पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Business
  • Dow Jones Live| Dow Jones Opened Below 112 Points, An Atmosphere Of Uncertainty Around The World; Fall In Almost All Major Markets Except China And Japan

अमेरिकी बाजार:112 अंक नीचे खुला डाउ जोंस, दुनियाभर में अनिश्चित्ता का माहौल; चीन और जापान को छोड़कर लगभग सभी प्रमुख बाजारों में गिरावट

न्यूयॉर्कएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नैस्डैक 0.10 फीसदी की गिरावट के साथ 11 अंक नीचे और एसएंडपी 0.25 फीसदी की गिरावट के साथ 8 अंक नीचे खुला
  • बाजार खुलते समय डाउ जोंस 27784, नैस्डैक 11031 और एसएंडपी 3365 अंक पर कारोबार कर रहे थे
  • गुरुवार को डाउ जोंस 0.29 फीसदी यानी 80 अंक की गिरावट के साथ 27896 अंक पर बंद हुआ था

शुक्रवार को अमेरिकी बाजार में गिरावट के साथ खुले। डाउ जोंस 0.40 फीसदी की गिरावट के साथ 112 अंक नीचे खुला। नैस्डैक 0.10 फीसदी की गिरावट के साथ 11 अंक नीचे और एसएंडपी 0.25 फीसदी की गिरावट के साथ 8 अंक नीचे खुला। बाजार खुलते समय डाउ जोंस 27784, नैस्डैक 11031 और एसएंडपी 3365 अंक पर कारोबार कर रहे थे।

शुक्रवार को दुनिया के ज्यादातर प्रमुख बाजारों में गिरावट रही। जापान का निक्केई 39 अंक, चीन के शंघाई कम्पोसिट में 39 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। जबकि कोरिया का कोस्पी 30 अंक हॉन्गकॉन्ग का हैंग सैंग 47 अंक और भारत का निफ्टी 122 अंक की गिरावट के साथ बंद हुए। वहीं इस समय यूके टाइम के FTSE, फ्रांस का CAC, जर्मनी का DAX, इटली का FTSE MIB और रूस का MICEX गिरावट में कारोबार कर रहे हैं।

इस समय यूके टाइम के FTSE, फ्रांस का CAC, जर्मनी का DAX, इटली का FTSE MIB और रूस का MICEX गिरावट में कारोबार कर रहे हैं।
इस समय यूके टाइम के FTSE, फ्रांस का CAC, जर्मनी का DAX, इटली का FTSE MIB और रूस का MICEX गिरावट में कारोबार कर रहे हैं।

गुरुवार को उतार-चढ़ाव के साथ बंद हुआ था डाउ जोंस
गुरुवार को डाउ जोंस 0.29 फीसदी यानी 80 अंक की गिरावट के साथ 27896 अंक पर बंद हुआ था। नैस्डैक 0.27 फीसदी यानी 30 अंक की बढ़त के साथ 11042 अंक पर और एसएंडपी 0.20 फीसदी यानी 6 अंक की गिरावट के साथ 3373 अंक पर बंद हुआ था।

अमेरिका: कोरोना संक्रमण के मामले 54 लाख के पार
worldometers वेबसाइट के मुताबिक, शुक्रवार को अमेरिका में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 54 लाख 18 हजार 045 पर पहुंच गया। देश में अब तक 1 लाख 70 हजार 446 मौतें हो चुकी हैं जबकि 28 लाख 44 हजार 250 लोग ठीक हो चुके हैं। दुनिया में कोरोनावायरस संक्रमण के अब तक 2 करोड़ 11 लाख 8 हजार 478 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 39 लाख 55 हजार 549 मरीज ठीक हो चुके हैं। 7 लाख 58 हजार 114 की मौतें हो चुकी हैं।

इजराइल और यूएई के बीच ऐतिहासिक शांति समझौता

इजराइल और यूएई के बीच हुए ऐतिहासिक शांति समझौते के तीन किरदार। इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (बाएं), यूएई के प्रिंस मोहम्मद शेख जायेद (दाएं ) और बीच में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प। (फाइल)
इजराइल और यूएई के बीच हुए ऐतिहासिक शांति समझौते के तीन किरदार। इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (बाएं), यूएई के प्रिंस मोहम्मद शेख जायेद (दाएं ) और बीच में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प। (फाइल)

