पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • From August, There Will Be A Charge For Withdrawing And Depositing Money From ATM, Know What Will Happen And Change?

ICICI बैंक के ग्राहकों के लिए खबर:अगस्त से ATM, चेक और कैश लेन-देन के बदलेंगे नियम, दूसरे बैंक के ATM से 3 बार से ज्यादा ट्रांजैक्शन पर लगेगा 20 रुपए तक का चार्ज

मुंबई3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश में निजी सेक्टर के लीडिंग बैंक ICICI बैंक अगले महीने से पैसा निकालने, जमा करने, चेक बुक के चार्ज सहित बड़े पैमाने पर नियमों में बदलाव किया है। अगर आप इस बैंक के ग्राहक हैं तो ये खबर आपके लिए है।

बैंक ने अपनी वेबसाइट पर इस तरह की पूरी जानकारी दी है। इसके मुताबिक, आप बैंक की ब्रांच में चेक से केवल 4 बार ही नकद लेन देन कर सकते हैं। यानी आप चाहें तो इतनी बार पैसा जमा करें या पैसा निकालें, यह फ्री होगा। उसके बाद आपको पैसा जमा करने या निकालने पर हर बार 150 रुपए का चार्ज देना होगा।

आपका खाता जिस ब्रांच में है या जिस ब्रांच में नहीं है, दोनों जगह से जो आप पैसे निकालेंगे या जमा करेंगे, उसकी वैल्यू उतनी ही होगी, जो बैंक का नियम है।

होम ब्रांच में नए चार्ज क्या होंगे?

होम ब्रांच में, मतलब जिस ब्रांच में आपने अपना खाता खोला है। इस ब्रांच से आप हर महीने बिना किसी चार्ज के 1 लाख रुपए एक अकाउंट से निकाल सकते हैं। इसके बाद आपको हर लेन-देन पर 150 रुपए कम से कम का चार्ज देना होगा। पहले यह सीमा 2 लाख रुपए की थी। हालांकि बैंक के नियम में यह है कि 1000 की निकासी पर 5 रुपए का चार्ज लगेगा, पर यह तब होगा जब आप 30 हजार से ज्यादा की रकम निकालेंगे।

दूसरी ब्रांच में क्या चार्ज लगेगा?

जिस ब्रांच में आपका खाता नहीं है, उस ब्रांच से 25 हजार रुपए तक आप बिना किसी चार्ज के लेन-देन कर सकते हैं। इसके बाद आपको एक ट्रांजेक्शन पर कम से कम 150 रुपए देने होंगे। हालांकि यहां भी बैंक ने 5 रुपए प्रति 1000 का नियम तो लगाया है, पर यह तब लागू होगा जब 30 हजार या उससे ज्यादा का लेनदेन होगा।

थर्ड पार्टी लेन-देन पर क्या नियम?

इसी तरह बैंक ने कहा है कि थर्ड पार्टी लेन-देन यानी किसी तीसरे व्यक्ति को आपने चेक दिया पैसा निकालने के लिए या जमा करने के लिए तो इसकी सीमा भी रोजाना की 25 हजार रुपए की है। इससे ज्यादा पर 150 रुपए का चार्ज लगेगा। हालांकि प्रति दिन में 25 हजार से ज्यादा की सीमा भी नहीं है। सीनियर सिटिजन या दूसरा कोई स्मार्ट स्टार अकाउंट है तो इस खाते पर चार्ज लागू नहीं होगा।

कैश लेन देन पर भी बैंक ने नियम बदला है
इसमें भी महीने में 4 बार ही फ्री कैश की निकासी या जमा करने का नियम है। इससे ज्यादा के लेन-देन पर 150 रुपए का चार्ज आपको हर ट्रांजैक्शन पर देना होगा।
जिस ब्रांच में आपका खाता है, उस ब्रांच में 1 लाख रुपए हर महीने फ्री में आप या तो जमा कर सकते हैं या निकाल सकते हैं। इसके बाद हर लेन देन पर आपको 150 रुपए का चार्ज लगेगा।
जिस ब्रांच में आपका खाता नहीं है, उस ब्रांच में 25 हजार प्रति दिन का ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। उसके बाद 150 रुपए का हर ट्रांजैक्शन पर चार्ज लगेगा।

थर्ड पार्टी कैश ट्रांजैक्शन के मामले में 25 हजार रुपए की हर दिन की सीमा है। इसके बाद 150 रुपए का चार्ज लगेगा।

बात एटीएम से लेन-देन की
एटीएम के जरिए आप 6 मेट्रो शहरों में महीने में 3 बार लेन-देन कर सकते हैं। इसके सिवा दूसरे शहरों में यह संख्या 5 बार फ्री है। इसके बाद आपको चार्ज देने होंगे। चार्ज के रूप में आपको मेट्रो शहरों में 20 रुपए और दूसरे शहरों में 8.50 रुपए हर ट्रांजैक्शन पर देने होंगे।

चेकबुक के पन्नों का नियम
पहले आपको साल में 20 पन्नों वाला चेकबुक फ्री मिलता था। अब इसे बढ़ाकर 25 कर दिया गया है। यानी आप साल में 25 पन्ने फ्री में ले सकते हैं। इसके बाद हर 10 पन्ने के लिए 20 रुपए आपको चार्ज देने होंगे।

इन सभी चार्ज के अलावा आपको जीएसटी भी देना होगा। यह बैंक का चार्ज है। चूंकि यह बैंक की कमाई है, इसलिए इस पर जीएसटी देना होगा।

बैंक के नियमों के मुताबिक 150 रुपए का कम से कम चार्ज तो आपको हर ट्रांजेक्शन पर देना होगा। हालांकि अगर ट्रांजेक्शन ज्यादा हो गए तो आपको हर 1000 पर 5 रुपए का चार्ज लगेगा। यह तब होगा जब 150 रुपए से ज्यादा का चार्ज होगा।

खबरें और भी हैं...