• Hindi News
  • Business
  • Air India Flights For US, AIr India Flights For America, Air India Flights, Air India, Flights For America

किराए में 50 पर्सेंट का इजाफा:अमेरिका के लिए नॉन स्टॉप फ्लाइट की संख्या बढ़ी, अब हफ्ते में दोगुनी संख्या में उड़ेगी फ्लाइट्स

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • छात्रों को यात्रा के दौरान कोविड-19 के वैक्सीनेशन का कोई प्रमाणपत्र नहीं देना होगा
  • यात्रा करने के समय 72 घंटे के भीतर की RT-PCR की निगेटिव रिपोर्ट की जरूरत होगी

सरकारी एयरलाइंस एयर इंडिया ने अमेरिका जाने वाले छात्रों की बढ़ती संख्या को देखते हुए फ्लाइट्स की संख्या दोगुनी कर दी है। अब हर हफ्ते भारत से अमेरिका 21 फ्लाइट्स जाएंगी। अभी तक हफ्ते में 10 फ्लाइट्स ही उड़ान भर रही थीं। उधर अचानक किराए में 50 से लेकर 100 पर्सेंट तक का इजाफा हो गया है।

नॉन स्टॉप फ्लाइट से समय बचता है

नॉन स्टॉप फ्लाइट का मतलब बिना कहीं रुके सीधे अमेरिका जाने से है। इस पर इसलिए फोकस किया जाता है क्योंकि इसकी वजह से समय की बचत होती है। साथ ही इसमें किराया भी कम लगता है। अगर हम 2 स्टॉप वाली फ्लाइट को देखें तो उसका किराया ढाई लाख रुपए है जबकि नॉन स्टॉप की फ्लाइट का किराया 1.30 लाख रुपए है। अमेरिका के लिए ज्यादातर फ्लाइट लंदन होकर जाती हैं।

टिकट की कीमतों में जबरदस्त इजाफा

कोरोना से पहले मुंबई से न्यूयॉर्क का किराया 80-90 हजार रुपए के बीच होता था। अब यह 1.30 लाख से लेकर 2 लाख रुपए तक पहुंच गया था। यहां तक कि किसी-किसी फ्लाइट में यह 2.50 लाख रुपए भी है। यह किराया 25-26 अगस्त का है। अगर 10-12 अगस्त का टिकट बुक करना है तो कम से कम 1.60 लाख रुपए किराया हो रहा है। अमेरिका में सितंबर के पहले हफ्ते में यूनिर्वसिटी खुलती हैं।

जुलाई-अगस्त में वीजा प्रक्रिया शुरू हुई

दरअसल अमेरिका में छात्रों के एडमिशन को देखते हुए जुलाई-अगस्त में वीजा की प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी। इसके बाद सोशल मीडिया पर छात्रों ने कम फ्लाइट्स को लेकर शिकायतें की थीं। इसी के बाद एयर इंडिया ने यह कदम उठाया है। एयर इंडिया की अमेरिका के लिए 7 अगस्त से यह फ्लाइट शुरू हो गई हैं।

40 से घटाकर 10 कर दी थी फ्लाइट्स

कोरोना की दूसरी लहर में एयर इंडिया ने अपनी साप्ताहिक फ्लाइट्स की संख्या को 40 से घटाकर 10 कर दी थी। कोरोना की दूसरी लहर में 4 मई से अमेरिका ने भारतीय उपमहाद्वीप से यात्राओं पर प्रतिबंध लगा दिया था। 7 अगस्त से शुरू होने वाली फ्लाइट्स में सबसे ज्यादा फ्लाइट न्यूयॉर्क के लिए होंगी। उसके बाद शिकागो और सन फ्रांसिस्को के लिए उड़ान भरेंगी।

यात्रा पर प्रतिबंध अभी भी लगा है

हालांकि अभी भी अमेरिका ने यात्रा का प्रतिबंध नहीं हटाया है, पर वहां एडमिशन शुरू होने से भारत से छात्रों के जाने की संख्या बढ़ने लगी है। इसके लिए वीजा एप्लिकेशन में बढ़त देखी जा रही है। एयर इंडिया ने सोशल मीडिया पर दी जानकारी में कहा है कि वह इसके अलावा दिल्ली से न्यूयॉर्क के लिए 6,13,20 और 27 अगस्त को अतिरिक्त फ्लाइट आपरेट करेगी। इसके लिए बुकिंग इसकी वेबसाइट, कॉल सेंटर और अधिकृत ट्रैवेल एजेंट से की जा सकती है।

हजारों छात्रों ने वीजा के लिए अप्लाई किया है

जुलाई और अगस्त में हजारों छात्रों ने वीजा के लिए अप्लाई किया है। इन छात्रों को अमेरिका में कोविड-19 वैक्सीनेशन के किसी सबूत की जरूरत नहीं है। हालांकि उड़ान भरने से 72 घंटे के अंदर की RT-PCR की निगेटिव रिपोर्ट जरूर अपने पास रखनी होगी। संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) ने भारतीय छात्रों को युनिवर्सिटी में दाखिले के लिए इस समय मंजूरी दी है। जिनके पास F1 या M1 वीजा वैलिड हैं, वे इसके लिए पात्र हैं।

एंबेसी का पोर्टल ही क्रैश हो गया था

जुलाई मध्य में जब एंबेसी का पोर्टल एप्लिकेशन के लिए चालू हुआ था, उस समय वेबसाइट ही क्रैश हो गई थी, क्योंकि बहुत बड़े पैमाने पर छात्र इस वेबसाइट पर विजिट कर रहे थे। हालांकि अमेरिका के साथ ही कनाडा और जर्मनी के लिए भी इस समय वीजा एप्लिकेशन में तेजी दिख रही है। दरअसल, इसी महीने से कई देशों की यूनिवर्सिटी खुल रही हैं। सूत्रों के मुताबिक, कनाडा सहित कुछ देश छात्र वीजा एप्लिकेशन के लिए प्रायोरिटी सिस्टम देख रहे हैं। जर्मनी भी इसी पर काम कर रहा है।

खबरें और भी हैं...