दुनिया के कई हिस्सों में बढ़ते तनाव के बीच इस साल पहली बार अमन बहाली के लिहाज से एक बड़ी खबर सामने आई। कट्टर दुश्मन माने जाने वाले इजराइल और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के बीच गुरुवार को ऐतिहासिक शांति समझौता हुआ। दोनों देशों के बीच मध्यस्थ की भूमिका निभाने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने खुद ट्विटर पर इसकी जानकारी दी।

कई महीने की बातचीत जो गुप्त रखी गई
ट्रम्प कई महीनों से इस समझौते के लिए कोशिश कर रहे थे। हर तरह की बातचीत को बेहद गुप्त रखा गया। यही वजह है कि गुरुवार रात जब इसकी घोषणा हुई तो कई देश हैरान रह गए। वजह भी साफ है। इजराइल और अरब या खाड़ी देशों की दुश्मनी उतनी ही ऐतिहासिक है, जितना यह समझौता। ट्रम्प ने समझौते से ऐलान से पहले इसे पुख्ता तौर पर स्थापित करने के लिए फोन पर एक साथ नेतन्याहू और शेख जायेद से बातचीत की। अब इजराइल और यूएई एक-दूसरे के देशों में राजनयिक मिशन यानी एम्बेसी शुरू कर सकेंगे।

ट्रम्प ने एक तीर से दो निशाने साधे
इस समझौते का पहला और जाहिर तौर पर मकसद ईरान पर शिकंजा कसना है। ईरान शिया बहुल देश है। उसके अरब देशों और अमेरिका, दोनों से रिश्ते तनावपूर्ण हैं। इजराइल को भी वो कट्टर दुश्मन मानता है। ईरान एटमी ताकत हासिल करना चाहता है। अमेरिका, इजराइल और अरब देश उसे रोकना चाहते हैं। अब जबकि यूएई और इजराइल औपचारिक तौर पर करीब आ गए हैं तो अमेरिका को ज्यादा मजबूती मिलेगी। वो ईरान पर शिकंजा कस सकेगा। दूसरी तरफ, नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से पहले ट्रम्प इसे अपनी जीत की तरह पेश करेंगे। समझौते के कामयाब होने में ज्यादा शक की गुंजाइश इसलिए नहीं है क्योंकि इजराइल और यूएई पिछले दरवाजे की कूटनीति के जरिए कई साल से संपर्क में थे।

गिरावट के साथ बंद हुआ भारतीय बाजार
शुक्रवार को कारोबार के आखिरी दिन बीएसई और निफ्टी गिरावट के साथ बंद हुए। आज बीएसई 122.45 अंक और निफ्टी 52.85 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला था। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान बीएसई 107.63 अंक तक और निफ्टी 12.95 पॉइंट तक ऊपर जाने में कामयाब भी रहा, लेकिन ये बढ़त कायम नहीं रह सकी।
कारोबार के अंत में बीएसई 433.15 अंक या 1.13% नीचे 37,877.34 पर और निफ्टी 122.05 पॉइंट या 1.08% नीचे 11,178.40 पर बंद हुआ। आज ल्यूपिन लिमिटेड कंपनी के शेयर में 9% से ज्यादा का उछाल रहा। इससे पहले गुरुवार को बीएसई 59.14 अंक नीचे 38,310.49 पर और निफ्टी 7.95 पॉइंट गिरकर 11,300.45 पर बंद हुआ था।

गुरुवार को बीएसई 59.14 अंक नीचे 38,310.49 पर और निफ्टी 7.95 पॉइंट गिरकर 11,300.45 पर बंद हुआ था।
गुरुवार को बीएसई 59.14 अंक नीचे 38,310.49 पर और निफ्टी 7.95 पॉइंट गिरकर 11,300.45 पर बंद हुआ था।
0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप भावनात्मक रूप से सशक्त रहेंगे। ज्ञानवर्धक तथा रोचक कार्यों में समय व्यतीत होगा। परिवार के साथ धार्मिक स्थल पर जाने का भी प्रोग्राम बनेगा। आप अपने व्यक्तित्व में सकारात्मक रूप से परिवर्तन भ...

और पढ़ें