राहत / सरकार ने ईएसआई में कर्मचारियों का अंशदान घटाकर 0.75%, नियोक्ता का 3.25% किया

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 12:56 PM IST



सिंबॉलिक इमेज। सिंबॉलिक इमेज।
X
सिंबॉलिक इमेज।सिंबॉलिक इमेज।

  • नई दरें 1 जुलाई से लागू होंगी, मौजूदा दरें 1.75% (कर्मचारी) और 4.75% (नियोक्ता) हैं
  • इस फैसले से 3.6 करोड़ कर्मचारियों और 12.85 लाख नियोक्ताओं को फायदा होगा
  • अंशदान घटने से कंपनियों को सालाना 5,000 करोड़ रुपए की बचत होगी

नई दिल्ली. सरकार ने स्वास्थ्य बीमा योजना (ईएसआईसी) में कर्मचारियों और नियोक्ता का कुल अंशदान 6.5% से घटाकर 4% कर दिया है। श्रम मंत्रालय के मुताबिक नियोक्ता को 4.75% की बजाय 3.25% और कर्मचारी को 1.75% की बजाय 0.75% अंशदान देना होगा। मंत्रालय ने गुरुवार को इसका ऐलान किया। नई दरें 1 जुलाई से लागू होंगी।

 

श्रम मंत्रालय ने इस फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए कहा है कि इससे 3.6 करोड़ कर्मचारियों और 12.85 लाख नियोक्ताओं को फायदा होगा। कंपनियों को सालाना 5,000 करोड़ रुपए की बचत होगी। 2018-19 में 12.85 लाख नियोक्ताओं और 3.6 करोड़ कर्मचारियों ने ईएसआई स्कीम में 22,279 करोड़ रुपए का योगदान दिया था।

 

सरकार ने 1 जनवरी 2017 से ईएसआई का दायरा बढ़ाकर 21,000 रुपए तक मासिक वेतन वाले कर्मचारियों को इसमें शामिल किया था। पहले 15,000 रुपए तक सैलरी वाले कर्मचारियों को इसका लाभ मिलता था।

COMMENT