--Advertisement--

फोर्टिस / सीईओ भवदीप सिंह ने दिया पद से इस्तीफा, नई नियुक्ति तक जिम्मा संभालेंगे



Fortis: CEO Bhavdeep Singh quits
X
Fortis: CEO Bhavdeep Singh quits

  • फोर्टिस के पूर्व प्रमोटर भाइयों शिविंदर-मलविंदर पर 500 करोड़ रुपए के हेर-फेर का आरोप
  • सेबी ने शुरुआती जांच में इन्हें बिना मंजूरी फंड डायवर्ट करने का दोषी पाया था

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2018, 09:54 PM IST

नई दिल्ली. फोर्टिस हेल्थकेयर के सीईओ भवदीप सिंह ने गुरुवार को पद से इस्तीफा दे दिया। हालांकि, अगला सीईओ नियुक्त होने पर वे अपना काम जारी रखेंगे। फोर्टिस प्रबंधन ने कहा कि भवदीप ने इस्तीफे की पेशकश की थी और इसे मंजूर कर लिया गया।

साढ़े तीन साल तक संभाली जिम्मेदारी

  1. अस्पताल ने कहा- फोर्टिस बोर्ड ने भवदीप से अगला सीईओ चुने जाने तक पद पर बने रहने को कहा था, जिसे उन्होंने मंजूर कर लिया। 

  2. कंपनी ने कहा- भवदीप पिछले साढ़े तीन साल से इस पद पर थे। कंपनी ने विवादों के दौरान किए गए उनके काम की सराहना की। 

  3. फोर्टिस 22 साल पुरानी कंपनी

    शिविंदर सिंह (43) और मलविंदर सिंह (45) ने 1996 में फोर्टिस हेल्थकेयर की शुरुआत की थी। 2001 में मोहाली में इसने पहला अस्पताल शुरू किया। इसके बाद तेजी से विस्तार किया। 

  4. फिलहाल 10,000 बेड की क्षमता और 314 डायग्नोस्टिक सेंटर्स के साथ फोर्टिस 45 शहरों में अपनी सुविधा दे रहा है। भारत के साथ ही दुबई, मॉरिशस और श्रीलंका में भी इसका नेटवर्क है।

  5. फरवरी में दोनों भाइयों में विवाद हुआ

    इस साल की शुरुआत में शिविंदर और मलविंदर सिंह पर आरोप लगा कि उन्होंने कंपनी बोर्ड के अप्रूवल के बिना 500 करोड़ रुपए निकाल लिए। 

  6. फरवरी 2018 तक मलविंदर फोर्टिस के एग्जीक्यूटिव चेयरमैन और शिविंदर नॉन-एग्जीक्यूटिव वाइस चेयरमैन थे।

  7. सितंबर में शिविंदर ने मलविंदर के खिलाफ नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) में याचिका दाखिल की थी और मलविंदर पर फोर्टिस को डुबोने का आरोप लगाया। 

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..