• Hindi News
  • Business
  • corona ; coronavirus ; Aviation industry loss of 19 lakh crore rupees, companies warned to stop working forever

कोरोनावायरस का असर / एविएशन इंडस्ट्री को 19 लाख करोड़ रुपए के रेवेन्यू का नुकसान, कंपनियों ने हमेशा के लिए कामकाज बंद करने की दी चेतावनी

corona ; coronavirus ; Aviation industry loss of 19 lakh crore rupees, companies warned to stop working forever
X
corona ; coronavirus ; Aviation industry loss of 19 lakh crore rupees, companies warned to stop working forever

दैनिक भास्कर

Mar 25, 2020, 01:25 PM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस की वजह से एयरलाइन इंडस्ट्री को सबसे ज्यादा नुकसान उठाना पड़ रहा है। ग्लोबल एविएशन एसोसिएशन के मुताबिक एयरलाइंस इंडस्ट्री मौजूदा वक्त में इस हालात में पहुंच गई हैं, जहां उन्हें बिना सरकाी मदद के गुजारा करना संभव नहीं होगा। गौरतलब है कि कोरोना वायरस की वजह से दुनिया के ज्यादा देशों ने घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ाने रोक दी हैं। ऐसे में एविएशन इंडस्ट्री को रोजाना करोड़ों रुपए का नुकसान हो रहा है। इसलिए एविएशन इंडस्ट्री की तरफ से तत्काल प्रभाव से आर्थिक मदद की मांग की है। रिपोर्ट के मुताबिक इस साल एविएशन इंडस्ट्री को रेवेन्यू में 250 बिलियन डॉलर (19,06,875 करोड़ रुपए) का नुकसान उठाना पड़ सकता है।


रेवेन्यू में 44 फीसदी की गिरावट
इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने कहा अगर हवाई यात्रा में तीन माह तक प्रतिबंध जारी रहता है, तो सालाना पैसेंजर रेवेन्यू 252 बिलियन डॉलर तक कम हो सकता है। इससे इस साल का रेवेन्यू साल 2019 के मुकाबले 44 फीसदी कम होगा। आईएटीए चीफ एलेक्जेंडर डे जुनेक ने कहा कि एविएशन इंड्स्ट्री के रेवेन्यू में गिरावट इतिहास की सबसे बड़ी गिरावट है। एयरलाइंस दुनिया के हर कोने में अपनी अस्तित्व बचाने की लड़ाई लड़ रही हैं। उन्होने कहा कि हवाई यात्राओं पर प्रतिबंध और डिमांड न होने के चलते एयरलाइंस इंडस्ट्री को भारी नुकसान हो रहा है। ऐसे में सरकारों को एयरलाइंस इंडस्ट्री बचाने के लिए क्राइसिस फंड के तहत सामने आना चाहिए।


एयरलाइंस को बचाने के लिए 200 बिलियन डॉलर की जरूरत
आईएटीए ने पिछले हफ्ते चेतावनी दी थी कि दुनिया की एयरलाइनों को बचाने के लिए 200 बिलियन डॉलर तक की जरूरत है। उन्होंने कहा कुछ सरकारों ने इस ओर कदम उठाए हैं। लेकिन इसके बावजूद हालात चिंताजनक बने हुए हैं। उन्होंने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आईएटीए ने COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए सरकारी उपायों का पूरी तरह से समर्थन किया। गौरतलब है कि दुनिया भर में लगभग 400,000 लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हैं, जिसमें अब तक 17,000 के करीब लोग मारे गए हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना