• Hindi News
  • Business
  • Disney Lost About 10 Thousand Crore Rupees In Three Months, Plans To Open Shanghai Park From May 11

कोरोनावायरस इफेक्ट:डिज्नी को तीन महीने में करीब 10 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ, 11 मई से शंघाई पार्क खोलने की योजना बना रही

शंघाई2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कंपनी के चीफ एग्जीक्यूटिव बॉब चापेक ने कहा कि कंपनी को चरणबद्ध दृष्टिकोण अपनाना होगा, जिसमें लोगों की उपस्थिति को सीमित करने के लिए एडवांस रिजर्वेशन की जरूरत पड़ेगी। - Dainik Bhaskar
कंपनी के चीफ एग्जीक्यूटिव बॉब चापेक ने कहा कि कंपनी को चरणबद्ध दृष्टिकोण अपनाना होगा, जिसमें लोगों की उपस्थिति को सीमित करने के लिए एडवांस रिजर्वेशन की जरूरत पड़ेगी।
  • डिज्नी प्लस सर्विस में कंपनी को तिमाही में लगभग 6 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ
  • शंघाई और हांगकांग में जनवरी, टोक्यो में फरवरी, अमेरिका और फ्रांस में मार्च से पार्क बंद हैं

वॉल्ट डिज्नी कंपनी को साल के पहले तीन महीने में 1.4 बिलियन डॉलर (करीब 10,611 करोड़ रुपए) का नुकसान उठाना पड़ा। दरअसल, कोरोनावायरस के चलते कंपनी ने अपने सभी पार्क बंद कर दिए हैं। मूवी रिलीजिंग कैंसल कर दी हैं। साथ ही, विज्ञापन की सेल भी कम कर दी है। कुल मिलाकर कंपनी के कारोबार का हर हिस्सा वायरस से प्रभावित हुआ है और तिमाही का प्रॉफिट पूरी तरह खत्म हो गया।

डिज्नी चेयरमैन बॉब इगर ने कहा कि हमारी कंपनी अभूतपूर्व चुनौतियों का सामना कर रही है, लेकिन हमें रिकवरी की पूरी उम्मीद है। हम 11 मई से अपना शंघाई स्थित डिज्नीलैंड पार्क खोलने की योजना बना रहे हैं। दूसरी तरफ, कंपनी के चीफ एग्जीक्यूटिव बॉब चापेक ने कहा कि कंपनी को चरणबद्ध दृष्टिकोण अपनाना होगा, जिसमें लोगों की उपस्थिति को सीमित करने के लिए एडवांस रिजर्वेशन की जरूरत पड़ेगी। उन्होंने कहा कि हमें मास्क और टेम्परेचर की जांच करने वाले स्वास्थ्य उपायों की भी आवश्यकता होगी।

बॉब चापेक ने बताया कि चीन के कई हिस्सों में अब स्थिति सामन्य है, जिससे वहां पर हम वापसी के संकेत देख रहे हैं। हालांकि, अभी इस बात का अनुमान लगाना जल्दबाजी होगी कि हम अपने सभी बिजनेस को फिर से कब शुरू कर पाएंगे। हमें अपने पार्क फिर से खोलने के लिए सतर्क और समझदारी के साथ बेहतर दृष्टिकोण की जरूरत है।

पेड सब्सक्रिप्शन और थिएटर अटेंडेंस में गिरावट

हाल के कुछ सालों में डिज्नी को पार्क और क्रूज डिवीजन से काफी प्रॉफिट मिला है, क्योंकि कंपनी के मीडिया बिजनेस ने ऑनलाइन कॉम्पटिशन को देखते हुए सही दिशा में प्रयास किया। हालांकि पेड-टीवी सब्सक्रिप्शन और मूवी थिएटर अटेंडेंस में गिरावट आई है। लेकिन पार्क बिजनेस बंद होने से कंपनी की ऑपरेटिंग इनकम पर 1 बिलियन से 1.4 बिलियन (करीब 10,611 करोड़ रुपए) का घाटा हुआ है। बता दें कि कंपनी ने अपने पार्कों को जनवरी में शंघाई और हांगकांग में, फरवरी में टोक्यो में और मार्च में अमेरिका और फ्रांस में बंद कर दिया था। साथ ही, क्रूज लाइन ने परिचालन को भी निलंबित कर दिया।

चापेक ने कहा कि उन्होंने सोचा था कि फर्म को लिमिटेड तरीके से री-ओपन करने पर काम की पर्याप्त डिमांड होगी, लेकिन शंघाई के बाहर अधिकारियों ने चेतावनी दी कि फिर से खोलने का समय स्पष्ट नहीं है। टेलीविजन आउटपुट का सपोर्ट करने वाले एडवरटाइजिंग बिजनेस में भी महत्वपूर्ण गिरावट देखने को मिली। क्योंकि लाइव स्पोर्ट्स एक्टिविटी बंद होने के चलते डिज्नी ईएसपीएन स्पोर्ट्स चैनल को विज्ञापन नहीं मिले।

कंपनी का उतार-चढ़ाव

डिज्नी ने पिछले साल नई डिज्नी प्लस स्ट्रीमिंग सर्विस लॉन्च की थी, जिससे 4 मई तक 54.5 मिलियन (5 करोड़ 45 लाख) ग्राहकों को जुड़ गए थे। जबकि 8 अप्रैल तक इससे लगभग 50 मिलियन (5 करोड़) ग्राहक जुड़े थे। हालांकि, यह कंपनी के लिए घाटे का सौदा साबित हुआ। डिज्नी प्लस सर्विस में डायरेक्ट-टू-कंज्यूमर और इंटरनेशनल यूनिट शामिल हैं, उसने तिमाही में 812 मिलियन डॉलर (लगभग 6 हजार करोड़ रुपए) का नुकसान दर्ज किया।

डिज्नी ने बताया कि वह अपने फाइनेंस को कम करने के लिए कई कदम उठा रही है। पिछले महीने उसने अपने लगभग आधे कर्मचारियों को पेमेंट नहीं किया। वहीं, 1 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को निकाल दिया, जिसमें सबसे ज्यादा पार्क और होटल के कर्मचारी थे। डिज्नी चेयरमैन बॉब इगर ने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि हम वापसी करेंगे, लेकिन इसमें थोड़ा वक्त लगेगा।

खबरें और भी हैं...