• Hindi News
  • Business
  • Corona ; Coronavirus ; Lockdown ; Restaurant Industry ; Restaurant Industry United To Compete With Food Aggregators Like Swiggy And Zomato, Creating Online Food Delivery Platform, 5 Lakh Restaurants To Join Digital Platform

कोरोना संकट:स्विगी और जोमेटौ जैसे फूड एग्रीगेटर्स को टक्कर देने के लिए रेस्तरां इंंडस्ट्री हुई एकजुट, बना रही है ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफाॅर्म, 5 लाख रेस्टोरेंट जुड़ेंगे डिजिटल प्लेटफॉर्म से

नई दिल्ली2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सख्त देशव्यापी लॉकडाउन के कारण रेस्तरां इंडस्ट्री को भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है। - Dainik Bhaskar
सख्त देशव्यापी लॉकडाउन के कारण रेस्तरां इंडस्ट्री को भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है।
  • नेशनल रेस्टोरेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया देशभर के 5 लाख से अधिक रेस्तरां का प्रतिनिधित्व करती हैं
  • अनुराग ने बताया कि वे नहीं चाहते हैं कि रेस्तरां किसी अन्य फूड एग्रीगेटर्स पर निर्भर रहें।

नेशनल रेस्तरां एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एनआरएआई) टेक्नोलाॅजी प्लेटफाॅर्म पर काम कर रहा है। लाॅकडाउन के बाद रेस्तरां एसोसिएशन स्विगी और जोमेटौ जैसे फूड एग्रीगेटर्स पर अपनी निर्भरता को कम करने के लिए ऑनलाइन ऑर्डर, फूड डिलीवरी, लॉयल्टी प्रोग्राम और काॅन्टैक्टलेस डाइनिंग (संपर्क रहित फूड) जैसे विकल्प को शुरू करेगी। बता दें कि देशभर के 5 लाख से अधिक रेस्तरां का प्रतिनिधित्व करने वाली नेशनल रेस्टोरेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है जब सख्त देशव्यापी लॉकडाउन के कारण रेस्तरां इंडस्ट्री को भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है।

लाॅकडाउन के बाद रेस्तरां इंडस्ट्री डिजिटल कारोबार करेगी
लाॅकडाउन के बाद एसोसिएशन अपने कारोबार में बदलाव लाने पर विचार कर रही है। एनआरएआई के अध्यक्ष अनुराग कटियार ने कहा कि जल्द ही हम डिजिटल प्लेटफाॅर्म के जरिए कारोबार करेंगे। इसके लिए रेस्तरां एसोसिएशन ने एक टीम का गठन किया है। अनुराग ने बताया कि वे नहीं चाहते हैं कि रेस्तरां किसी अन्य फूड एग्रीगेटर्स पर निर्भर रहें। फूड एग्रीगेटर्स ने रेस्तरां इंडस्ट्री के लिए परेशानी खड़ी कर दी है इसलिए अब सभी रेस्तरां को कारोबार के लिए डिजिटल प्लेटफार्म से जोड़ा जाएगा। अनुराग का कहना है, 'इससे रेस्तरां के डेटा पर सिर्फ हमारा मालिकाना हक रहेगा।' यानी अब रेस्तरां और ग्राहक के बीच कोई फूड एग्रीगेटर्स नहीं रहेगा।

वाॅटसऐप, फेसबुक से जुड़कर करोबार करना चाहती है
अनुराग ने बताया कि एसोसिएशन अन्य वैकल्पिक डिलीवरी और लॉजिस्टिक्स कंपनियों के साथ साझेदारी पर काम भी कर रही हैं। यहां तक ​​कि रेस्तरां वाॅट्सएप, फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्मों से भागीदारी को लेकर विचार कर रही है ताकि ग्राहक सीधे सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिए खाना ऑर्डर व डाइनिंग का लाभ उठा सकें। साथ ही डिजिटल प्लेटफार्म पर ग्राहकों को डिस्काउंट और फिक्स्ड कमीशन समेत अन्य ऑफर की सुविधा भी दी जाएंगी।

लाॅकडाउन के बाद जोमैटो शुरू करेगी 'कॉन्टैक्टलेस डाइनिंग'
हाल ही में फूड सर्विस एग्रीगेटर व डिलीवरी ऐप जोमैटो ने 'कॉन्टैक्टलेस डाइनिंग' सर्विस शुरू करने का ऐलान किया है। जोमैटो की यह पहल सोशल डिस्टेंसिंग को बढ़ावा देने के लिए है। इसके पहल के तहत ग्राहक अपने मेनू को जोमैटो ऐप के जरिए प्री-बुक कर सकेंगे। ऐप के जरिए ग्राहक रेस्तरां पहुंच कर भी मेनू सेलेक्ट कर सकते हैं। इतना ही नहीं वे रेस्तरां में बैठने के लिए भी ऐप के माध्यम से ही सीट बुक कर पाएंगे। कंपनी अपने ऐप में नए फीचर्स जोड़ने की दिशा में काम कर रही है। मेनू कार्ड और बिल भुगतान को पूरी काॅन्टैक्टलेस किया जाएगा। यानी ग्राहक बिना मेनू कार्ड को टच किए ही ऐप पर जाकर बार कोड के जरिए खाना ऑर्डर कर सकेंगे। टेबल पर कस्टमर तक खाना बेहद सेफ और नियमों का पालन करते हुए पहुंचाया जाएगा। भुगतान की प्रक्रिया पूरी तरह डिजिटली होगा।