• Hindi News
  • Business
  • Corona ; Coronavirus ; Air India ; Air India Starts Special Booking For America, Singapore And London, 15,000 Indians Stranded Abroad Will Be Brought Back

वापसी की उम्मीदें:एअर इंडिया ने शुरू की अमेरिका, सिंगापुर और लंदन के लिए स्पेशल बुकिंग, विदेश में फंसे 15000 भारतीयों को लाया जाएगा वापस

नई दिल्ली2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भारत और अमेरिका के बीच वंदे भारत अभियान के तहत चल रही उड़ानों के लिए प्रति यात्री किराए के तौर पर एक लाख रुपए लिए जा रहे हैं। - Dainik Bhaskar
भारत और अमेरिका के बीच वंदे भारत अभियान के तहत चल रही उड़ानों के लिए प्रति यात्री किराए के तौर पर एक लाख रुपए लिए जा रहे हैं।
  • एअर इंडिया ने सहायता के लिए अपने नंबर भी जारी किए हैं
  • यात्रा का पूरा किराया यात्री को ही देना होगा

एअर इंडिया ने अमेरिका, ब्रिटेन और सिंगापुर के वैध वीजाधारकों और जाने की शर्तों को पूरा करने वाले विदेशी नागरिकों के लिये वंदे भारत अभियान के तहत 7 से 14 मई तक वहां जाने वाली उड़ानों के लिए बुकिंग शुरू कर दी है। अधिकारियों ने कहा कि विदेशी नागरिकों या वैध वीजा धारकों से वही किराया लिया जाएगा, जो वहां से आने वाले भारतीय नागरिकों से लिया जा रहा है।

जानिए कितना किराया देना होगा
भारत और अमेरिका के बीच वंदे भारत अभियान के तहत चल रही उड़ानों के लिए प्रति यात्री किराए के तौर पर एक लाख रुपए लिए जा रहे हैं। भारत और सिंगापुर के बीच उड़ान का किराया प्रति यात्री 18000 से 20000 रुपए है जबकि ब्रिटेन के लिए किराया प्रति यात्री के हिसाब से 50000 रुपए है। गृह मंत्रालय ने मंगलवार को स्पष्ट किया था कि जिस व्यक्ति के पास विदेशी भारतीय नागरिकता (ओसीआई) कार्ड या दूसरे देश की नागरिकता या उस देश का एक साल से अधिक अवधि का वैध वीजा है या ग्रीन कार्ड है, वह वंदे भारत अभियान के तहत भारत से उस देश की यात्रा का पात्र है।

विदेश में फंसे करीब 15000 भारतीयों को वापस लाया जाएगा
एक दिन पहले ही नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने घोषणा की थी कि एअर इंडिया 7 से 13 मई तक 12 देशों के लिए 64 उड़ानों का संचालन करके कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण विदेश में फंसे करीब 15000 भारतीयों को वापस लाएगा। एयरलाइन के अधिकारियों ने बताया कि कुछ उड़ानों में देरी होने से अब 64 उड़ानें सात से 14 मई तक चलेंगी।

यहां मिलेगी पूरी जानकारी
एअर इंडिया ने इस संबंध में सहायता के लिए अपने नंबर भी जारी किए हैं। नियमों और शर्तों को पूरा करने वाले यात्री 0124-2641405 या 020-26231407 या 18602331407 पर फोन करके सहायता प्राप्त कर सकते हैं।