पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • BSE NSE Sensex Today | Stock Market Latest Update: April 22, 2021 Share Market, Trade BSE, Nifty, Sensex Live News Updates

25 साल पूरे होने पर निफ्टी पॉजिटिव:सेंसेक्स 374 पॉइंट ऊपर 48,080 पर बंद; निफ्टी भी 14,400 के पार, बैंकिंग शेयरों में खरीदारी से बाजार में रिकवरी

मुंबई2 महीने पहले

शेयर बाजार में 22 अप्रैल यानी गुरुवार के दिन निफ्टी को 25 साल पूरे हुए। आज के दिन NSE का निफ्टी इंडेक्स 1996 को लॉन्च हुआ था। इंडेक्स अपने सिल्वर जुबली के दिन 110 पॉइंट ऊपर 14,406 पर बंद हुआ। जबकि सुबह इंडेक्स 77 पॉइंट नीचे 14,219 अंकों पर खुला था। इसी तरह सेंसेक्स भी 374 पॉइंट ऊपर 48,080 पर बंद हुआ है।

सेंसेक्स में शामिल 30 में से 18 शेयरों में बढ़त रही। ICICI बैंक का शेयर सबसे ज्यादा 2.6% ऊपर 579 रुपए के भाव पर बंद हुआ, जबकि टाइटन के शेयर में 2.8% गिरकर बंद हुआ है। इससे पहले मंगलवार को सेंसेक्स 243.62 पॉइंट गिरकर 47,705.80 पर बंद हुआ था। वहीं, निफ्टी 63.05 अंक नीचे 14,296.40 पर बंद हुआ था। 21 अप्रैल को राम नवमी के चलते शेयर बाजार बंद था।

वीकली एक्सपायरी के दिन BSE पर 3,084 शेयरों में कारोबार हुआ, जिसमें 1,761 शेयर बढ़त और 1,159 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट कैप 202.59 लाख करोड़ रुपए हो गया है, जो मंगलवार को 201.64 लाख करोड़ रुपए था।

निवेशकों ने सबसे ज्यादा खरीदारी बैंकिंग शेयरों में की। निफ्टी बैंक इंडेक्स 669.90 पॉइंट यानी 2.15% ऊपर 31,782 पर बंद हुआ है। इसी तरह मेटल इंडेक्स 1.74% ऊपर 4,460 पर बंद हुआ है।

शेयर बाजार के प्रमुख इंडेक्स में बढ़ने और गिरने वाले शेयरों का हाल...

निफ्टी एक साल में सबसे निचले स्तर से दोगुना हुआ
25 साल पहले जब निफ्टी 50 की शुरुआत हुई तो इंडेक्स की बेस वैल्यू 1000 पॉइंट था, जो आज 14,406 पर बंद हुआ। इस लिहाज से इंडेक्स 14 गुना से ज्यादा बढ़ा। एक्सचेंज डेटा के मुताबिक, निफ्टी को 7 हजार का स्तर पार करने में 18 साल लगे थे, जबकि अगला 8,000 अंकों का पड़ाव इंडेक्स ने सात सालों से भी कम समय में पार किया।

महामारी की मार से तेजी से उबरा
2020 में कोरोना महामारी के चलते इंडेक्स 24 मार्च को 7,600 के स्तर तक फिसला, लेकिन केवल 220 दिनों में इंडेक्स ने 15 हजार के रिकॉर्ड स्तर को छुआ। इसकी मुख्य वजह कोरोना वैक्सीन और मजबूत तिमाही नतीजों का असर रहा। साथ ही बजट 2021 का भी सपोर्ट मिला, जिसमें नए टैक्स का ऐलान किया गया।

खास बात यह है कि अप्रैल 1996 में निफ्टी में एक भी टेक्नोलॉजी शेयर नहीं शामिल था। इंडेक्स में कंज्यूमर, सरकारी बैंकों के शेयर और अन्य जैसे ऑयल एंड गैस, ऑटो, मेटल और टैक्सटाइल सेक्टर के शेयरों की भरमार थी, लेकिन फरवरी 2021 में पांच IT शेयर इंडेक्स में मौजूद हैं।

एशियाई शेयर बाजारों में बढ़त

  • हॉन्गकॉन्ग का हेंगसेंग इंडेक्स 63 पॉइंट ऊपर 28,707 पर बंद हुआ।
  • चीन का शंघाई कंपोजिट इंडेक्स भी 7 अंक की मामूली गिरावट के साथ 3,465 पर आ गया है।
  • कोरिया का कोस्पी इंडेक्स 5 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 3,177 पर बंद हुआ।
  • ऑस्ट्रेलिया का ऑल ऑर्डनरीज इंडेक्स 53 पॉइंट ऊपर 7,312 पर बंद हुआ।
  • जापान का निक्केई इंडेक्स 655 पॉइंट ऊपर 29,165 पर बंद हुआ।

अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद
बुधवार को अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद हुए थे। डाउ जोंस 0.93% की बढ़त के साथ 316.01 अंक ऊपर 34,137.30 पर बंद हुआ था। नैस्डैक 1.19% की बढ़त के साथ 163.95 अंक ऊपर 13,950.20 पर बंद हुआ। S&P 500 इंडेक्स भी 38.48 पॉइंट ऊपर 4,173.42 पर बंद हुआ था। फ्रांस और जर्मनी के बाजार भी बढ़त के साथ बंद हुए थे।

FII और DII डेटा
NSE पर मौजूद प्रोविजनल डेटा के मुताबिक, 20 अप्रैल को विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) ने 1,082.33 करोड़ रुपए और घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) ने 1,323.01 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे थे। मंगलवार को सेंसेक्स 243 पॉइंट गिरकर 47,705 पर बंद हुआ था। इसी तरह निफ्टी भी 63 अंक नीचे 14,296 पर बंद हुआ था।

खबरें और भी हैं...