• Hindi News
  • Business
  • BSE NSE Sensex Today | Stock Market Latest Update: June 3, 2021 Share Market, Trade BSE, Nifty, Sensex Live News Updates

शेयर बाजार नए शिखर पर:52,232 पॉइंट पर बंद हुआ सेंसेक्स, 15,700 पॉइंट के पास रहा निफ्टी, टाइटन में आया 7% का उछाल

मुंबई5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

घरेलू शेयर बाजार में आज भी चौतरफा खरीदारी हुई। बीएसई और एनएसई, दोनों के बेंचमार्क इंडेक्स लगभग 1 पर्सेंट के उछाल के साथ रिकॉर्ड हाई लेवल पर बंद हुए। बीएसई का सेंसेक्स 383 पॉइंट यानी 0.74% के उछाल के साथ 52,232 पॉइंट पर रहा। एनएसई का निफ्टी 114.15 पॉइंट यानी 0.73% के उछाल के साथ 15,690 पॉइंट पर बंद हुआ।

स्मॉल कैप में 1.15% का उछाल आया

छोटे और मझोले शेयरों में भी बड़ी खरीदारी हुई। निफ्टी का मिड कैप 0.93% मजबूत हुआ जबकि स्मॉल कैप में 1.15% का उछाल आया। बाजार को रियल्टी और मीडिया शेयरों में जोरदार खरीदारी का फायदा मिला। निफ्टी रियल्टी इंडेक्स में 3.79% का उछाल आया। फार्मा इंडेक्स में 0.26% की गिरावट आई, बाकी सभी सेक्टर इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए।

सेंसेक्स 272 और निफ्टी 79 पॉइंट ऊपर खुला

गुरुवार को बड़े गैप-अप के साथ शेयर बाजार की मजबूत शुरुआत हुई। पिछले बंद स्तर से सेंसेक्स 272.1 अंक और निफ्टी 79.35 पॉइंट ऊपर खुला। PNB हाउसिंग फाइनेंस के शेयर में एक बार फिर 10% का उछाल आया। सोमवार और मंगलवार को यह 20-20% उछला था, जबकि बुधवार को 10% मजबूत हुआ था। 31 मई को कीमत 438 रुपए थी, जो बढ़कर 763.15 रुपए तक पहुंच गई है।

5,611 से 15,705 के दायरे में रहा निफ्टी

दोपहर डेढ़ बजे तक बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी, दोनों बेंचमार्क इंडेक्स के शेयरों में नियमित रूप से बिकवाली होती रही। दोनों इंडेक्स ने अचानक टॉप गीयर लगाया, जिसमें निफ्टी 5,611 पॉइंट के निचले लेवल से 15,705 पॉइंट के हाई तक चला गया। इसी तरह, सेंसेक्स भी 51,942 पॉइंट तक गिरने के बाद संभलते हुए 52,273 पॉइंट तक चला गया।

NSE निफ्टी
NSE निफ्टी

वोल्टास, टाइटन, मुथूट फाइनेंस में मजबूती

आज वोल्टास, टाइटन, मुथूट फाइनेंस, ONGC, एस्कॉर्ट्स अपोलो हॉस्पिटल, जुबिलेंट फूड, LIC हाउसिंग फाइनेंस, आयशर मोटर, L&T, अडाणी एंटरप्राइजेज, सीमेंस, हैवेल्स, कॉनकॉर, एक्सिस बैंक, SBI और बजाज फाइनेंस में तेजी का रुझान रहा। इंडसइंड बैंक, बायोकॉन, HCL टेक और M&M के शेयरों में गिरावट आई।

15,500 से 16,000 के दायरे में रहेगा निफ्टी

निफ्टी को HDFC बैंक, L&T, टाइटन, कोटक बैंक और इन्फोसिस में खरीदारी का सपोर्ट मिला। इंडसइंड बैंक, विप्रो, HCL टेक, M&M और डॉ रेड्डीज के शेयरों में बिकवाली हुई। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के वाइस प्रेसिडेंट और डेरिवेटिव एनालिस्ट चंदन तापड़िया के मुताबिक, वायदा बाजार के सौदे निफ्टी के 15,500 से 16,000 पॉइंट के दायरे में रहने का संकेत दे रहे हैं।

बाजार को चलाने वाले शेयरों का हाल
बाजार को चलाने वाले शेयरों का हाल

15,800 की तरफ बढ़ेगा निफ्टी

तापड़िया का कहना है कि अगर निफ्टी 15,600 से ऊपर बना रह जाता है तो यह 15,800 के नए ऑल टाइम हाई की तरफ बढ़ेगा। अगर वह इस लेवल को भी पार कर जाता है तो 16,000 पॉइंट की तरफ बढ़ता नजर आएगा। बिकवाली का दबाव बनने पर निफ्टी को पहले 15,550 पॉइंट पर सपोर्ट मिलेगा। उसके बाद 15,431 पॉइंट पर खरीदारी निकल सकती है।

52 वीक हाई

एनएसई के टॉप 100 शेयरों में से मुथूट फाइनेंस, टाइटन, अडाणी एंटरप्राइजेज, अडाणी ट्रांसमिशन, मैरिको, अंबुजा सीमेंट, बजाज फाइनेंस, विप्रो और UPL के शेयर आज 52 वीक हाई पर गए।

तिमाही वित्तीय नतीजे
आज GIC, गुजरात स्टेट पेट्रोनेट, क्वेस कॉर्प, APL अपोलो, क्यूपिड, नीलकमल, सोम डिस्टिलरी सहित 29 कंपनियों के वित्तीय परिणाम आने वाले हैं।

कंपनीमार्च 2021मार्च 2020दिसंबर 2020डिविडेंड
अरविंद फैशंस-103 करोड़-204 करोड़-68 करोड़
APL अपोलो ट्यूब्स119 करोड़56.8 करोड़132 करोड़
नीलकमल38.06 करोड़31.76 करोड़54.30 करोड़10 रुपए
न्यूक्लियस सॉफ्टवेयर27.35 करोड़28.14 करोड़24.80 करोड़6 रुपए

जापान में उछाल, हांगकांग में गिरावट

एशियाई शेयर बाजारों में आज मिला-जुला रुझान रहा। जापान का निक्केई इंडेक्स और कोरिया का कोस्पी मजबूत हुआ। ऑस्ट्रेलिया के ऑल ऑर्डनरीज में भी अच्छा-खासा उछाल आया। चीन के शंघाई कंपोजिट और हांगकांग के हेंगसेंग में गिरावट आई।

अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद

बुधवार को अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद हुए थे। डाउ जोंस 0.07% की बढ़त के साथ 25.07 अंक ऊपर 34,600.40 पर बंद हुआ था। नैस्डैक 0.14% की बढ़त के साथ 19.85 अंक ऊपर 13,756.30 पर बंद हुआ। S&P 500 इंडेक्स 6.08 पॉइंट ऊपर 4,208.12 पर बंद हुआ था। इधर फ्रांस और जर्मनी के बाजार बढ़त के साथ बंद हुए।

FII और DII डेटा

NSE पर मौजूद प्रोविजनल डेटा के मुताबिक, 2 जून को घरेलू और विदेशी संस्थागत निवेशकों, दोनों ने शुद्ध रूप से खरीदारी की। विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) ने शुद्ध रूप से 921.10 करोड़ रुपए जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) ने 241.76 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे थे। यानी दोनों ने जितनी कीमत के शेयर बेचे, उससे कहीं ज्यादा कीमत के शेयर खरीदे।

खबरें और भी हैं...