरा स्पेक्ट्रम शामिल है।

अग्निपथ योजना का राज्यों के कई संगठनों ने आज भारत बंद बुलाया
सेना की अग्निपथ योजना का कई राज्यों में विरोध हो रहा है। कई संगठनों ने आज भारत बंद बुलाया है। इसके मद्देनजर रेलवे ने RPF और GRP अलर्ट मोड पर रखा है। साथ ही उपद्रवियों पर गंभीर धाराओं में केस दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

चार साल के लिए डिफेंस फोर्स में सेवा देंगे नौजवान
केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीनों शाखाओं- थलसेना, नौसेना और वायुसेना में युवाओं की बड़ी संख्या में भर्ती के लिए अग्निपथ भर्ती योजना शुरू करने का ऐलान किया। इस स्कीम के तहत नौजवानों को सिर्फ 4 साल के लिए डिफेंस फोर्स में सेवा देनी होगी। सरकार ने यह कदम तनख्वाह और पेंशन का बजट कम करने के लिए उठाया है।

1. ये अग्निपथ स्कीम है क्या?
अग्निपथ स्कीम आर्म्ड फोर्सेज के लिए एक देशव्यापी शॉर्ट-टर्म यूथ रिक्रूटमेंट स्कीम है। इस स्कीम के तहत भर्ती होने वाले युवाओं को अग्निवीर कहा जाएगा। अग्निवीरों की तैनाती रेगिस्तान, पहाड़, जमीन, समुद्र या हवा, समेत विभिन्न जगहों पर होगी।

2. अग्निवीरों की रैंक क्या होगी?
इस नई स्कीम में ऑफिसर रैंक के नीचे के सैनिकों की भर्ती होगी। यानी इनकी रैंक पर्सनेल बिलो ऑफिसर रैंक यानी PBOR के तौर पर होगी। इन सैनिकों की रैंक सेना में अभी होने वाली कमीशंड ऑफिसर और नॉन-कमीशंड ऑफिसर की नियुक्ति से अलग होगी।

3. साल में कितनी बार भर्ती होंगे अग्निवीर?
इस योजना के तहत साल में दो बार रैली के जरिए भर्ती होगी।

4. इस साल कितने सैनिकों की होगी भर्ती?
इस साल 46 हजार अग्निवीरों की भर्ती होगी, लेकिन इस दौरान सेना के तीनों अंगों में इस स्तर की आर्मी भर्ती नहीं होगी।

5. अग्निवीर बनने के लिए कितनी उम्र का होना जरूरी?
अग्निवीर बनने के लिए 17.5 साल से 23 साल के बीच होना जरूरी है।

6. अग्निवीर बनने के लिए कितनी पढ़ाई जरूरी?
अग्निवीर बनने के लिए कम से कम 10वीं पास होना जरूरी है।