• Hindi News
  • Business
  • Car Insurance ; Keep These 5 Things In Mind Including Safe Driving And Credit Score, Car Insurance Will Become Cheaper

काम की बात:सेफ ड्राइविंग और क्रेडिट स्कोर सहित इन 5 बातों का रखें ध्यान, सस्ता हो जाएगा कार इंश्योरेंस

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आपके पास कार है? जवाब यदि हां में है तो हर साल इसके इंश्योरेंस पर काफी पैसे खर्च करते होंगे। हम आपको मोटर इंश्योरेंस से जुड़ी ऐसी पांच बातें बता रहे हैं, जिन पर अमल करके आप इंश्योरेंस प्रीमियम पर काफी पैसे बचा सकते हैं। आइए इन पर गौर करते हैं..

आपका ड्राइविंग रिकॉर्ड कैसा है
खुद से पूछें कि क्या आप रिस्की ड्राइवर हैं? इसमें वे लोग आते हैं जिनके साथ पहले दुर्घटना हो चुकी हो (भले ही इसमें आपकी गलती न हो), नए या बुजुर्ग ड्राइवर हैं, ट्रैफिक के नियमों का बार-बार उल्लंघन कर चुके हैं, लापरवाही से या नशे में गाड़ी चलाते पकड़े गए हैं। ऐसा है तो आपका प्रीमियम बढ़ सकता है। यदि आपने बीते कुछ वर्षों में क्लेम किया है, तो इससे भी प्रीमियम बढ़ सकता है। आपने भले इस बारे में पहले से सुन रखा हो, बेहतर यही है कि सावधान रहें।

क्रेडिट स्कोर का भी होता है कुछ असर
आपका पर्सनल इंश्योरेंस स्कोर आंशिक रूप से आपके क्रेडिट स्कोर पर भी निर्भर करता है। क्रेडिट स्कोर का इस्तेमाल आपके साथ जुड़े जोखिम आंकने के लिए किया जाता है। आपको होम और ऑटो लोन किस ब्याज दर पर मिल सकता है, यह तय करने में भी क्रेडिट स्कोर का इस्तेमाल होता है। यदि आपका क्रेडिट स्कोर कम है तो आपकी कार के इंश्योरेंस का प्रीमियम भी बढ़ सकता है। इसलिए कोशिश करें कि आपका क्रेडिट स्कोर कभी 750 से नीचे न आए।

आप कार कितनी ड्राइव करते हैं
आपकी गाड़ी जितनी अधिक चलती है, दुर्घटना होने की संभावना उतनी ही ज्यादा होती है। यदि आपकी जीवन शैली में इसे लेकर कोई बदलाव आता है तो बीमा कंपनी को इस बारे में बताएं। यदि गाड़ी कम चला रहे हैं तो आप प्रीमियम की कम दर पाने के हकदार हो सकते हैं।

आपने किस तरह की कार खरीदी है
आम तौर पर दुर्घटना के बाद नई कार की मरम्मत में ज्यादा खर्च होता है। नई कार के चोरी होने का खतरा भी अधिक होता है। इसलिए यदि आप कार खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो बीमा कंपनी से संपर्क करके पहले ही जान लें कि आपके लिए नई कार के प्रीमियम की दर क्या होगी। ध्यान रखें कि सिर्फ लग्जरी कारें ही नहीं हैं जिनके चोरी होने का जोखिम अधिक होता है, चोर अधिक डिमांड वाले खास पार्ट्स के लिए भी कुछ कारों को निशाना बनाते हैं।

कार ड्राइवर की उम्र कितनी है
यदि आप किसी को ड्राइवर के तौर पर कार चलाने के लिए रखते हैं तो उसकी उम्र भी प्रीमियम की दर बढ़ा या घटा सकती है। यदि आप किसी टीनएजर या किशोर को ड्राइवर रखना चाहते हैं तो एक बार और सोच लें। उसके नए ड्राइवर होने से जुड़े अपने जोखिम होंगे। इसके चलते मोटर इंश्योरेंस का प्रीमियम बढ़ सकता है। बेहतर होगा कि कम उम्र के ड्राइवर की जगह अनुभवी ड्राइवर रखें। ऐसा करना आपकी सुरक्षा और खर्च, दोनों के लिए बेहतर होगा।