पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से उबरा एग्री एक्सपोर्ट सेक्टर:कृषि कमॉडिटी का निर्यात पहली छमाही में 43.4% बढ़कर 53,626.6 करोड़ रुपए पर पहुंचा : सरकार

नई दिल्ली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कृषि मंत्रालय ने कहा कि अप्रैल-सितंबर 2020 छमाही में 9,002 करोड़ रुपए का ट्रेड सरप्लस दर्ज किया गया, जबकि एक साल पहले की समान छमाही में 2,133 करोड़ रुपए का ट्रेड डिफिसिट हुआ था - Dainik Bhaskar
कृषि मंत्रालय ने कहा कि अप्रैल-सितंबर 2020 छमाही में 9,002 करोड़ रुपए का ट्रेड सरप्लस दर्ज किया गया, जबकि एक साल पहले की समान छमाही में 2,133 करोड़ रुपए का ट्रेड डिफिसिट हुआ था
  • पिछले कारोबारी साल की पहली छमाही में भारत से 37,397.3 करोड़ रुपए के कृषि कमॉडिटी का निर्यात हुआ था
  • सितंबर 2020 में एग्री एक्सपोर्ट्स 81.7% बढ़कर 9,296 करोड़ रुपए पर पहुंचा, जो सितंबर 2019 में 5,114 करोड़ रुपए पर था

कोरोना संकट के बावजूद कृषि कमॉडिटी का निर्यात इस कारोबारी साल की पहली छमाही (अप्रैल-सितंबर) में साल-दर-साल आधार पर 43.4 फीसदी बढ़कर 53,626.6 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। यह बात केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने शनिवार को कही। पिछले कारोबारी साल की समान अवधि में भारत से 37,397.3 करोड़ रुपए के कृषि कमॉडिटी का निर्यात हुआ था।

सितंबर 2020 में एग्री एक्सपोर्ट्स 81.7 फीसदी बढ़कर 9,296 करोड़ रुपए पर पहुंच गया, जो सितंबर 2019 में 5,114 करोड़ रुपए पर था। मंत्रालय ने कहा कि अप्रैल-सितंबर 2020 छमाही में 9,002 करोड़ रुपए का व्यापार आधिक्य (ट्रेड सरप्लस) दर्ज किया गया, जबकि एक साल पहले की समान छमाही में 2,133 करोड़ रुपए का व्यापार घाटा (ट्रेड डिफिसिट) हुआ था।

इन कमॉडिटीज का निर्यात बढ़ा

सितंबर छमाही में साल-दर-साल आधार पर ज्यादा निर्यात दर्ज करने वाले कमॉडिटीज इस प्रकार हैं :

मूंगफली : 35%

रिफाइंड शुगर : 104%

गेहूं : 206%

बासमती चावल : 13%

गैर-बासमती चावल : 105%

एग्री एक्सपोर्ट्स बढ़ाने के लिए सरकार ने एग्रीकल्चर एक्सपोर्ट पॉलिसी बनाई

एग्री एक्सपोर्ट्स बढ़ाने के लिए सरकार ने एग्रीकल्चर एक्सपोर्ट पॉलिसी-2018 घोषित की है। अन्य बातों के अलावा इसमें फल, सब्जियों, मसालों, आदि जैसे निर्यातोन्मुख कैश क्रॉप्स के लिए क्लस्टर आधारित तरीके का प्रावधान किया गया है। इसके तहत देशभर में विशेष फसलों के लिए क्लस्टर की पहचान की जाती है और इनमें विशेष फोकस के साथ काम किया जाता है।

8 एक्सपोर्ट प्रमोशन फोरम बनाए

सरकार ने एग्रीकल्चर व हॉर्टीकल्चर प्रॉडक्ट्स का निर्यात बढ़ाने के लिए एग्री एक्सपोर्ट प्रमोशन संगठन एपेडा (एपीईडीए) के तहत 8 एक्सपोर्ट प्रमोशन फोरम (ईपीएफ) भी बनाए। ये ईपीएफ केला, अंगूर, आम, अनार, प्याज, डेयरी, बासमती चावल और गैर-बासमती चावल के लिए बनाए गए।

1 लाख करोड़ रुपए का एग्री-इंफ्रा फंड

मंत्रालय ने कहा कि सरकार ने 1 लाख रुपए के एग्री-इंफ्रा फंड की भी घोषणा की है। मंत्रालय ने एग्री एक्सपोर्ट बढ़ाने के लिए एक व्यापक कार्ययोजना भी तैयार की है। इसमें वैल्यू एडीशन पर जोर दिया गया है। साथ ही इंपोर्ट सब्स्टीट्यूशन के लिए भी एक विस्तृत कार्ययोजना बनाई गई है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें