• Hindi News
  • Business
  • Airports In Small Cities Continue To Outpace Bigger Peers In Passenger Traffic

घरेलू एविएशन इंडस्ट्री की रिपोर्ट:मेट्रो सिटी के मुकाबले छोटे शहरों के एयरपोर्ट पर पैसेंजर ट्रैफिक बढ़ा, यह कोविड-19 से पहले के स्तर पर पहुंचा

नई दिल्ली8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पैसेंजर ट्रैफिक के साथ-साथ छोटे एयरपोर्ट्स पर दिसंबर 2020 की तरह जनवरी 2021 में भी एयरक्राफ्ट मूवमेंट में उछाल रहा है। - Dainik Bhaskar
पैसेंजर ट्रैफिक के साथ-साथ छोटे एयरपोर्ट्स पर दिसंबर 2020 की तरह जनवरी 2021 में भी एयरक्राफ्ट मूवमेंट में उछाल रहा है।
  • 210% के उछाल के साथ असम का तेजपुर एयरपोर्ट टॉप पर
  • कर्नाटक के कलबुर्गी एयरपोर्ट पर पैसेंजर ट्रैफिक में 72.5% का उछाल

बड़ी इंडस्ट्री में धीमी रिकवरी के ट्रेंड को पछाड़ते हुए छोटे शहरों के एयरपोर्ट पर लगातार पैसेंजर ट्रैफिक बढ़ रहा है। जनवरी में इन एयरपोर्ट्स पर पैसेंजर ट्रैफिक कोविड-19 से पहले के स्तर को पार कर गया है। जबकि ओवरऑल पैसेंजर ट्रैफिक में वार्षिक आधार पर करीब 39% की गिरावट आई है।

छोटे एयरपोर्ट्स की संख्या 14 हुई

दिसंबर 2020 के मुकाबले अब देश में छोटे एयरपोर्ट्स की संख्या बढ़कर 14 पर पहुंच गई है। इस साल जनवरी में तिरुपति एयरपोर्ट भी एविएशन इंडस्ट्री से जुड़ चुका है। एक साल पहले की समान अवधि के मुकाबले इन एयरपोर्ट्स पर ज्यादा फुटफॉल रिकॉर्ड किया है। इनके मुकाबले मेट्रो सिटी का कोई भी एयरपोर्ट एक साल पहले की समान अवधि के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाया है।

तेजपुर एयरपोर्ट के पैसेंजर ट्रैफिक में 210% का उछाल

जनवरी 2021 में असम के तेजपुर एयरपोर्ट पर पैसेंजर ट्रैफिक में 210% का उछाल आया है। पैसेंजर ट्रैफिक में बढ़ोतरी के मामले में तेजपुर एयरपोर्ट टॉप पर है। इसके बाद 72.5% के उछाल के साथ कर्नाटक के कलबुर्गी एयरपोर्ट का नंबर आता है। कलबुर्गी को गुलबर्ग के नाम से भी जाना जाता है। कलबुर्गी एयरपोर्ट नवंबर 2019 में लॉन्च हुआ था। अभी यहां से स्टार एयर और अलायंस एयर ऑपरेशन संचालित करती हैं। इसके अलावा हिंडन, नासिक और झारसगुड़ा एयरपोर्ट के ट्रैफिक में भी ग्रोथ रही है।

21 एयरपोर्ट पर एयरक्राफ्ट मूवमेंट बढ़ा

पैसेंजर ट्रैफिक के साथ-साथ छोटे एयरपोर्ट्स पर दिसंबर 2020 की तरह जनवरी 2021 में भी एयरक्राफ्ट मूवमेंट में उछाल रहा है। कलबुर्गी, कुड़ापाह, दीमापुर और गोरखपुर उन एयरपोर्ट्स में शामिल हैं जिन पर सबसे ज्यादा एयरक्राफ्ट मूवमेंट रहा है।

एविएशन इंडस्ट्री के लिए अगले दो महीने काफी महत्वपूर्ण

एविएशन इंडस्ट्री के सीनियर एक्जीक्यूटिव का कहना है कि ट्रैफिक और एयरक्राफ्ट मूवमेंट में बढ़ोतरी से इंडस्ट्री का उत्साह बढ़ा है। एविएशन इंडस्ट्री के लिए अगले दो महीने काफी महत्वपूर्ण हैं। कुछ शहरों में कोविड के मामलों की संख्या में हाल में उछाल आया है। यह देखना होगा कि इसका ट्रैवल सेंटिमेंट पर क्या असर होगा? यदि वैक्सीनेशन में बढ़ोतरी होती है तो इससे एविएशन इंडस्ट्री को मदद मिलेगी।

ओवरऑल पैसेंजर ट्रैफिक में 39% की गिरावट

छोटे एयरपोर्ट्स पर फुटफॉल बढ़ने के बावजूद जनवरी 2021 में घरेलू पैसेंजर ट्रैफिक में 39.50% की गिरावट आई है। डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) के आंकड़ों के मुताबिक, जनवरी 2021 में 77.34 लाख घरेलू यात्रियों ने हवाई सफर किया है। एक साल पहले समान अवधि में 127.83 लाख यात्रियों ने सफर किया था। हालांकि, दिसंबर 2020 के 73.27 लाख के मुकाबले जनवरी 2021 में 5.5% की ग्रोथ रही है। मौजूदा समय में प्री-कोविड के मुकाबले एयरलाइंस 80% क्षमता के साथ ऑपरेट हो रही हैं।

कोविड-19 के बाद 25 मई से शुरू हुई हैं घरेलू उड़ानें

कोविड-19 के कारण पिछले साल 22 मार्च से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा दी गई थी। करीब दो महीनों तक प्रतिबंध के बाद 25 मई 2020 को घरेलू उड़ानें शुरू की गई थीं। इसके बाद से लगातार घरेलू उड़ानों में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है।

खबरें और भी हैं...