• Hindi News
  • Business
  • EPFO ; EPF ; PF ; JOB ; Nokari ; 17.08 Lakh Members Joined EPFO In May, 34% More Than Last Year

बेरोजगारी से थोड़ी राहत:मई में EPFO से जुड़े 17.08 लाख सदस्य, ये पिछले साल के मुकाबले 34% ज्यादा

नई दिल्ली14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) से अप्रैल 2022 में 17.08 लाख लोग जुड़े हैं, जो अप्रैल 2021 के मुकाबले 34% ज्यादा है। इससे पता चलता है कि अब देश में फिर से रोजगार बढ़ने लगा है। इससे पहले अप्रैल 2021 में 12.76 सदस्य जुड़े थे। वहीं मार्च 2022 में 15.32 लाख सब्सक्राइबर EPFO से जुड़े थे।

EPFO द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक अप्रैल में जो 17.08 लाख सब्सक्राइबर जुड़े हैं उनमें से 9.23 लाख पहली बार EPF में शामिल हुए हैं। जबकि 7.85 लाख सब्सक्राइबर EPF से बाहर हो गए थे, लेकिन दोबारा नौकरी मिलने या बदलने के कारण फिर से EPF के सदस्य बन गए हैं।

महिलाओं की हिस्सेदारी 21.38% रही
कुल सब्सक्राइबर्स में महिलाओं की संख्या 3.65 लाख है, यानी मार्च 2022 के मुकाबले 17,187 संख्या ज्यादा है। कुल पेरोल में महिला सब्सक्राइबर्स की हिस्सेदारी 21.38% है।

2021-22 में 1.22 करोड़ सदस्य जुड़े
वित्त वर्ष 2021-22 में EPFO से 1.22 करोड़ सदस्य जुड़े। यह संख्या 2020-21 में 77.08 लाख, 2019-20 में 78.58 लाख और 2018-19 में 61.12 लाख थी।

बेरोजगारी दर भी गिरी
CMIE के आंकड़ों के मुताबिक मई 2022 में देश की बेरोजगारी दर 7.1% रही। इससे पहले अप्रैल में ये 7.83% पर थी। देश में सबसे कम बेरोजगारी दर 0.7% छत्तीसगढ़ में रही। दूसरे नंबर पर 1.6% के साथ मध्यप्रदेश रहा। जिसके बाद कम बेरोज़गारी वाले राज्यों में गुजरात में 2.1%, ओडिशा में 2.6%, उत्तराखंड में 2.9%, तमिलनाडु में 3.1%, उत्तर प्रदेश में 3.1%, महाराष्ट्र में 4.1%, मेघालय में 4.1%, कर्नाटक में 4.3%, आंध्रप्रदेश में 4.4%, पुडुचेरी में 5.6% , केरल में 5.8% शामिल हैं।

सबसे ज्यादा बेरोजगारी हरियाणा में
सबसे अधिक बेरोजगारी दर हरियाणा में 24.6% रही। जिसके बाद राजस्थान में 22.2%, जम्मू और कश्मीर में 18.3%, त्रिपुरा में 17.4%, दिल्ली में 13.6%, गोवा में 13.4%, बिहार में 13.3%, झारखंड में 13.1%, हिमाचल प्रदेश में 9.6%, तेलंगाना में 9.4%, पंजाब में 9.2%, असम में 8.2% और सिक्किम में 7.5% बेरोजगारी दर है।