• Hindi News
  • Business
  • corona ; coronavirus ; lockdown ; People panic after the lockdown announcement, crowds thronged the markets, ration bought for several days

कोरोनावायरस का कहर / लॉकडाउन की घोषणा के बाद पैनिक हुए लोग, बाजारों में उमड़ी भीड़, कई दिनों का खरीदा राशन

corona ; coronavirus ; lockdown ; People panic after the lockdown announcement, crowds thronged the markets, ration bought for several days
X
corona ; coronavirus ; lockdown ; People panic after the lockdown announcement, crowds thronged the markets, ration bought for several days

दैनिक भास्कर

Mar 25, 2020, 04:03 PM IST

नई दिल्ली. पीएम मोदी ने 24 मार्च रात 8 बजे देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने अगले 21 दिनों तक देश में लॉकडाउन का ऐलान किया है। इसके बाद से ही देशभर के कई शहरों में लोग राशन, दूध और सब्जी जैसे जरूरी सामान के लिए दुकान पहुंच रहे हैं। लोगों को डर है कि इस 21 दिन के लॉकडाउन में उन्हें रोजाना की जरूर चीजों से महरूम रहना पड़ सकता है। इसकी वजह से युद्धस्तर पर खरीदारी करके एक से माह का राशन घर में स्टोर किया जा रहा है। हालांकि पीएम मोदी ने यह सलाह दी है कि बिना जरूरत का सामान खरीदने के लिए भीड़ इकट्ठा न करें।


दो घंटे में बिका 50-60 हजार का राशन
नोएडा सेक्टर 35 स्थित एक किराना स्टोर चलाने वाले राजकुमार का कहना है कि कल रात 9 बजे के बाद अचानक दुकानों पर बड़ी संख्या में लोग खरीदारी के लिए पहुंचने लगें। हालांकि बढ़ती भीड़ के कारण पुलिस वालों ने दुकान बंद करने का आदेश दे दिया। इस बीच करीब दो घंटे दुकान खुली रही, जहां 50 हजार से ज्यादा का सामान बिक गया। राजकुमार बताते हैं कि पहला मौका है जब सिर्फ दो घंटे में इतनी अच्छी बिक्री देखने को मिली। उन्होंने बताया कई ग्राहक ऐसे भी आएं जो कि एक महीने से ज्यादा का राशन खरीदकर ले गए।


'घबराने की जरूरत नहीं, एक साल का है स्टाॅक'
सबसे बड़े होलसेल किराना मार्केट खाड़ी बावली, चांदनी चौक के प्रेसिडेंट बंटी का कहना है कि अफवाहों के बीच शनिवार देर रात तक 100 फीसदी से ज्यादा पैनिक बाईंग हुई है। रविवार से यह मार्केट बंद हो चुकी है। रिटेलर्स ने भरपुर मात्रा में सामान खरीद कर रख लिया है। ऐसे में दिल्ली-एनसीआर में राशन की किल्लत नहीं होनी चाहिए। अगर किसी रिटेलर्स या सरकारी राशन दुकान वालों को सामान चाहिए तो उनको मार्केट एसोसिएशन की तरफ से प्रोवाइड करवाया जाएगा। वे बताते हैं कि यह समय कृषि उत्पादन का है और इस में मार्केट में अनाज की कमी नहीं होती है। उन्होंने बताया कि खाड़ी बावली में अनाज का एक साल का स्टाॅक है और यह पुरानी कीमतों पर ही बेची जाएगी। इसलिए लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है।


'आलू, प्याज और टमाटर की बिक्री बढ़ी'
दिल्ली के आजादपूर मंडी के टीटीए एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव कुमार का कहना है कि इन दिनों लोग आलू, टमाटर और प्याज की खरीदारी ज्यादा कर रहे हैं। हालांकि अफवाहों के बीच आलू की कीमत में बढ़ोतरी हुई है। इन दिनों आलू 30-35 रुपए किलो के भाव से मिल रहा है। पहले हम 15-20 रुपए किलो आलू बेचते थे। इसके बावजूद आलू की खरीदारी में पैनिक बाईंग देखा जा रहा है। 5 किलो आलू लेने वाले ग्राहक अभी 15 किलो आलू एकसाथ खरीद रहे हैं। आलू के बाद बड़ी संख्या में लोग प्याज खरीद रहे हैं। राजीव कुमार बताते हैं कि अभी आजादपुर मंडी सुबह 3 बजे से 6 बजे तक खुलती है। इस बीच एक घंटे में ही आलू, टमाटर और प्याज बिक जाता है। वहीं, हरी सब्जी को लेकर किसी तरह की कोई पैनिक बाईंग का माहौल नहीं है। पहले की तरह ही खरीदारी जारी है। बता दें कि पहले आजादपुर मंडी सुबह 7 से रात 8 बजे तक खुलती थी। एक अन्य सब्जी विक्रेता आदिल राय के मुताबिक, सिर्फ एक घंटे में आलू, टमाटर और प्याज की थोक बिक्री 45-50 लाख तक की हो जाती है। आदिल के मुताबिक, मार्केट में टमाटर और प्याज की किल्लत नहीं है लेकिन आगे आलू की किल्लत होने की संभावना है।


क्या कहा लोगों ने
न्यू कोंडली, नई दिल्ली के निवासी गौतम साव ने बताया कि लाॅकडाउन की घोषणा होते ही मंगलवार की रात काफी संख्या में लोग राशन की खरीदारी के लिए अपने मोहल्ले की दुकानों पर पहुंच गए। स्थिति को समझते हुए दुकानें रात 12 बजे तक खुली रहीं। इतना ही नहीं जिन गलियों में आमतौर पर सब्जी का ठेला नजर नहीं आता था वहां सब्जी बेचने वाले कुछ ठेले भी नजर आएं। वहीं, दिल्ली के कुछ दुकानों पर दूध की आपूर्ति नहीं हुई है। दुकानदारों ने डीपो पर जाकर दूध उठाए हैं। उन्होंने यह सलाह दी है कि दो-तीन दिनों के लिए दूध खरीद लें। आगे दूध आएगा या नहीं इस की गारंटी नहीं है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना