पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Bigbasket Tata Deal Structure Update; Tata Group Buys Stake In Online Supermarket Bigbasket

टाटा का होगा बिगबास्केट:दोनों के बीच लगभग 10 हजार करोड़ की डील स्ट्रक्चर पर बनी सहमति, आने वाले हफ्तों में हो सकता है ऐलान

मुंबई7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिगबास्केट 18 हजार से ज्यादा प्रोडक्ट्स की बिक्री करता है। हाल ही में इसका ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू एक बिलियन डॉलर को टच किया।  -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
बिगबास्केट 18 हजार से ज्यादा प्रोडक्ट्स की बिक्री करता है। हाल ही में इसका ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू एक बिलियन डॉलर को टच किया। -फाइल फोटो
  • टाटा ग्रुप मौजूदा निवेशकों से लगभग 50-60 फीसदी हिस्सेदारी खरीद सकता है

ऑनलाइन ग्रॉसरी कंपनी बिगबास्केट में लगभग 80% हिस्सेदारी के लिए टाटा ग्रुप पहले से ही जारी बातचीत आखिरी चरण में है। यह हिस्सेदारी लगभग 1.3 बिलियन डॉलर (9.57 हजार करोड़ रुपए) की होगी। देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन ग्रॉसरी कंपनी बिगबास्केट की टोटल मार्केट वैल्यू 1.6 बिलियन डॉलर (11.78 हजार करोड़ रुपए) की है।

बिगबास्केट में अलीबाबा की बड़ी हिस्सेदारी

पिछले पांच महीनों की बातचीत के बाद टाटा ग्रुप और बिगबास्केट डील स्ट्रक्चर पर अब सहमत हुए हैं। डील प्रपोजल के मुताबिक टाटा ग्रुप मौजूदा निवेशकों से लगभग 50-60 फीसदी हिस्सेदारी खरीद सकता है। इसमें चीन की रिटेल कंपनी अलीबाबा और अन्य प्रमुख निवेशक शामिल हैं।

बिगबास्केट में चीन की रिटेल कंपनी अलीबाबा की हिस्सेदारी 29% है, जिसे वह बेचना चाहती है। बिगबास्केट के दूसरे बड़े निवेशकों में अबराज ग्रुप (16.3 प्रतिशत), एसेंट कैपिटल (8.6 प्रतिशत), हेलियॉन वेंचर पार्टनर्स (7%), बेसेम्मर वेंचर पार्टनर्स (6.2%), मिराई एस्सेट नवर एशिया (5%), इंटनरेशनल फाइनेंस कॉर्पोरेशन (4.1%), सैंड्स कैपिटल (4%) और CDC ग्रुप (3.5%) के नाम शामिल हैं।

अमेजन और रिलायंस को टक्कर

रिपोर्ट के मुताबिक टाटा ग्रुप इस डील से भारतीय ई-कॉमर्स मार्केट में बड़ी हिस्सेदारी पाने का है। इसमें बिगबास्केट बड़ी भूमिका निभा सकता है। क्योंकि, टाटा ग्रुप अपने सुपर ऐप को जल्द लॉन्च करने वाला है। ऐसे में बिगबास्केट के बड़े हाउसहोल्ड आइटम और ग्रॉसरी प्रोडक्ट्स से अच्छा सपोर्ट मिल सकता है। ऐसे में इस डील से सीधे-सीधे मुकेश अंबानी और अमेजन को टक्कर मिलेगी। क्योंकि यह दोनों कंपनियां भी डिजिटल डिलिवरी करती हैं।

टाटा संस की सालाना बैठक में कंपनी के चेयरमैन एन चन्द्रशेखरन ने कहा था कि सुपर ऐप के तहत फूड और ग्रॉसरी, फैशन, इलेक्ट्रॉनिक, इंश्योरेंस, फाइनेंशियल सर्विसेस, एजुकेशन, हेल्थकेयर और बिल पेमेंट जैसी सेवाएं दी जाएगी।

बिगबास्केट का कारोबार

फॉरेस्टर रिसर्च के मुताबिक बिगबास्केट पर प्रतिदिन लगभग 3 लाख ऑर्डर बुक होते हैं। 31 मार्च को समाप्त साल में कंपनी कुल बिक्री 5,200 करोड़ रुपए की रही, जिसमें कंपनी को 920 करोड़ रुपए का घाटा हुआ। मार्ट में कंपनी की वैल्यू 1.23 बिलियन डॉलर थी। यह अब बढ़कर 1.30 बिलियन डॉलर हो गई है। क्योंकि, मार्च के बाद ऑनलाइन खरीदारी बढ़ी है।

बिगबास्केट 18 हजार से ज्यादा प्रोडक्ट्स की बिक्री करता है। हाल ही में इसका ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू एक बिलियन डॉलर को टच किया। लॉकडाउन के पहले फल और सब्जियों की बिक्री 16-18 फीसदी थी, जो अब बढ़कर 20-22 फीसदी हो गई है। इस डील से संबंधित जानकारी आधिकारिक तौर पर अगले कुछ हफ्तों में ऐलान किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...