पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Bitcoin Price, Cryptocurrency Price, Binance Coin, Dogcoin, Polkadot Price, Crypto Currency

क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में भारी गिरावट:बिटकॉइन का भाव 8% टूटा, एथरियम का भाव 21% गिरा, निवेशकों को भारी नुकसान

मुंबई10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पिछले 24 घंटों में क्रिप्टो की तमाम करेंसीज की कीमतों में 25% की गिरावट आई है
  • कीमतों में कमी के पीछे अमेरिका के कंज्यूमर प्राइस में जून में बढ़ोत्तरी है

क्रिप्टोकरेंसी के निवेशकों को भारी घाटा हुआ है। पिछले 24 घंटों में क्रिप्टो की तमाम करेंसीज की कीमतों में 25% की गिरावट आई है। इसमें सबसे लोकप्रिय करेंसी बिटकॉइन की कीमतों में 8% की गिरावट आई है। जबकि एथरियम की कीमत 21% गिरी है।

बिनांस कॉइन और अन्य के भाव में 10% से ज्यादा कमी

बिनांस कॉइन, एक्सआरपी और कार्डानो के भाव में 10% से ज्यादा की कमी आई है। दिलचस्प यह है कि इन करेंसीज में बिकवाली भारी वैल्यू पर हुई है। इसका अर्थ यह है कि इन करेंसीज में गिरावट का रुझान आगे भी जारी रह सकता है। क्रिप्टो का बाजार इस समय मंदड़ियों के कब्जे में है। बिटकॉइन की कीमत 31,938 हजार डॉलर के लेवल पर आ गया है। एथरियम की कीमत 1,890 डॉलर के लेवल पर आ गया है।

डागकॉइन की कीमत 19% गिरी

इसी तरह बिनांस कॉइन की कीमत में 10.72% की कमी आई है तो डागकॉइन की कीमत में 19.26% की गिरावट आई है। यह आधा डॉलर से भी नीचे पहुंच गई है। एथरियम की कीमत 1,900 डॉलर से नीचे पहुंच गई है। पोलकाडाट की कीमत में 20.49% की गिरावट आई है। यह 9.60 डॉलर पर कारोबार कर रही है। यूनिस्वैप की कीमत में 10% की गिरावट आई है। यह 17.5 डॉलर पर कारोबार कर रही है।

चीन में बड़ा बिजनेस है क्रिप्टोकरेंसी

क्रिप्टोकरेंसी चीन में बड़ा बिजनेस है। पूरी दुनिया के बिटकॉइन प्रोडक्शन में आधा हिस्सा चीन का है। चीन द्वारा क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग पर लगाम लगाने की योजना तेजी में है। कुछ समय पहले ही चीन के दक्षिणी इलाके सिचुआन में क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग प्रोजेक्ट को बंद करने का ऑर्डर दे दिया गया है। यह चीन का सबसे बड़ा माइनिंग सेंटर है।

अगस्त तक बढ़ेगा भाव

हालांकि इस भारी गिरावट के बाद भी ऐसा माना जा रहा है कि अगस्त तक बिटकॉइन का भाव 47 हजार डॉलर पर चला जाएगा। स्टॉक-टू-फ्लो बिटकॉइन प्राइस फोरकास्टिंग मॉडल्स के निर्माता ने कहा है कि अक्टूबर में बिटकॉइन 63000 डॉलर पर पहुँचेगी। उस समय यह आल टाइम हाई होगा। इसके बाद इसमें और तेजी आएगी और यह नवंबर में 98,000 और साल के अंत तक 1.35 लाख डॉलर पर पहुंच जाएगी। आज के भाव पर देखें तो दुनिया की क्रिप्टो करेंसी का कुल मार्केट कैपिटलाइजेशन 125 लाख करोड़ रुपए है। इसमें बिटकॉइन का अकेले मार्केट कैप 50.57 लाख करोड़ रुपए है।

आगे भी उतार-चढ़ाव जारी रहेगा

जानकारों का मानना है कि क्रिप्टो करेंसी की कीमतों में यह उतार-चढ़ाव आगे भी जारी रह सकता है। बिकवाली का यह रुझान क्रिप्टो के साथ वैश्विक स्तर पर कुछ इक्विटी बाजारों में भी दिख रहा है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण यह है कि अमेरिका में अनुमान से ज्यादा महंगाई बढ़ी है। इससे ब्याज दरों में बढ़त आ सकती है। अमेरिकी कंज्यूमर प्राइस जून महीने में 0.9% बढ़ी है। यह बाजार के अनुमान से ज्यादा है और जून 2008 के बाद यह सबसे ज्यादा बढ़ी है।