• Hindi News
  • Business
  • Dubai Expo 2020 Tickets; Everything You Need To Know About Expo 2020 Dubai

दुबई एक्सपो 2020:एक्सपो शुरू होने में कुछ घंटे बाकी, 6 महीने चलने वाले एक्सपो में करीब ढाई करोड़ विजिटर्स पहुंचेंगे

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक अक्टूबर से दुबई एक्सपो शुरू होने जा रहा है, जहां दुनियाभर की 46,000 ऑर्गनाइजेशन से करीब ढाई करोड़ विजिटर्स पहुंचने वाले हैं। दुबई में दुनियाभर के दिग्गज निवेशकों और बिजनेसमैन का जमावड़ा लगने वाला है। इस एक्सपो में वैसे तो करीब 180 देशों के पवेलियन बनाए गए हैं। इंडियन पवेलियन भी तैयार किया गया है। जिसमें भारत की झांकी दिखती है। इंडियन पवेलियन का उद्घाटन एक अक्टूबर को भारत के उद्योग और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल करेंगे। यह एक्सपो 31 मार्च 2022 तक चलेगा जिसमें भारत से टाटा ग्रुप, रिलायंस, अडाणी, वेदांता, HSBC जैसी दिग्गज कंपनियां शामिल होंगी।

इंडियन पवेलियन में 600 ब्लॉक्स बनाए गए
इस भव्य इंडियन पवेलियन में 600 ब्लॉक्स बनाए गए हैं। जो हमेशा रोटेट करते हैं। ये इस बात के परिचायक हैं की भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। पवेलियन के अंदर सांस्कृतिक रूप से समृद्ध भारत के साथ साथ ये भी बताया गया है कि 5 ट्रिलियन इकोनॉमी के लिए भारत में कितनी अपार सम्भावनाएं हैं। इस इंडियन पवेलियन में एंट्री करते ही भारत की संस्कृति, ऐतिहासिक विरासत के दर्शन होंगे। साथ में आपको एहसास भी हो जाएगा कि भारत आधुनिक तकनीक के मामले में कितना समृद्ध है।

लाइट एंड साउंड शो में भारत की हर क्षेत्र में ऊंची उड़ान को दिखाया
इंडियन पवेलियन की पहली मंजिल पर पुरानी हिंदी फिल्मों के बैनर स्क्रीन बॉलीवुड को खास तरीके से शोकेस किया गया है। एक्सपो के दौरान पवेलियन की दीवार पर होने वाले आकर्षक लाइट एंड साउंड शो में भारत के हर क्षेत्र में ऊंची उड़ान को बेहतरीन तरीके से दिखाया गया है। यहाँ कम से कम 15 राज्य अपने यहां निवेश की अपार संभावनाओं को प्रदर्शित करेंगे। इसकी शुरुआत गुजरात से होगी।

इंडियन पवेलियन को 11 थीम पर तैयार किया
पूरे इंडियन पवेलियन को क्लाइमेट और बॉयोडायवर्सिटी, स्पेस, अर्बन ट्रेवल एंड कनेक्टिविटी, ग्लोबलस गोल्स, हेल्थ और वेलनेस समेत 11 थीम पर तैयार किया गया है। जहां स्पेस टेक्नोलॉजी, रोबोटिक्स, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी, ए़़डू टेक, ई-कॉमर्स, एनर्जी, साइबर सिक्योरिटी, हेल्थकेयर, स्टॉर्टअप्स, मेक इन इंडिया में निवेश की संभावनाएं बताई गई हैं।

इंडियन पवेलियन को तैयार करने में 500 करोड़ रुपए खर्च
संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के दुबई शहर के दुबई एग्जीबिशन सेंटर में इस एक्सपो का आयोजन होगा। दुबई में भारत के मुख्य कोंसुलेट सिद्धार्थ कुमार बराइली ने बताया कि भारतीय पवेलियन को तैयार करने में करीब 500 करोड़ रुपए खर्च हुए। जिसका एरिया करीब 438 हेक्टेयर में फैला हुआ है। इससे पहले 2015 में एक्सपो का मेजबान इटली था और मिलान शहर में इसका आयोजन हुआ था। 2025 में इसकी मेजबानी जापान करेगा।

हर देश का अलग पवेलियन
इवेंट में शामिल लगभग सभी देशों के अपने पवेलियन होंगे, जिन्हें अलग-अलग थीम पर तैयार किया गया है। ये पवेलियन देश की बढ़ती ताकत और क्षमता से लोगों को रूबरू कराएंगे।

18 स्टेशन, 200 लग्जरी बसें और 15 हजार से अधिक टैक्सियां तैनात
व्यापार को गति देने के लिए रोड एंड ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी ने 300 करोड़ रुपए के 15 प्रोजेक्ट पूरे किए हैं। इसमें मेट्रो स्टेशन, 50 मेट्रो ट्रेनों की खरीद, 9 फ्लाईओवर के साथ 138 लेन-किमी की सड़कों का निर्माण शामिल है। यूएई के शहरों को साइट से जोड़ने के लिए 18 स्टेशन, 15000 टैक्सी तैनात की गई है। साइट के 80% निर्माण का उपयोग होगा और रियल एस्टेट, शिक्षा, पर्यटन, परिवहन और रसद के बुनियादी ढांचे और एडवांस टेक्नोलॉजी पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

कोरोना के कारण एक्सपो टाला गया था
बता दें कि पहले यह कार्यक्रम 2020 में ही होना था, लेकिन कोरोना महामारी के चलते इसे एक साल के लिए टाल दिया गया। दुबई में होने वाले इस इवेंट की मेन थीम ‘कनेक्टिंग माइंड, क्रिएटिंग फ्युचर’ है।

यूएई की यात्रा करने वाले यात्री 207% बढ़े
मेहमानों की कुल संख्या में 70% हिस्सेदारी विदेशी पर्यटकों की रही है। GCAA के डेटा के मुताबिक यूएई की यात्रा करने वाले यात्रियों की कुल संख्या अगस्त में 25 लाख पहुंच गई, जो कि 2020 की इसी अवधि में 8.14 लाख थी। यानी 207% की वृद्धि हुई है। यूएई में होटल आरक्षण में एक्सपो 2020 दुबई से पहले अहम वृद्धि देखी गई है। होटल बुकिंग वेबसाइट ‘वीगो’ ने इवेंट अवधि के दौरान दुबई के लिए उड़ानों और होटल रिजर्वेशन के लिए 5 लाख से अधिक सर्च को दर्ज किया है।

अर्थव्यवस्था मजबूती के संकेत दे रही
एक्सपो शुरू होने से पहले यहां की अर्थव्यवस्था मजबूती के संकेत दे रही है। जनवरी से जुलाई तक 30 लाख लोग पहुंचे। दुबई होटल रिजर्वेशन के मामले में दुनिया में दूसरे नंबर पर रहा। 2021 की पहली छमाही में होटल और पर्यटन प्रतिष्ठानों ने 83 लाख मेहमानों को आकर्षित किया, जो 2020 की पहली छमाही की तुलना में 15% ज्यादा है। इस दौरान मेहमानों ने होटल्स में लगभग 3.5 करोड़ रातें बिताईं, जो 30% की वृद्धि को दर्शाता है। होटल इंडस्ट्री में राजस्व वृद्धि 31% रही है।